नाक का मांस बढ़ने (नेजल पॉलीप्स) पर अपनाएं ये टिप्स, सूजन और जलन से मिलेगी राहत

अगर आपके नाक की मांस बढ़ गई है तो आपको इसका विशेष ख्याल रखने की जरूरत होती है। जानें कौन सी सावधानियां बरतकर आप अपनी परेशानी कम कर सकते हैं।

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Jun 28, 2022Updated at: Jun 28, 2022
नाक का मांस बढ़ने (नेजल पॉलीप्स) पर अपनाएं ये टिप्स, सूजन और जलन से मिलेगी राहत

नेजल पॉलीप्स साइनस और नाक के मार्ग में असामान्य ऊतकों की वृद्धि को कहते हैं, जो चेहरे की हड्डियों के अंदर पाए जाते हैं। दरअसल साइनस आपके नाक के दोनों ओर एवं आपके गाल, आंखों और माथे के पीछे होते हैं। नेजल पॉलीप्स अक्सर संक्रमण, एलर्जी, कमजोर इम्यून सिस्टम, अस्थमा और अन्य कारणों से हो सकता है। इसके कारण आपको सांस लेने में परेशानी, सूंघने की क्षमता में कमी, नाक बहना और संक्रमण जैसी परेशानियां हो सकती  हैं। इसके लिए आपको डॉक्टर से सलाह और दवाईयां तो लेनी ही चाहिए। साथ ही आपको अपने स्तर भी कुछ प्रयास करना चाहिए ताकि आप दर्द से छुटकारा पा  सकें। 

नेजल पॉलीप्स की समस्या में अपनाएं ये उपाय

1. नाक धोने का प्रयास करें

नेजल पॉलीप्स की समस्या होने पर कई बार दर्द या जलन इतनी ज्यादा होती है कि आप नाक की अंदर से सफाई नहीं कर पाते हैं। लेकिन आपको नाक की अंदरूनी सफाई का प्रयास जरूर करना चाहिए। नाक को धोने से अन्य एलर्जी के फैलने की संभावना कम रहती है। दरअसल नाक की एलर्जी के कारण आपकी नेजल पॉलीप्स की समस्या और बढ़ सकती है। नेट पॉड्स की मदद से आप नाक धो सकते हैं। इसमें आप अपने नाक की एक ओर से खारा पानी डालते हैं और फिर उसे नाक की दूसरी ओर से निकालते हैं। इससे नाक में एलर्जी और संक्रमण की दिक्कत होने की संभावना कम हो जाती है। 

nose-problem

2. ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें

नेजल पॉलीप्स और लगातार जलन का एक अन्य कारण कम ह्यूमिडिटी भी हो सकती है। ह्यूमिडिटी कम होने के कारण नेजल पॉलीप्स की समस्या ट्रिगर हो सकती है और कुछ लोगों को तो इससे खांसी की समस्या हो सकती है। इससे बचने के लिए जहां संभव हो, वहां ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें। इससे साइनस की समस्या और नाक बंद जैसी परेशानियों को दूर करने में मदद मिल सकती है। 

3. स्टीम लेना 

स्टीम लेने से आपकी साइनस की समस्या में काफी राहत मिलती है। गर्म भाप लेने से नाक के मार्ग में आ रही  रुकावट दूर होती है और नाक के प्रवाह को बेहतर बनाती है। इससे नाक की सूजन, जलन और बंद नाक को ठीक करने में मदद मिलती है। इसे आप दिन में दो बार कर सकते हैं। इसे आप 5 मिनट के लिए ही करें। 

4. खाने में गरम मसालों का इस्तेमाल करें

मसालेदार भोजन करने से आपके शरीर का तापमान बढ़ सकता है और बहती नाक की दिक्कत कम हो सकती है। दरअसल मसालेदार खाना आपके नाक बहना को ट्रिगर कर सकता है। इसके लिए आप अपने खाद्य पदार्थ में अधिक हरी मिर्च का इस्तेमाल करें। 

इसे भी पढे़ं- साइनस (साइनोसाइटिस) की बीमारी से जुड़े 6 मिथक और उनकी सच्चाई जानें डॉक्टर से

5. हल्दी को अपने आहार में शामिल करें

हल्दी को अपने आहार में शामिल करना आपके लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकता है। इससे नेजल पॉलीप्स की परेशानी में भी आराम मिलता है। हल्दी के एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो नाक की सूजन और बेचैनी को कम कर सकता है। इसे आप अपने खाने या गर्म दूध के साथ मिलाकर पी सकते हैं।

nose-problem 

6. डस्ट से दूर रहें

धूल के कारण भी नेजल पॉलीप्स की दिक्कत को बढ़ा सकता है। अगर आपको धूल से एलर्जी है, तो आपके लिए ये और परेशानी भरा हो सकता है। इसलिए धूल के संपर्क में आने से बचने के लिए हमेशा अपने आसपास के वातावरण को साफ रखें और बाहर निकलने से पहले हमेशा अपनी नाक और चेहरे को मास्क या कपड़े से जरूर कवर कर लें। 

इसके अलावा आपको अपने आहार में इम्यून सिस्टम मजबूत करने वाले खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए। साथ ही उन चीजों से दूरी बनानी चाहिए, जिससे ये परेशानी ट्रिगर हो सकती है। 

(All Image Credit- Freepik.com)

Disclaimer