Makeup Tips: मेकअप की मदद से बेदाग त्वचा पाना है तो जानें कंसीलर का कमाल, ट्राई करें कंसीलर के ये 4 प्रकार

प्राइमर, फाउंडेशन और कंसीलर के बीच इन्हें इस्तेमाल करने का एक क्रम और प्रक्रिया है, जिसे ध्यान में रखने से आपकी सुंदरता में चार चांद लग सकती है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jul 30, 2020
Makeup Tips: मेकअप की मदद से बेदाग त्वचा पाना है तो जानें कंसीलर का कमाल, ट्राई करें कंसीलर के ये 4 प्रकार

मेकअप में कंसीलर की एक प्रमूख भूमिका होती है। ये विशेषकर उन लोगों के लिए तो बेहद ही जरूरी होता है, जिनके चेहरे पर बहुत ज्यादा पिंपल्स और दाग-धब्बे होते हैं। ऐसे लोगों के आप समझिए कि कंसीलर मेकअप का बेस ही है या कहिए कि इसका फांफडेशन। ऐसा इसलिए क्योंकि कंसीलर से दाग-धब्बों को आसानी से छिपाया जा सकता है और मेकअप करके आपके चेहरे को चमकाया जा सकता है। ज्यादातर लोगों को कंसीलर के इस्तेमाल के बारे में पता होता है, पर ये नहीं जानते कि कंसीलर कितने प्रकारों के होते हैं। दरअसल चेहरे के अलग-अलग प्रकारों के हिसाब से अलग-अलग तरीके के कंसीलर होते हैं। 

insideusingconcealer

आज हम आपको कंसीलर के 4 प्रकारों के बारे में बताएंगे, जिसका इस्तेमाल आप अपने अलग-अलग स्किन टोन के हिसाब से कर सकते हैं। साथ ही हम ये भी जानेंगे कि इन कंसीलर को इस्तेमाल करने का सही तरीका क्या है। तो आइए जानते हैं इनके बारे में विस्तार से।

1. लिक्विड कंसीलर (Liquid concealer)

लिक्विड कंसीलर सबसे आम है और ज्यादातर लोग इसी का इस्तेमाल करते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ये सबसे आम और सस्ते प्रकारों में से एक है। तरल या लिक्विड फॉर्म का कंसीलर तैलीय और सामान्य त्वचा के प्रकारों के लिए सबसे अच्छा काम करता है। यह एक मैट फिनिश है, यही कारण है कि सूखी त्वचा वाले लोगों को इसका उपयोग करने से बचना चाहिए। हालांकि, अगर आप डार्क सर्कल्स से बहुत परेशान हैं, तो ये आपकी आंखों के मेकअप करने में आपकी मदद कर सकता है।

इसे भी पढ़ें : Men's Fashion: पतले और स्लिम दिखने के लिए लड़के जरूर ट्राई करें ये 5 फैशन टिप्स, दिखेंगे स्टाइलिश

2. क्रीम कंसीलर (Cream concealer)

क्रीम कंसीलर गाढ़ा होता है, और ये पूरे मुंह पर एक बेहतरीन कवरेज दे सकता है। आमतौर पर एक फ्लैट कंसीलर ब्रश के साथ छोटे कंटेनर्स में उपलब्ध है, जैसे कि कोई आम क्रीम। यह सामान्य से शुष्क त्वचा के प्रकार के लिए सबसे अच्छा काम करता है। इसे लगाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपनी उंगलियों पर इसे निकालें और डार्क सर्कल्स के पास, एक्ने के दागों और पिंपल्स पर इसे लगाएं। अब उंगलियों या ब्रश का इस्तेमाल करके इसे और अच्छे तरीके से मिलाते हुए चेहरे पर लगाएं। ध्यान रखें कि इस प्रकार का कंसीलर बहुत कम लग सकता है, इसलिए इसके इस्तेमाल के बाद इसे सेटिंग या कॉम्पैक्ट पाउडर के साथ इसे सेट किया जा सकता है।

insidetypesofconcealer

3. स्टिक कंसीलर (Stick concealer)

इस तरह का कंसीलर खुद पर इस्तेमाल करने के लिए आसान होता है। अगर आप कहीं जल्दी में जा रहे हों या एक दम से आपको मेकअप करने की जरूरत हो तो ये आपके बैग में होने पर बहुत काम का साबित हो सकता है। ये पिंपल्स की रेडनेस तक को ढंकने के लिए बहुत अच्छा है क्योंकि यह बहुत कलरफूल होता है और क्रीमी लेयरिंग देता है। इसे मिश्रित करने का सबसे अच्छा तरीका मुलायम ब्लेंडर या ब्रश का उपयोग करना। ड्राई स्किन वालों के लिए तो यह आपके लिए एकदम सही कंसीलर है। हालांकि, ऑयली फेस वाले इसे लगा सकते हैं। पर ये ज्यादा फायदेमंद नहीं है।

इसे भी पढ़ें : चेहरे और बाल दोनों के लिए फायदेमंद है विटामिन-ई, जानें अपने ग्रूमिंग रूटीन में इसे कैसे करें शामिल

4. बाम कंसीलर (Balm concealer)

बाम कंसीलर में एक मोटी बनावट होती है और यह नारंगी, गुलाबी, लैवेंडर, पीले और हरे रंग के टोन से युक्त पाए जाते हैं। इसके के पैलेट में कई रंग आते हैं। ये हर तरह के चेहरे पर इस्तेमाल किाय जा सकता है। जिन लोगों के चेहरे बहुत ज्यादा डल होते हैं उनके लिए तो ये बहुत ही फायदेमंद होते हैं। वहीं प्रोफेशनल मेकअप में इसका बहुत इस्तेमाल होता है। इन कंसीलरों की एक लंबी ब्रैंड लिस्ट है, आपको जो सही लेगे ले लें।

कंसीलर का इस्तेमाल आपकी खूबसूरती बढ़ा सकता है। पर लगाने के साथ इसे रिमूव करना भी याद रखें। इसलिए हर बार सोने जाने से पहले मेकअप साफ करना न भूलें। नहीं तो ये कंसीलर आपके चेहरे की एक्ने बढ़ा सकते हैं और स्किन पोर्स को बंद करने का बड़ा कारण बन सकते हैं। 

Read more articles on Fashion-Beauty in Hindi

Disclaimer