क्या नॉन-एल्कोहॉलिक बीयर पीना सुरक्षित होता है? डायटीशियन से जानें इसके फायदे और नुकसान

नॉन-एल्काेहॉलिक बियर स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हाेने के साथ ही नुकसानदायक भी हाेती है। जानें इसके फायदे-नुकसान

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Oct 08, 2021
क्या नॉन-एल्कोहॉलिक बीयर पीना सुरक्षित होता है? डायटीशियन से जानें इसके फायदे और नुकसान

शराब और एल्काेहॉलिक बियर हमारे शरीर काे नुकसान पहुंचाता है। अगर आप इनका सेवन करते हैं, ताे आज ही बंद कर दें। आप चाहें ताे इनकी जगह पर नॉन-एल्काेहॉलिक बियर का सेवन कर सकते हैं। इससे सेहत काे गंभीर नुकसान नहीं हाेता है, बल्कि इसे पीने से तनाव और अनिद्रा की समस्या दूर हाेती है। साथ ही इसके सेवन से हृदय राेगाें से भी बचा जा सकता है।

nonalcoholic beer benefits

दरअसल, शराब और एल्काेहॉलिक बियर में एल्काेहल की अधिक मात्रा मिलाई जाती है, जबकि नॉन-एल्काेहॉलिक बियर में एल्काेहल की मात्रा न के बराबर ही हाेती है। इसमें एल्काेहल नहीं हाेता है, इसलिए इसे नॉन-एल्काेहॉलिक कहा जाता है। डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से जानें इसके फायदे और नुकसान-

1. तनाव दूर करे नॉन-एल्काेहॉलिक बियर 

आजकल अधिकतर लाेग अलग-अलग तरह के तनाव, स्ट्रेस से जूझ रहे हैं। ऐसे में कई लाेग एल्काेहॉल का सेवन करना शुरू कर देते हैं। उन्हें लगता है कि शराब तनाव काे कम करता है, जबकि ऐसा नहीं है। इसके बजाय अगर तनाव काे कम करने के लिए नॉन-एल्काेहॉलिक बियर का सेवन किया जाए, ताे फायदेमंद माना जाता है। तनाव काे दूर करने के लिए नॉन-एल्काेहॉलिक बियर पीना एक बेहतर विकल्प है। इससे आपकाे नशा भी नहीं हाेता और इसकी आदत भी नहीं पड़ती है। 

इसे भी पढ़ें - एक्सरसाइज के बाद पानी या जूस नहीं बल्कि पिएं ठंडी बीयर, जानें वर्कआउट के बाद बीयर पीने के फायदे

2. अनिद्रा की समस्या दूर करे नॉन-एल्काेहॉलिक बियर 

अधिकतर लाेग जब तनाव, स्ट्रेस या टेंशन में हाेते हैं, ताे वे नींद न आने की समस्या से परेशान रहते हैं। जिसे अनिद्रा (अनिद्रा के लक्षण और बचाव टिप्स) कहा जाता है। इस स्थिति में अधिकतर लाेग शराब, बियर का सेवन करना शुरू कर देते हैं। जाे स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हाेता है। ऐसे में अगर आप अपनी अनिद्रा की समस्या काे दूर करने के लिए नॉन-एल्काेहॉलिक बियर का सेवन कर सकते हैं। इसे पीने से आपकाे सुकूनदायक नींद आएगी और धीरे-धीरे तनाव भी कम हाेगा। 

3. कैलाेरी में कम नॉन-एल्काेहॉलिक बियर 

नॉन-एल्काेहॉलिक बियर में शराब न के बराबर हाेता है, इसलिए इसमें कैलाेरी भी बहुत कम हाेती है। अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, ताे इस स्थिति में यह आपके लिए फायदेमंद हाे सकता है। इसे पीने से आपका वजन कंट्राेल में रहता है। 

non

4. दिल के लिए लाभकारी नॉन-एल्काेहॉलिक बियर

आजकल हर उम्र के लाेगाें में हृदय राेग (युवा महिलाओं में हार्ट अटैक के कारण) देखने काे मिल रहे हैं। हृदय राेगियाें में लगातार इजाफा हाे रहा है। ऐसे में अच्छी डाइट लेना बहुत जरूरी है। दिल काे स्वस्थ या दुरुस्त बनाने के लिए आप नॉन-एल्काेहॉलिक बियर का भी सेवन कर सकते हैं। इसमें एथेनॉल नामक तत्व हाेता है, जाे दिल की बीमारियाें काे दूर रखता है। साथ ही इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन बी6 भी हाेता है, जाे हृदय काे स्वस्थ रखता है।

इसे भी पढ़ें - पैरों के दर्द से निजात पाएं, बियर पेडिक्यार कराएं

5. शराब की आदत छाेड़ने में मदद करेगा नॉन एल्काेहॉलिक बियर 

नॉन एल्काेहॉलिक बियर में कैलारी काफी कम हाेती है। वही कार्बाेहाइड्रेट और चीनी अधिक हाेती है। यह आपके शराब के लंबे समय तक उपयोग को कम करने में मदद करेगा। यानी इसे पीने से शराब पीने की इच्छा कम हाेगी। वैसे भी शराब का सेवन करना निश्चित रूप से आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है।

नॉन-एल्काेहॉलिक बियर के नुकसान 

कहते हैं न कि अति हर चीज की बुरी हाेती है। फिर चाहे वह कितनी ही अच्छी चीज क्याें न हाे। ऐसे ही नॉन-एल्काेहॉलिक बियर के साथ भी हाेता है। भले ही हमारे स्वास्थ्य काे नुकसान की जगह फायदे पहुंचाता है, लेकिन अगर असीमित मात्रा में इसका सेवन किया जाता है, ताे यह भी नुकसानदायक हाे सकती है।

  • नॉन-एल्काेहॉलिक बियर में भी थाेड़ा सा एल्काेहल हाेता है, ऐसे में अगर अधिक मात्रा में इसका सेवन किया जाए ताे इससे नुकसान हाे सकता है।
  • गर्भवती महिलाओं काे इसका सेवन करने से बचना चाहिए।
  • नॉन-एल्काेहॉलिक बियर का स्वाद, रंगरूप और सुगंध व्यक्ति काे इसका आदि बना सकता है।
  • अगर आप लिवर, किडनी, हृदय, उच्च रक्तचाप और डायबिटीज जैसी किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, ताे डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें।

अगर आप भी नॉन-एल्काेहॉलिक बियर के फायदे लेना चाहते हैं, ताे सीमित मात्रा में इसका सेवन कर सकते हैं। लेकिन अगर आप किसी गंभीर स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं, ताे डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें। साथ ही अत्याधिक मात्रा में भी इसके सेवन से बचें। अधिक मात्रा में नॉन-एल्काेहॉलिक बियर पीने से भी शरीर काे नुकसान हाे सकता है। कुछ लाेगाें काे यह बहुत जल्दी ट्रिगर कर सकता है, ताे कुछ लाेग इसकी अधिक मात्रा ले सकते हैं। ऐसे में आपकाे अपने शरीर के अनुसार इसका सेवन करना चाहिए।

Disclaimer