महिलाओं के पैर में दर्द क्यों होता है? जानें इसके लक्षण और कारण

Legs Pain in Female: महिलाओं को कई वजहों से पैरों में दर्द महसूस हो सकता है। जानें इसके लक्षण और कारण-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 25, 2022Updated at: May 25, 2022
महिलाओं के पैर में दर्द क्यों होता है? जानें इसके लक्षण और कारण

Legs Pain in Female: महिलाओं को अकसर ही कमर, पैरों में दर्द की शिकायत बनी रहती है। आज हम बात करेंगे महिलाओं के पैरों में दर्द के कारणों के बारे में। वैसे तो ये समस्याएं बढ़ती उम्र में अधिक देखने को मिलती है, लेकिन कई मामलों में कम उम्र की महिलाओं को भी पैरों में दर्द महसूस हो सकता है। पैरों में दर्द थोड़े समय या लंबे समय के लिए हो सकता है। पैरों में दर्द होने का मुख्य कारण खराब लाइफस्टाइल, पोश्चर माना जाता है। इसके अलावा कई दूसरे कारणों से भी महिलाओं को पैरों में दर्द का अहसास हो सकता है।

तो चलिए विस्तार से जानते हैं महिलाओं के पैरों में दर्द किन-किन कारणों से होता है।

महिलाओं के पैरों में दर्द के लक्षण (Legs Pain Symptoms in Women)

  • पैरों में अचानक दर्द महसूस होना
  • पैरों में भारीपन
  • थकान और कमजोरी
  • चलने में दिक्कत
  • खड़े होने में परेशानी
  • पैर में सूजन होना
  • मांसपेशियों में खिंचाव

महिलाओं के पैर में दर्द क्यों होता है? (Leg Pain in Female)

शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर महिलाओं को पैरों में दर्द हो सकता है। इसके अलावा कई बार गठिया, मोटापे और स्लिप डिस्क की वजह से भी महिलाओं को पैरों में दर्द हो सकता है। हड्डी में इंफेक्शन होने पर भी पैर दर्द हो सकता है। जानें महिलाओं के पैरों में दर्द होने के कारण-

1. विटामिन डी की कमी

महिलाओं के पैरों में दर्द होने का मुख्य कारण शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो सकता है। खासकर जब शरीर में विटामिन डी की कमी होती है, तो पैरों में दर्द हो सकता है। विटामिन डी की कमी होने पर पैरों की मांसपेशियों में दर्द हो सकता है। अगर आपके पैरों में दर्द रहता है, तो अपनी डाइट में विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करना शुरू कर दें। 

2. हाई हील्स

आजकल महिलाएं हाई हील्स पहनना पसंद करती हैं। इसके बाद उन्हें पैरों में दर्द हो सकता है। यानी हाई हील्स महिलाओं के पैरों में दर्द का कारण बन सकता है। इसके अलावा गलत साइज के जूते या चप्पल पहनने से भी पैरों में दर्द हो सकता है। अगर आपको पैरों में अकसर ही दर्द रहता है, तो आप हील्स के बजाय आरामदायक जूते या चप्पल पहन सकती हैं।

3. गठिया

गठिया पुरुषों और महिलाओं दोनों को परेशान करने वाला रोग होता है। इस स्थिति में जोड़ों में दर्द होता है। साथ ही शरीर में सूजन भी आ सकती है। महिलाओं में गठिया की वजह से भी पैरों में दर्द हो सकता है। गठिया में पैरों में दर्द, अकड़न और खिंचाव महसूस हो सकता है।

4. मोटापा

मोटापा कई बीमारियों का कारण बनता है। मोटापे की वजह से पैरों में भी दर्द महसूस हो सकता है। दरअसल, चलते हुए शरीर का पूरा भार पैरों पर ही पड़ता है। इससे महिलाओं को घुटनों और पैरों में दर्द हो सकता है। ऐसे में आपको अपना वजन कंट्रोल में रखने की कोशिश करनी चाहिए।

5. इंफेक्शन

कई बार हड्डी या किसी टिश्यू में इंफेक्शन की वजह से भी पैरों में दर्द हो सकता है। इंफेक्शन की वजह से होने वाला दर्द सिर्फ प्रभावित स्थान पर ही होता है। यह अधिक दर्दनाक हो सकता है। इस स्थिति में पैरों में सूजन, रेडनेस भी आ सकती है। अगर आपको पैर के सिर्फ एक एरिया में दर्द हो रहा है, तो इस स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करें। 

इसे भी पढ़ें - पैर के तलवों की मालिश करने से मिलते हैं ये 5 फायदे, जानें आयुर्वेद के अनुसार कौन से तेल से करें मालिश

6. स्लिप डिस्क

स्लिप डिस्क महिलाओं में होने वाली एक सामान्य समस्या बन गई है। इस स्थिति में स्पाइन की डिस्क अपनी जगह से खिसक जाती है। यह डिस्क स्पाइनल कॉर्ड के नस की दबा देती है। इस वजह से पैरों में दर्द हो सकता है। स्लिप डिस्क की वजह से दर्द पीठ के निचले हिस्से से लेकर पैरों तक हो सकता है। कभी-कभी स्लिप डिस्क का दर्द गंभीर भी हो सकता है।

पैरों के दर्द को ठीक करने के उपाय (How to Get Rid from Leg Pain)

  • पैरों में दर्द होने पर आप कैस्टर ऑयल से पैरों की मालिश कर सकते हैं। इससे पैरों के दर्द, सूजन में काफी आराम मिलेगा। 
  • पैरों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप हल्दी और नारियल तेल को मिलाकर भी लगा सकते हैं। इससे पैरों की सूजन कम होगी। साथ ही दर्द में भी यह उपाय असरदार हो सकता है।
  • पैरों में दर्द होने पर नमक के पानी से सिकाई करना बहुत फायदेमंद होता है। इससे पैरों में दर्द से राहत मिलती है। सूजन कम होती है और तनाव कम होता है। इससे पैरों को रिलैक्स महसूस होता है।

अगर आपको भी पैरों में अकसर दर्द महसूस होता है, तो इसकी वजह जानने के लिए आपको डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए। पैरों के दर्द को कभी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्योंकि समय के साथ यह बढ़ता जाता है और गंभीर बन सकता है।

Disclaimer