प्रेगनेंसी में शराब पीने के क्या नुकसान होते हैं? क्या थोड़ी मात्रा में भी एल्कोहल नहीं सुरक्षित

प्रेगनेंसी के दौरान एल्कोहल पीना नुकसानदायक माना जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि इससे क्या नुकसान हो सकते हैं?

Monika Agarwal
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 21, 2022Updated at: Aug 21, 2022
प्रेगनेंसी में शराब पीने के क्या नुकसान होते हैं? क्या थोड़ी मात्रा में भी एल्कोहल नहीं सुरक्षित

अगर आप एल्कोहल का सेवन करना पसंद करती हैं और आप प्रेगनेंट हैं, तो आपको यह जरूर जान लेना चाहिए कि प्रेगनेंसी के दौरान ड्रिंकिंग करना सुरक्षित है भी या नहीं। कई महिलाएं ये सोचती हैं कि वो प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में थोड़ा बहुत एल्कोहल पी सकती हैं, तो कुछ एल्कोहल पीना ही नहीं छोड़ पाती हैं। अब आपको यह तो पता ही है कि प्रेगनेंसी के दौरान आप जो कुछ भी खाते-पीते हैं, उसका सीधा असर आपके गर्भ में पल रहे बच्चे पर भी पड़ता है। इसलिए अगर आप प्रेगनेंट हैं, तो आपको अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस स्थिति में हर चीज से कोई न कोई रिस्क जुड़ा होता है इसलिए रिस्क लेने की कोशिश न करें। आइए जान लेते हैं कि शराब पीने से प्रेगनेंसी में क्या-क्या नुकसान देखने को मिल सकते हैं।

प्रेगनेंसी में थोड़ी मात्रा में एल्कोहल पीने के नुकसान

भले ही प्रेग्नेंसी के समय कम मात्रा में शराब का सेवन करती हों लेकिन इससे भी नुकसान हो सकते हैं। कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल की सीनियर कंसल्टेंट एंड ऑब्सट्रिशियन डॉक्टर रंजना बेकन के मुताबिक एल्कोहल गर्भवती महिला के पेट के साथ ही ब्लड में पहुंच जाता है, जिससे यह गर्भ में पल रहे भ्रूण के कुछ नाजुक अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है या गर्भस्थ शिशु के अंगों को पूरी तरह से विकसित होने में बाधा पैदा कर सकता है। ऐसा माना जाता है कि अगर आप शराब का सेवन कर रही हैं, तो आपके बच्चे को जन्मजात समस्याएं हो सकती हैं।

इसे भी पढ़ें- एल्कोहल पीने से महिला और पुरुष की फर्टिलिटी (बच्चे पैदा करने की क्षमता) पर क्या असर पड़ता है?

pregnancy alcohol

प्रेगनेंसी में ज्यादा शराब पीने से होने वाले नुकसान

अगर गर्भवती महिला इस दौरान हैवी ड्रिंकिंग करती है, तो इससे प्रेग्नेंसी से जुड़ी गंभीर दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। केवल इतना ही नहीं बल्कि महिला को कई बार फीटल एल्कोहल सिंड्रोम का सामना भी करना पड़ सकता है, जो सबसे ज्यादा खतरनाक स्थिति मानी जाती है। इस स्थिति में बच्चे का साइज सामान्य से कम हो सकता है और उसके अंग पूरी तरह विकसित नहीं हो पाते, जिससे बच्चे के शरीर में बहुत सी दिक्कतें देखने को मिल सकती हैं। कई स्थितियों में सेंट्रल नर्वस सिस्टम का भी कम विकास हो सकता है। बाद में बच्चे को इस सिंड्रोम के कारण देखने में समस्या हो सकती है या लर्निंग बिहेवियर से जुड़ी समस्याएं देखने को मिल सकती है। इसका मतलब है कि गर्भवती महिला जितना जल्दी शराब का सेवन करना बंद कर देगी उतना अच्छा ही बच्चे के लिए यह सफर रहेगा।

इसे भी पढ़ें- ब्रेस्टफीड (स्तनपान) कराने वाली महिलाओं को एल्कोहल पीना चाहिए या नहीं? जानें न्यूट्रीशनिस्ट से

प्रेगनेंट हैं यह पता चलने से पहले शराब पी लिया तो क्या खतरे हैं?

अगर आप कंसीव करना चाहती हैं और इसके लिए प्लान कर रही हैं, तो इस समय से ही आपको ड्रिंकिंग बंद कर देना चाहिए। शुरुआत में सेलिब्रेशन के लिए या फिर अनजाने में महिलाएं शराब का सेवन करना शुरू कर देती हैं। अगर अनजाने में ऐसा हुआ है, तो जब डॉक्टर के पास प्री नेटल विजिट के लिए जाती हैं, तो इसके बारे में जरूर बताएं और उनसे सलाह भी लें। अगर आप अनजाने में शराब का सेवन कर भी लेती हैं, तो इस बारे में ज्यादा स्ट्रेस भी न लें क्योंकि थोड़ी बहुत बार शराब का सेवन करने से बच्चे को या फिर आपको ज्यादा प्रभाव या हानि नहीं देखने को मिलती है।

जब भी आप कंसीव करने का ट्राई करती हैं या फिर आपको लग रहा है कि आप गर्भवती हैं, तो आपको शराब को अपनी लिस्ट से बिलकुल ही हटा देना चाहिए। ऐसा करने से आप खुद को आगे होने वाली बहुत सारी समस्याओं से बचा सकती हैं। इसके अलावा धूम्रपान से भी खुद को बचाना चाहिए।

Disclaimer