Doctor Verified

कोरोना वायरस इन 5 अंगों को पहुंचाता है सबसे ज्यादा नुकसान, ऐसे पहचानें शरीर में वायरस के लक्षण

कोव‍िड के कारण कई अंग प्रभाव‍ित होते हैं, जानते हैं क‍िन लक्षणों से होती है कोव‍िड की पहचान 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 06, 2022Updated at: Jun 06, 2022
कोरोना वायरस इन 5 अंगों को पहुंचाता है सबसे ज्यादा नुकसान, ऐसे पहचानें शरीर में वायरस के लक्षण

कोव‍िड के कारण कई अंगों पर बुरा असर पड़ता है। वायरस अंगों को तब परेशान करना शुरू करता है जब वो बॉडी में प्रवेश कर जाता है। ऐसे में अगर हमें लक्षणों का पता पहले से हो तो हम वायरस को बॉडी में फैलने से रोक सकते हैं। शुरूआत में डॉक्‍टर ऐसा मानते थे क‍ि कोव‍िड केवल लंग्‍स, हार्ट, क‍िडनी, डाइजेस्‍ट‍िव स‍िस्‍टम, ब्रेन आद‍ि अंगों को प्रभाव‍ित करता है पर आपको बता दें क‍ि इसका असर लंबे समय तक शरीर पर पड़ सकता है। इस लेख में हम जानेंगे ऐसे लक्षण जो बताते हैं आपके शरीर में मौजूद है कोरोना वायरस। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

corona symptoms

ये लक्षण नजर आएं तो तुरंत करवाएंं चेकअप (Covid symptoms in hindi)

  • अगर आपको चेस्‍ट में भारीपन महसूस हो तो तुरंत चेकअप करवाना चाह‍िए।
  • पसीना आ रहा हो या हाथ, गर्दन या जॉ एर‍िया में ड‍िसकंफर्ट महसूस हो रहा हो तो आपको चेकअप करवाना चाह‍िए।
  • सांस लेने में तकलीफ हो रही हो तो भी आपको चेकअप करवाना चाह‍िए।
  • कोरोना होने पर खांसी आना, चेस्‍ट में भारीपन महसूस हो सकता है। 
  • हार्ट बीट आ अन‍ियम‍ित होना, चेस्‍ट में टाइटनेस महसूस हो सकती है। 
  • स‍िर में दर्द की श‍िकायत, ध्‍यान लगाने में परेशानी आद‍ि लक्षण भी नजर आ सकते हैं। 
  • उल्‍टी आना, जी म‍िचलाने जैसे लक्षण भी कोवि‍ड में नजर आ सकते हैं।   

इसे भी पढ़ें- हाथ के ऊपरी हिस्से में ही क्यों लगती है कोरोना वैक्सीन? एक्सपर्ट से जानें जवाब 

1. फेफड़ों को कैसे प्रभाव‍ित करता है कोरोना वायरस?  (How covid affects lungs)

फेफड़ों पर भी कोव‍िड का गहरा असर पड़ता है। आपको खांसी, चेस्‍ट में भारीपन, सांस लेने में तकलीफ महसूस हो सकती है। कोरोना ह्यूमन बॉडी को कुछ यूं प्रभाव‍ित करता है क‍ि रेस्प‍िरेटरी ट्रैक्‍ट से लेकर शरीर के बाक‍ि अंगों तक कोव‍िड का असर पड़ता है। एक्‍सपर्ट के मुताब‍िक कोव‍िड के कारण लंग्‍स में मौजूद फ्लूड ड‍िस्‍टर्ब होता है और खांसी या भारीपन की समस्‍या हो सकती है।           

2. द‍िल पर क्‍या असर डालता है कोव‍िड? (How covid affects heart)

कोव‍िड के कारण चेस्‍ट में टाइटनेस, सांस लेने में परेशानी, हार्टबीट का अन‍ियम‍ित होना आद‍ि लक्षण नजर आ सकते हैं। कोव‍िड अगर आपके शरीर में मौजूद है तो हार्ट फेल‍ियर की समस्‍या हो सकती है। ज‍िन लोगों को पहले से ही हार्ट की समस्‍या है उनके ल‍िए कोव‍िड और बुरा साब‍ित हो सकता है। हार्ट की नसों पर कोरोना वायरस का बुरा प्रभाव पड़ता है इसल‍िए हार्ट मरीजों को खास सावधानी बरतनी चाह‍िए।     

3. द‍िमाग पर भी पड़ता है कोव‍िड का असर (How covid affects brain)

कोव‍िड का असर द‍िमाग पर भी पड़ता है। द‍िमाग पर असर पड़ने के कारण स‍िर में दर्द की श‍िकायत, ध्‍यान लगाने में परेशानी, ब‍िहेव‍ियर की श‍िकायत, स्‍मेल और टेस्‍ट चले जाना आद‍ि लक्षण नजर आ सकते हैं। कोव‍िड का असर आपके द‍िमाग पर कुछ यूं पड़ता है क‍ि कोव‍िड के रेस‍िप्‍टर सैल्‍स, ब्रेनस्‍टेम में पहुंच जाते हैं ज‍िसके कारण क्‍लॉट भी बन सकता है और स्‍ट्रोक की समस्‍या हो सकती है।    

4. डाइजेस्‍ट‍िव स‍िस्‍टम को कैसे प्रभावि‍त करता है कोव‍िड? (How covid affects digestive system)

कोरोना के कारण मरीजों को डाइजेशन से संबंध‍ित समस्‍याएं भी होती हैं। ओम‍िक्रॉन या उसके अन्‍य वैर‍िएंट का असर गट हेल्‍थ पर पड़ता है। अगर आपको जी म‍िचलाना, उल्‍टी आना, डायर‍िया, पेट में दर्द, हर्टबर्न की श‍िकायत या ब्‍लोट‍िंंग महसूस हो रही है तो चेकअप करवाएं ये कोव‍िड के लक्षण हो सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- स्टडी: कोरोना से ठीक हो चुके लोगों में 2 साल बाद भी दिख रहे लॉन्ग कोविड के लक्षण, रिपोर्ट में हुआ खुलासा        

5. किडनी पर भी असर डालता है कोरोना (How covid affects kidney)

कोव‍िड संक्रमण के कारण क‍िडनी पर भी बुरा असर पड़ता है।  कोरोना होने के कारण क‍िडनी पर पड़े प्रभाव के कारण आंखों के आसपास सूजन, पैरों में सूजन की समस्‍या, आंखों के आसपास सूजन होना, थकान, कोमा, दौरे आद‍ि पड़ सकते हैं। क‍िडनी में र‍िसेप्‍टर कोश‍िकाएं होते हैं जो शरीर में कोव‍िड के प्रवेश को सक्षम बनाती हैं।    

तो देखा आपने कोव‍िड क‍िस तरह अलग-अलग अंगों को प्रभाव‍ित करता है और क‍िन लक्षणों से कोवि‍ड का पता लगाया जा सकता है, अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण नजर आता है तो आपको तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करना चाह‍िए।   

Disclaimer