क्या सोने से पहले लगातार म्यूजिक सुनने से नींद पर पड़ता है बुरा असर? जानें डॉक्टर की राय

अमेरिका स्थित बेलर यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध के मुताबिक नींद के दौरान या उससे पहले लगातार म्यूजिक सुनने से नींद और उसके पैटर्न पर बुरा पड़ता है।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 17, 2021Updated at: Jun 17, 2021
क्या सोने से पहले लगातार म्यूजिक सुनने से नींद पर पड़ता है बुरा असर? जानें डॉक्टर की राय

आपमें से ऐसे बहुत से लोग होंगे जिन्हें सोने से पहले म्यूजिक सुनने की आदत जरूर होगी। तमाम लोगों में म्यूजिक सुनने की आदत एक लत बन गयी है और ऐसे लोग किसी भी काम को करते समय म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं। अक्सर लोग अच्छी नींद के लिए सोने से पहले तमाम तरह के संगीत या म्यूजिक को सुनना पसंद करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि सोने से पहले लगातार म्यूजिक सुनने से आपकी नींद पर बुरा असर पड़ सकता है? आप इस बात को सुनकर थोड़ा असहज भी हो सकते हैं लेकिन इस विषय पर हाल ही में हुए एक अध्ययन में ये बाते कही गयी हैं। इस स्टडी के मुताबिक रात में सोने से पहले गाने या म्यूजिक सुनने की वजह से आपके नींद के पैटर्न पर बुरा असर पड़ सकता है। इसके अलावा ऐसा करने से आपके दिमाग में सोते समय भी गाने चलते रहते हैं। इस वजह से आपके मानसिक स्वास्थ्य पर भी असर पड़ सकता है।

अमेरिका की बेलर यूनिवर्सिटी में हुआ रिसर्च (Baylor University of America Conducted the Research)

Music-at-Bedtime-can-cause-Sleep-Related-Problems

सोने से पहले या सोने के समय म्यूजिक सुनने की वजह से नींद और दिमाग पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में अमेरिका के बेलर यूनिवर्सिटी में अध्ययन किया गया। इस अध्ययन के मुताबिक सोते समय या सोने से पहले संगीत सुनना नींद के लिए अच्छा नहीं माना गया है। बेलर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता माइकल स्कलिन, पीएच.डी., मनोविज्ञान और तंत्रिका विज्ञान ने इस विषय पर अध्ययन किया। प्रोफेसर माइकल स्कलिन के मुताबिक इस अध्ययन का आईडिया उन्हें सोते वक्त ऐसा महसूस होने पर आया। उन्होंने इस रिसर्च के आदर पर कहा कि नींद के दौरान या उससे पहले अगर आप म्यूजिक सुनते हैं तो कई बार ऐसा होता है कि अटके हुए गाने आपके दिमाग में चलने लगते हैं और ऐसे में आपकी नींद भी प्रभावित हो सकती है। इसकी वजह से आपका नींद का पैटर्न भी बदल सकता है।

इसे भी पढ़ें: आपको भी है कोई मानसिक समस्या तो अपने साथ 'मेंटल हेल्थ फर्स्ट ऐड किट' में जरूर रखें ये 6 चीजें

सोते समय म्यूजिक सुनने से इस तरह नींद पर पड़ता है असर (How Listening to Music at Bedtime Can Cause Sleep Related Problem?)

Music-at-Bedtime-can-cause-Sleep-Related-Problems

साइकोलॉजिकल साइंस में प्रकाशित इस अध्ययन के रिपोर्ट के मुताबिक अनैच्छिक संगीत इमेजरी, या "ईयरवर्म" (जब कोई गीत या धुन किसी व्यक्ति के दिमाग में बार-बार बजती है) इंसान की नींद प्रभावित कर सकता है। इसकी वजह से मस्तिष्क की तंत्रिका तंत्र पर भी प्रभाव पड़ता है। शोधकर्ता प्रोफेसर माइकल स्कलिन ने बताया कि हर किसी को अपनी-अपनी पसंद का म्यूजिक सुनना अच्छा लगता है। लेकिन अगर आप सोते वक्त या सोने से पहले लगातार संगीत सुनते हैं तो ऐसे में संगीत इमेजरी या ईयरवर्म आपके दिमाग में गूंजने लगते हैं। अगर आप सोते समय म्यूजिक सुनते हैं तो सोने के बाद ही ये म्यूजिक आपके दिमाग में गूंज सकती है। और इसकी वजह से आपकी नींद और नींद का पैटर्न बुरी तरह से प्रभावित हो सकता है। स्टडी के मुताबिक जो लोग नियमित रूप से रात में सोने से पहले संगीत सुनते हैं उन लोगों की नींद बाकी लोगों की तुलना में अधिक खराब हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें: आपके घर के सामान, चीजों के रखरखाव और माहौल का असर आपके मानसिक स्वास्थ्य पर कैसे पड़ता है?

इस स्टडी में 209 लोगों को शामिल किया गया था, जिन पर नींद की गुणवत्ता, संगीत सुनने की आदतों और ईयरवर्म आदि को लेकर शोध किए गए। शोध में यह देखा गया कि इस दौरान सोते समय या सोने से पहले लगातार म्यूजिक सुनने की वजह से सोते समय या रात में लोगों को कितनी बार ईयरवर्म का अनुभव हुआ। इसके अलावा इस रिसर्च में ईईजी रीडिंग (मस्तिष्क में विद्युत गतिविधि के रिकॉर्ड) का भी अध्ययन किया गया। 

क्या है एक्सपर्ट डॉक्टर की राय (Expert Openion on Listening Music at Bedtime)

Music-at-Bedtime-can-cause-Sleep-Related-Problems

सोने से पहले या सोते समय म्यूजिक सुनने की वजह से नींद पर होने वाले प्रभाव को लेकर जब हमने दिल्ली के बत्रा हॉस्पिटल में कार्यरत मनोचिकित्सक डॉ धर्मेंद्र सिंह से बातचीत की तो उन्होंने बताया इसका प्रभाव अलग-अलग लोगों पर अलग हो सकता है। उहोनें कहा कि अगर आप लगातार सोते समय या सोने से पहले म्यूजिक सुनते हैं तो यह आगे चलकर लत का रूप भी धारण कर सकती है। ऐसे में नींद से जुड़ी समस्या पैदा होना लाजिमी है। उन्होनें बताया कि जो लोग सामान्य गाने या संगीत सुनते हैं और जो लोग इंस्ट्रुमेंटल संगीत सुनते हैं उनपर इसका अलग-अलग असर होता है। इंस्ट्रूमेंटल म्यूजिक का असर ज्यादा खराब माना जाता है।

इसे भी पढ़ें: क्या आपको भी होते हैं मूड स्विंग्स? जानें किस तरह के मूड में क्या खाने से फील होगा अच्छा

तो इस प्रकार आप समझ सकते हैं कि सोते समय या सोने से पहले लगातार म्यूजिक सुनने की आदत की वजह से नींद और उसके पैटर्न पर क्या असर पड़ता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक इसकी वजह से सिर्फ नींद ही नही मस्तिष्क के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर हो सकता है। जो लोग सामान्य रूप से अच्छी नींद ले सकते है उन्हें नींद से पहले या उसके दौरान म्यूजिक सुनने की आदत से बचना चाहिए।

Read More Article On Mind & Body in Hindi

Disclaimer