Doctor Verified

इनफर्टिलिटी से जूझ रहा है पार्टनर तो कैसे करें उसे सपोर्ट? एक्सपर्ट से जानें खास टिप्स

अगर आपका मेल पार्टनर इनफर्टिलिटी की समस्या से जूझ रहा है, आपके सपोर्ट से ठीक हो सकती है उनकी समस्या, जानें उन्हें कैसे करें सपोर्ट।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Apr 28, 2022Updated at: Apr 28, 2022
इनफर्टिलिटी से जूझ रहा है पार्टनर तो कैसे करें उसे सपोर्ट? एक्सपर्ट से जानें खास टिप्स

हम अक्सर देखते हैं कि कुछ महिलाओं को गर्भधारण करने में दिक्कत होती है। इन दिनों खराब, व्यस्त और गतिहीन जीवन शैली, खराब खानपान के चलते इनफर्टिलिटी या बांझपन की समस्या काफी तेजी से बढ़ रही है। एक आम धारणा है कि इनफर्टिलिटी की समस्या सिर्फ महिलाओं को ही होती है लेकिन ऐसा नहीं है। वर्तमान समय में पुरुष भी इस समस्या से जूझ रहे हैं। यह किसी भी जोड़े के लिए बेहद निराशाजनक हो सकता है, और कई तरह से उनके रिश्ते को प्रभावित कर सकता है। यह पति-पत्नी के संबंधों में काफी तनाव पैदा कर सकता है, उनके बीच झगड़े का कारण बन सकता है, यहां तक कि इसके चलते उनका रिश्ता भी खत्म हो सकता है।

महिलाओं की ही तरह अगर किसी पुरुष में इनफर्टिलिटी का पता चलता है तो इसे स्वीकार कर पाना काफी मुश्किल होता है। वे अक्सर इससे भागने या बचने की कोशिश कर सकते हैं। ये उनके लिए काफी शर्मिंदगी भरा हो सकती है, क्योंकि हमारे समाज में अगर किसी पुरुष को इनफर्टिलिटी की समस्या होती है, तो इसे नापुंसकता से जोड़ा जाता है। अगर कोई पुरुष इनफर्टिलिटी की समस्या से जूझ रहा या यौन गतिविधियों के दौरान उसका प्रदर्शन खराब है तो इसके लिए कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। ऐसे मुश्किल समय में आपको उन्हें सपोर्ट करना चाहिए और उनके साथ गलत व्यवहार नहीं करना चाहिए। आपका प्यार और सपोर्ट आपके मेल पार्टनर को इस मुश्किल समय से लड़ने और उससे बाहर निकलने में मदद कर सकता है। अब सवाल यह है कि आप अपने मेल पार्टनर को सपोर्ट कैसे कर सकते हैं (Infertility Problem In Male How To Support In Hindi)? यह जानने के लिए हमने वरिष्ठ सलाहकार (स्त्री रोग विशेषज्ञ और प्रजनन चिकित्सा) डॉ. मनीषा सिंह से बात की। इस लेख में हम आपको इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

इनफर्टिलिटी से जूझ रहा है पार्टनर तो कैसे करें सपोर्ट (Infertility Problem In Male How To Support In Hindi)

1. घर का वातावरण अच्छा बनाए रखें

अगर आपका मेल पार्टनर सेक्स के दौरान ठीक से प्रदर्शन नहीं कर पाता है, तो यह उसके भीतर भी तनाव और चिंता की स्थिति पैदा कर सकता है। अगर आप उनके साथ ठीक से पेश नहीं आती हैं, तो उन्हें इससे आघात पहुंच सकता है। पुरुषों के साथ ऐसा अक्सर होता है कि वह ऑफिस में बहुत अधिक काम, थकान या तनाव के कारण सेक्स के दौरान ज्यादा समय तक नहीं टिक पाते हैं। ऐसे में बेहतर है कि उन्हें समझने की कोशिश करें। उन्हें कभी भी सेक्स के लिए फोर्स न करें या उनपर इसके लिए दबाव न बनाएं। उन्हें अच्छा महसूस कराने की कोशिश करें, अगर वे आपको खुश नहीं कर पा रहे हैं तो उन्हें ऐसे ही न छोड़ें। आपस में बातचीत करें, उनसे पूछें कि वे कैसा महसूस कर रहे हैं। उन्हें समझाएं कि इसमें कोई बड़ी बात नहीं है, ऐसा होना सामान्य है। आपसी प्यार को कम न होने दें।

इसे भी पढें: हस्तमैथुन (मास्टरबेशन) से क्‍या वाकई खराब होती है पुरुषों की सेहत? मेड‍िकल एक्‍सपर्ट्स से जानें पूरा सच

2. उनके साथ कभी भी कठोर व्यवहार न करें

कई बार आपका पार्टनर आपसे खुलकर बात करने में हिचकिचाहट महसूस कर सकता है। हो सकता है कि वह आपको खुलकर बात करने में शर्म महसूस करे। इस स्थिति में अगर आप उनके ऊपर भावनाओं को खुलकर व्यक्त करने के लिए दबाव बनाते हैं तो इससे उन्हें दुख पहुंच सकता है। साथ ही वे तनावग्रस्त हो सकते हैं। बेहतर है कि आप उनपर किसी भी तरह का दबाव न बनाएं, उन्हें सिर्फ इस बात का एहसास दिलाएं कि आप उनके साथ हैं और वे आप पर भरोसा कर सकते हैं। उनके साथ नम्र व्यवहार रखें।

3. उन्हें गलत आदतों को छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करें

अगर पुरुष सेक्स के दौरान ठीक से प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं तो इसका एक बड़ा कारण शराब पीना, स्मोकिंग करना या अन्य कई गलत आदतें भी हो सकती है। अपने पार्टनर से इस बारे में बैठकर प्यार से बातचीत करें, और धीरे-धीरे उनकी इन गलत आदतों को छुड़ाने में उनकी मदद करें। आपको कुछ ही समय में उनमें सुधार दिखने लगेगा।

4. उन्हें एक्सरसाइज करने के लिए प्रोत्साहित करें

एक्सरसाइज करने से तनाव का प्रबंधन करने में मदद मिलती है, और शरीर में हार्मोन्स का स्तर भी बना रहता है। साथ ही एक्सरसाइज करने से सेक्स के दौरान प्रदर्शन को बढ़ाने में भी मदद मिलती है। अपने पार्टनर को प्रकृति में समय बिताने के लिए प्रोत्साहित करें। कुछ सरल व्यायाम जैसे मॉर्निंग वॉक या जॉगिंग, पैदल चलना जैसी एक्सरसाइज करने को कहें। आप खुद भी उनके साथ ऐसा कर सकती हैं, इससे उन्हें अच्छा महसूस करने में मदद मिलेगी और उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा। आप योग और जिम में अन्य शारीरिक गतिविधियों के लिए भी उन्हें प्रोत्साहित कर सकती हैं।

इसे भी पढें: टेस्टिकुलर (अंडकोष) कैंसर का पता लगाने के लिए कौन सी जांच की जाती है?

5. उनकी उपचार में मदद करें

सबसे पहले तो अपने मेल पार्टनर को समझाएं कि इस तरह की समस्या होना कोई बड़ी बात नहीं है, सही उपचार और जीवन शैली में बदलाव के साथ इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। हमेशा उनके साथ खड़े रहें, और उन्हें इसका एहसास कराएं कि आप उनके साथ ही चाहे परिस्थिति जो भी हो। उन्हें इनफर्टिलिटी टेस्ट कराने के लिए प्रोत्साहित करें, परिणाम आने पर उनकी स्थिति के अनुसार उन्हें सही उपचार लेने में उनकी मदद करें।

All Image Source: Freepik.com

(With Inputs: Dr Manisha Singh, Senior Consultant - Gynecologist & Reproductive Medicine, Bannerghatta Road, Bangalore)

Disclaimer