Expert

महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे: आपकी इन 7 परेशानियों को दूर करने में लाभकारी हो सकता है शतावरी

शतावरी महिलाओं के समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। आइए जानते हैं महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे क्या हैं ? 

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jan 21, 2022Updated at: Jan 21, 2022
महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे: आपकी इन 7 परेशानियों को दूर करने में लाभकारी हो सकता है शतावरी

महिलाओं की कई समस्याओं का इलाज आयुर्वेद में प्राकृतिक तरीके से किया जा सकता है। यौन समस्याएं हो या फिर गर्भावस्था से जुड़ी परेशानी, हर एक समस्या को दूर करने में आयुर्वेद की जड़ी-बूटियों का खास महत्व होता है। इन्ही जड़ी-बूटियों में से एक है शतावरी, यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिसकी मदद से शरीर की कई परेशानियों को दूर किया जा सकता है। खासतौर पर महिलाओं की समस्याओं को दूर करने में यह काफी प्रभावी जड़ी-बूटी है। आज हम इस लेख में महिलाओं के लिए शतावरी के फायदों के बारे में जानेंगे। आइए विस्तार से जानते हैं महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे और नुकसान क्या हैं ? 

शतावरी क्या है? ( What is Shatavari )

गाजियाबाद स्वर्ण जयंती के आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर राहुल चतुर्वेदी का कहना है कि शतावरी महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए लाभकारी हो सकता है। यह एक ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जिसका वैज्ञानिक नाम एस्पेरेगस रेसिमोसस ( Asparagus racemosus) है। आयुर्वेद के मुताबिक, शतावरी का इस्तेमाल सौ से अधिक बीमारियों को दूर करने में प्रभावी माना जाता है। आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों के अलावा इसका इस्तेमाल भारत के कई क्षेत्रों में सब्जी के रूप में भी किया जाता है। 

महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे (shatavari health benefits for women)

आयुर्वेदाचार्य के अनुसार, महिलाओं के समग्र स्वास्थ्य के लिए शतावरी काफी फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल से सेक्स पावर से लेकर प्रेग्नेंसी से जुड़ी परेशानी को दूर किया जा सकता है। इसके अलावा महिलाओं के लिए शतावरी के कई अन्य फायदे हो सकते हैं। आइए जानते हैं इस बारे में-

1. वजन घटाने में असरदार

शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव की वजह से इन दिनों महिलाओं का वजन काफी ज्यादा बढ़ रहा है। ऐसे में शतावरी का इस्तेमाल महिलाओं के लिए लाभकारी हो सकता है। शतवारी में सॉल्युबल फाइबर और इन सॉल्यूबल फाइबर मौजूद होता है, जो शरीर के अतिरिक्त फैट को कम करके मोटापे को कंट्रोल करने में प्रभावी हो सकता है। इतना ही नहीं, शतावरी में 90 फीसदी से ज्यादा पानी होता है। वहीं, कैलोरी की मात्रा काफी कम होती है। ऐसे में इसका सेवन महिलाओं के बढ़ते वजन को कंट्रोल करने में प्रभावी हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें - बालों की इन समस्याओं में बहुत फायदेमंद होता है शतावरी, जानें इसके प्रयोग के तरीके

2. माइग्रेन का करे इलाज

माइग्रेन एक ऐसी समस्या है, जिससे पीड़ित मरीजों को काफी ज्यादा दर्द का सामना करना पड़ता है। इस समस्या से पीड़ित मरीज को अचानक से सिर में तेज दर्द का अनुभव होता है। ऐसे में शतावरी माइग्रेन का इलाज करने में प्रभावी जड़ी-बूटी हो सकता है। इसके इस्तेमाल से माइग्रेन पीड़ित रोगियों का इलाज जल्द से जल्द किया जा सकता है। दरअसल, शतावरी में राइबोफ्लेविन (riboflavin) नामक विटामिन पाया जाता है, तो माइग्रेन के इलाज में प्रभावी दवा हो सकती है। अगर आपको माइग्रेन की समस्या है, तो 30 ग्राम शतावरी का सेवन रोजाना करें। इससे आपको काफी लाभ हो सकता है। हालांकि,, ध्यान रखें कि अगर आप पहले से किसी परेशानी से जूझ रहे हैं, तो एक्सपर्ट की सलाह से ही शतावरी का सेवन करें।

3. गर्भावस्था के समय वरदान है शतावरी 

गर्भवती महिलाओं के लिए शतावरी का सेवन काफी लाभकारी हो सकता है। दरअसल, शतावरी में फोलेट होता है, जो गर्भ में पल रहे बच्चे और मां दोनों के लिए लाभकारी है। इसलिए कई आयुर्वेद एक्सपर्ट गर्भ धारण के दौरान महिलाओं को शतावरी का सेवन करने की सलाह देते हैं। इससे भ्रूण में पल रहे बच्चे का मानसिक विकास भी बेहतर तरीके से हो सकता है।

 

4. यूरीनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से करे बचाव

शतावरी के इस्तेमाल से यूरीनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन की परेशानी को दूर किया जा सकता है। दरअसल, शतावरी में विटानिन एक मौजूद होता है। एक्सपर्ट के मुताबिक, विटामिन ए यूरीनरी इंफेक्शन को दूर करने में प्रभावी जड़ी-बूटी साबित हो सकती है। इतना ही नहीं, यह किडनी से जुड़ी परेशानी को भी दूर करने में प्रभावी है। दरअसल, शतावरी का सेवन करने से शरीर में यूरीन की मात्रा बढ़ती है, जिसकी वजह से व्यक्ति को बार-बार पेशाब करने जाना पड़ता है। ऐसे में यूरिन के माध्यम से शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर हो जाते हैं, जिससे आपकी किडनी लंबे समय तक स्वस्थ रह सकती है। वहीं, यह यूरिन इंफेक्शन की परेशानी को भी दूर करने में प्रभावी हो सकता है। 

5. माहवारी के दौरान लाभकारी 

पीरियड्स की परेशानियों को दूर करने में शतावरी का सेवन महिलाओं के लिए लाभकारी हो सकता है। दरअसल, शतावरी के इस्तेमाल से यह पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द और ऐंठन को कम करने में प्रभावी होता है। इसके अलावा इस दौरान होने वाली शारीरिक कमजोरी को दूर करने में भी शतावरी लाभकारी हो सकता है। इसलिए पीरियड्स के दौरान महिलाओं को शतावरी का सेवन करने की सलाह दी जाती है। 

इसे भी पढ़ें - अश्वगंधा और शतावरी के फायदे: इन 5 परेशानियों को दूर करते हैं अश्वगंधा और शतावरी, जानें प्रयोग का तरीका

6. यौन क्षमता बढ़ाए 

शतावरी को यौन क्षमता को बढ़ाने में प्रभावी जड़ी-बूटी हो सकती है। इसके सेवन से कामेच्छा की भावना बढ़ती है। ऐसे में जिन महिलाओं का सेक्स के प्रति रूचि घट रहा है, उनके लिए शतावरी का सेवन लाभकारी हो सकता है। साथ ही यह शरीर के हार्मोन को बैलेंस करने में प्रभावी जड़ी-बूटी हो सकती है। व्यस्त जीवनशैली जी रहे महिलाओं और पुरुषों के लिए शतावरी का सेवन काफी प्रभावकारी हो सकता है। 

7. डायबिटीज के लिए उपयोगी

खराब जीवनशैली और गलत खानपान की वजह से इन दिनों महिलाएं और पुरुष दोनों ही डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से प्रभावी हो रहे हैं। शतावरी का नियमित रूप से सेवन से डायबिटीज जैसी परेशानी को दूर किया जा सकता है। दरअसल, शतावरी में एंटीडायबिटीज गुण पाया जाता है, जो मधुमेह को कंट्रोल करने में काफी हद तक आपकी मदद कर सकता है। वहीं, यह थायराइड (shatavari benefits for thyroid), ब्लड प्रेशर, झड़ते बाल और स्ट्रेस जैसी समस्याओं को दूर कने में प्रभावी जड़ी-बूटी हो सकती है। 

शतावरी से होने वाले नुकसान ( Shatavari Side Effects )

शतावरी का सेवन करने से महिला और पुरुष दोनों का स्वास्थ्य बेहतर हो सकता है। लेकिन बता दें कि इसका सेवन अधिक मात्रा में करने से शरीर को कई नुकसान हो सकते हैं। इसलिए हमेशा आयुर्वेद एक्सपर्ट की सलाह पर ही शतावरी का सेवन करें। अगर आप इसका अधिक मात्रा में सेवन करते हैं, तो इससे शरीर के कई अन्य डैमेज हो सकते हैं। वहीं, कुछ परिस्थितियों में मरीजों को गैस, एलर्जी,पेट में दर्द इत्यादि की परेशानी हो सकती है। 

ध्यान रखें कि शतावरी स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी हो सकता है। लेकिन इसका सेवन हमेशा एक्सपर्टी की सलाह पर ही करना चाहिए। वरना यह आपके शरीर के लिए नुकसादेय साबित हो सकती है। वहीं, अगर आपको किसी विशेष तरह की परेशानी पहले से है, तो बिना डॉक्टरी सलाह के इसका सेवन न करें।

Disclaimer