Expert

क्या हार्मोनल असंतुलन में सभी महिलाओं के लिए फायदेमंद है शतावरी? एक्सपर्ट से जानें इसके कुछ नुकसान

Side Effects of Shatavari for Hormones in Hindi: हार्मोन्स को संतुलित करने के लिए ज्यादातर महिलाएं शतावरी का सेवन करती हैं, जानें इसके नुकसान।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Apr 29, 2022Updated at: Apr 29, 2022
क्या हार्मोनल असंतुलन में सभी महिलाओं के लिए फायदेमंद है शतावरी? एक्सपर्ट से जानें इसके कुछ नुकसान

पारंपरिक चिकित्सा में लंबे समय से कई रोगों और स्वास्थ्य समस्याओं से निपटने के लिए आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता रहा है। आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां बेहद प्रभावी होती हैं, और आमतौर पर इनके दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिलते हैं। महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन की समस्या बहुत आम है, इन दिनों ज्यादातर महिलाएं इस समस्या से जूझ रही हैं। जिससे उन्हें अनियमित पीरियड्स, चेहरे पर कील-मुंहासे, पीरियड्स के दौरान गंभीर के साथ ही कई अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसी कई आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां हैं जिनका इस्तेमाल हार्मोनल असंतुलन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है, इनमें सबसे ज्यादा आम है शतावरी। शतावरी में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं जो हार्मोन्स संबंधी समस्याओं से राहत पाने में मदद करते हैं, और हार्मोन्स को संतुलित करने में मदद करते हैं (Benefits of Shatavari for Hormonal Imbalance In Hindi)। ज्यादातर महिलाओं द्वारा शतावरी का उपयोग किया जाता है।

अक्सर यह देखा जाता है कि हार्मोन संबंधी समस्याएं होने पर कुछ महिलाएं बिना डॉक्टर या एक्सपर्ट की सलाह के शतावरी का सेवन करती हैं। लेकिन क्या ऐसा करना सही है? क्या शतावरी हार्मोनल संतुलन वाली सभी महिलाओं के लिए फायदेमंद है (Is Shatavari Good For Hormonal Imbalance In Hindi)? आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. वरालक्ष्मी यनामंद्र (BAMS Ayurveda) की मानें तो इसमें कोई संदेह नहीं है कि शतावरी एक अद्भुत जड़ी-बूटी है और महिलाओं के लिए कई तरह से फायदेमंद होती है। लेकिन सभी महिलाओं के साथ ऐसा नहीं है, कुछ महिलाओं के लिए शतावरी का सेवन परेशानी का सबब (Side Effects of Shatavari for Hormones in Hindi) बन सकती है। इस लेख में हम आपको इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

शतावरी सभी महिलाओं के लिए फायदेमंद क्यों नहीं है? (Is Shatavari Good For Women In Hindi)

डॉ. वरालक्ष्मी की मानें तो ️ शतावरी को रसायन या एडाप्टोजेनिक जड़ी बूटी माना जाता है। जबकि शतावरी हार्मोन और सामान्य तनाव से संबंधित स्थितियों में सहायक होती है। लेकिन, सभी एडाप्टोजेनिक जड़ी-बूटियां सभी के लिए उपयुक्त नहीं होती हैं! हर महिला या व्यक्ति की प्रकृति अलग-अलग होती है। ऐसे में यह जरूरी नहीं है कि अगर कोई एक चीज एक व्यक्ति के लिए अच्छा काम करती है तो वह दूसरे के लिए भी समान काम करे। यह जरूरी है कि आप किसी भी जड़ी-बूटी के हमारे पूरे शरीर पर संभावित दुष्प्रभावों और हार्मोनल प्रभावों को समझे बिना उसका सेवन न करें।

इसे भी पढें: स्तनों में दिखे ये 5 बदलाव तो बिल्कुल न करें नजरअंदाज, हो सकते हैं गंभीर बीमारी का संकेत

महिलाओं के लिए शतावरी के कुछ नुकसान (Shatavari Side Effects For Women In Hindi)

1. महिलाओं में ब्रेस्ट टेंडरनेस का कारण बन सकती है

अगर कोई महिला अधिक मात्रा में शतावरी का सेवन करती है तो इससे महिला ब्रेस्ट में दर्द, चुभन या असहजता का अनुभव हो सकता है। आमतौर पर महिलाएं प्रेगनेंसी और पीरियड्स के दौरान अक्सर इस तरह की समस्या का सामना करती हैं। लेकिन शतावरी का सेवन करने से आपको अक्सर ये समस्या हो सकती है।

2. शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर को बढ़ाती है

शतावरी फाइटोएस्ट्रोजन है। अगर कोई महिला लंबे समय तक इसका सेवन करती है तो यह उनके शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर को बढ़ा सकती है। साथ ही यह इससे जुड़े लक्षणों का कारण बन सकती है! महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन का अधिक स्तर कई समस्याओं का कारण बन सकता है।

3. वजन बढ़ सकता है

शतावरी एक पौष्टिक जड़ी बूटी है, इसमें शरीर के लिए जरूरी लगभग सभी पोषक तत्व अच्छी मात्रा में होते हैं। शतावरी के अधिक सेवन से वजन बढ़ने की समस्या भी हो सकती है।

4. किडनी और हृदय रोग को नुकसान पहुंचता है

डॉ. वरालक्ष्मी की मानें तो किसी भी जड़ी-बूटी का अधिक मात्रा में लंबे समय तक सेवन करना कभी भी अच्छा विचार नहीं है, क्योंकि यह हमारे गुर्दे और हृदय पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालता है।

5. एलर्जी हो सकती है

शतावरी का सेवन करने से कुछ महिलाओं को चक्कर आना, दिल की धड़कन तेज होना, दिल फड़कना और त्वचा पर दाने जैसी आम एलर्जी हो सकती है। ऐसा तब होता है जब किसी व्यक्ति को शतावरी से एलर्जी होती है।

इसे भी पढें: क्या खाने-पीने की खराब आदत आपकी प्रजनन क्षमता पर असर डालती है? जानें एक्सपर्ट की राय

एक्सपर्ट क्या सलाह देते हैं (Expert Tips on Shatavari for Hormonal Imbalance In Hindi)

डॉ. वरालक्ष्मी सुझाव देती हैं कि शतावरी का सेवन शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें, या इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करें और अपनी व्यक्तिगत स्वास्थ्य समस्या पर इसके प्रभावों को समझें।आयुर्वेद कभी भी अनियंत्रित जड़ी-बूटियों के सेवन की सलाह नहीं देता है।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer