इस क्रिसमस घर पर ही बनाएं 'नॉन-एल्कोहलिक केक', जानें बनाने की रेसिपी और इससे जुड़े स्वास्थ्य लाभ

पूरी दुनिया में आमतौर पर क्रिसमस केक बनाने के लिए ड्राई फ्रूट्स और नट्स को शराब (रम या वाइन) में हफ्तों से महीनों तक भिगोया जाता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Dec 17, 2019Updated at: Dec 14, 2020
इस क्रिसमस घर पर ही बनाएं 'नॉन-एल्कोहलिक केक', जानें बनाने की रेसिपी और इससे जुड़े स्वास्थ्य लाभ

दिसंबर आते ही पूरी दुनिया क्रिसमस की तैयारियों में लग जाती है। पर इस साल कोरोना वायरस के चलते लोगों को क्रिसमस अपने घरों में ही मनाना पड़ेगा। क्रिसमस में घरों की डेकोरेशन और केक का अपना ही महत्व है। सांता क्लॉस, क्रिसमस ट्री, हैपी बेल्स और ढ़ेर सारे गिफ्ट्स क्रिसमस पर घरों की डेकोरेशन में चार-चांद लगा देते हैं। वहीं क्रिसमस के दौरान लोगों को खाने-पीने पर खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। ऐसा इसलिए कि त्योहारों में दोस्तों के घर जाना और रिश्तेदारों से मिलना आपके डाइट को बिगाड़ सकता है। क्रिसमस पर विभिन्न प्रकार के व्यंजन जैसे केक, पेस्ट्री और पुडिग्ंस और कई प्रकार स्नैक्स लोगों के वजन बढ़ा सकते हैं। ऐसे में सबसे ज्यादा ख्याल हमें  क्रिसमस केक के मेन्यू का रखना है। पर आइए सबसे पहले जानते हैं कि क्यों खास होता है क्रिसमस केक।

क्यों खास है क्रिसमस केक-

क्रिसमस केक क्रिसमस का सबसे खास पकवान है। ये पकवान इसलिए खास है क्योंकि पूरी दुनिया में इसे अलग-अलग तरीकों से बनाया जाता है। विश्व के कई देशों में क्रिसमस केक उनके यहां क्रिसमस मनाने के तरीके को परिभाषित करती है। इसे बानने के लिए अलग-अलग चीजों को इस्तेमाल किया जाता है। पारंपरिक क्रिसमस केक को बनाने में एल्कोहल और वाइन का इस्तेमाल होता है। पर इस केक को हर कोई नहीं खा पाता है। कई प्रकार के ड्राई-फ्रूट्स, शुगर और वाइन के इस्तेमाल से बना क्रिसमस केक हर कोई नहीं खा सकता। बहुत से लोगों के लिए एल्कोहल मिश्रित केक पसंद नहीं आते। ऐसे में घर आने वाले कई नॉन-एल्कोहलिक महमानों और बच्चों के लिए आप नॉन-एल्कोहलिक केक बना सकते हैं। आइए हम आपको बताते हैं शराब और बिना अंडे के स्वादिष्ट ड्राई फ्रूट्स और नट्स से बना क्रिसमस केक रेसिपी के बारे में। इस क्रिसमस केक को बनाने की सामान्य और प्रामाणिक प्रक्रिया में एक लंबी प्रक्रिया शामिल है जाहिर है, उस प्रकार का फल खाना सेहत के लिए अच्छा नहीं है और बच्चों के लिए नहीं। यह क्रिसमस प्लम केक बिना शराब और स्वाद के एक एगलेस क्रिसमस केक है, जो बच्चों और टीटोटलर्स के लिए पूरी तरह से उपयुक्त है। आइए जानते हैं इसे बनाने की रेसिपी के बारे में।

christmascake

इसे भी पढ़ें : अंडे के बिना चॉकलेट केक बनाने की रेसिपी

नॉन-एल्कोहलिक केक बनाने की रेसिपी-

केक सामग्री:

  • 2 चम्मच काजू
  • 2 चम्मच बादाम
  • 2 चम्मच खजूर
  • 2 चम्मच चेरी
  • 1 चम्मच काले सूखे अंगूर
  • 1 चम्मच सूखे अंगूर
  • ½ कप संतरे का रस
  • 1 चम्मच नींबू का रस
  • 2 कप ब्राउन शुगर
  • 1 बड़ा चम्मच पानी
  • ½ कप ताजी क्रीम या गाढ़ा दूध
  • ¼ कप मक्खन
  • ¼ कप तेल
  • ¾ कप ऑल-पर्पस आटा
  • एक चम्मच नमक
  • ¼ चम्मच बेकिंग सोडा
  • ½ टी स्पून बेकिंग पाउडर
  •  टी स्पून दालचीनी / जायफल + कोको पाउडर

केक बनाने से पहले की तैयारी:

ताजा संतरे का रस निकालें और एक तरफ रख दें। संतरे के रस के बजाय, आप नट्स और फलों को भिगोने के लिए ताजे सेब के रस या अंगूर के रस का भी उपयोग कर सकते हैं। काजू और बादाम को छोटे टुकड़ों में काट लें। आप इसकी जगह अखरोट और पिस्ता के टुकड़ों का भी उपयोग कर सकते हैं।nonalcholiccake

बिना शराब के एगलेस क्रिसमस फ्रूट केक बनाने की विधि:

नट्स और ड्राई फ्रूट्स को कैसे भिगोएं?

  • -एक कटोरी में, संतरे का रस, नींबू का रस लें और सभी कटे हुए मेवे और ड्राई फ्रूट्स डालें।
  • -रेफ्रिजरेटर में एक दिन के लिए भिगो कर छोड़ दिया। यदि आप जल्दी में हैं तो आप भिगोने वाले भाग को छोड़ सकते हैं और सिर्फ मिश्रण और बेकिंग के साथ आगे बढ़ सकते हैं। लेकिन नट्स और फलों को रस में भिगोने से क्रिसमस केक को अच्छा स्वाद और बनावट मिलती है। आप सिर्फ एक घंटे के लिए भिगो सकते हैं।

केक के लिए कारमेल सॉस कैसे बनायें?

  • गैस पर पैन रखें, एक चम्मच पानी के साथ ब्राउन शुगर डालें और इसे धीमी आंच पर मिलाएं।
  • कुछ मिनट के लिए लगातार हिलाएँ जब तक कि चीनी पूरी तरह से घुल न जाए। ध्यान रखें कि इस तरल को चिपचिपा सिरप न बनने दें।
  • ताजा दूध क्रीम लें और इस चीनी वाले सिरफ के साथ मिलाएं। 

केक का मिश्रण:

  • ऊपर वाली सामग्री को एक कटोरे में स्थानांतरित करें और उसमें पिघला हुआ मक्खन, तेल डालकर मिलाएं।
  • अब रस के साथ भिगोए हुए चीजों को इसमें मिलाएं।
  • एक बड़े कटोरे में आटे को छलनी से छाल लें और बेकिंग बेकिंग पाउडर और नमक डालें।
  • इसके अलावा, एक चुटकी दालचीनी पाउडर के साथ कोको पाउडर का एक चम्मच डाल कर इसे मिला लें।
  • आटे के कटोरे में भीगे हुए मेवे और फलों के साथ धीरे-धीरे गीली सामग्री मिलाएं।
  • हल्का फुल्का केक पसंद है, तो केक में थो़ड़ा ज्यादा तेल या मक्खन का उपयोग करें।
  • एक केक को रखने वाले बर्तन को तेल लगाकर चिकना करें या बेकिंग पेपर लगा लें।
  • ओवन को 160 ° C पर प्रीहीट करें।
  • केक बैटर को इस बर्तन में डालें और 1 घंटे के लिए बेक करें।
  • पूरा होने के बाद, ओवन से बाहर निकालें, केक को 30 मिनट के लिए ठंडा होने दें।

सावधानी-

आपको गहरे भूरे रंग की पपड़ी या थोड़ा जला हुआ गुंबद मिल सकता है। लेकिन चिंता न करें, बस केक को पूरी तरह से बेक होने दें जब तक कि केक का मध्य भाग अच्छी तरह से पक न जाए।जब आप काले पपड़ी देखते हैं तो बेकिंग को रोकने की जल्दी न करें। अगर ऊपरी परत भूरा  हो गया है, तो बस इसे बाहर निकाल दें। आप पूरी तरह से पका हुआ मध्य भाग और घने फलों के केक का टुकड़ा काटकर देख सकते हैं कि ये पूरी तरह से पका है या नहीं।

इसे भी पढ़ें : माइक्रोवेव में कॉफी एंड वॉलनट केक बनाने की रेसिपी

नॉन-एल्कोहलिक केक के स्वास्थ्य लाभ-

  • -नॉन-एल्कोहलिक केक बनाने की इस विधि में कई प्रकार के फलों को इस्तेमाल हुआ है, जिससे हमें विटामिन और फाइबर्स मिल सकते हैं।
  • -इस केक में ब्राउन शुगर इस्तेमाल हुआ है, जो शरीर में एक्ट्रा केलोरीज को नहीं जोड़ेगा। साथ ही साथ डायबिटीक लोग भी इसे खा सकते हैं।
  • -इसमें इस्तेमाल हुए कई प्रकार के ड्राई फ्रूट्स के अपने-अपने स्वास्थ्य लाभ हैं।
  • -संतरे और नींबू के इस्तेमाल के कारण इसमें विटामिन-सी की भी अच्छी मात्रा है।
  • - केक की गर्म तासीर सर्दियों के लिए इसे परफेक्ट बनाती है।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer