मेंस्ट्रुअल कप को साफ करते समय न करें ये गलतिया, बढ़ता है इंफेक्शन का खतरा

मेंस्ट्रुअल कप को ठीक से साफ न करने पर इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Oct 01, 2022 13:30 IST
मेंस्ट्रुअल कप को साफ करते समय न करें ये गलतिया, बढ़ता है इंफेक्शन का खतरा

पीरियड्स महिलाओं में होने वाली एक सामान्य प्रक्रिया है। पीरियड्स के दौरान हर महिला को तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जैसे पेट में दर्द, ऐंठन, मूड स्विंग्स आदि। इन दिनों में महिलाओं को दिनभर पैड बदलने और कपड़े में दाग लगने का डर सताता रहता है। पहले के समय में महिलाएं पीरियड्स के दौरान कपड़े का इस्तेमाल करती थीं। लेकिन आजकल पीरियड्स से निपटने के लिए टैम्पोन और मेंस्ट्रुअल कप जैसे कई ऑप्शन मौजूद हैं। इन दिनों पीरियड्स के दौरान मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है। यह एक तरह का रबर या सिलिकॉन कप है, जिसे योनि के अंदर डाला जाता है। पीरियड्स के दौरान सारा ब्लड इस कप के अंदर इकट्ठा हो जाता है। पैड या टैम्पोन के मुकाबले मेंस्ट्रुअल कप अधिक ब्लड फ्लो स्टोर करता है। वहीं, इसे पैड या टैम्पोन की तरह बार-बार बदलना या सेट भी नहीं करना पड़ता। पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग से निपटने के लिए टैम्पोन एक किफायती और हाइजीनिक ऑप्शन है। लेकिन इसे इस्तेमाल करने के साथ-साथ आपको इसकी सफाई का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए। यदि मेंस्ट्रुअल कप को ठीक से साफ किए बिना इस्तेमाल किया जाए, तो इससे इंफेक्शन हो सकता है। ऐसे में आइए जानते हैं कि मेंस्ट्रुअल कप की सफाई के दौरान आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए - 

Tips To Clean Menstrual Cup

मेंस्ट्रुअल कप को कैसे साफ करें - How To Clean Menstrual Cup

  1. मेंस्ट्रुअल कप को इस्तेमाल या साफ करने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह धो लें। अगर आपके हाथ गंदे होंगे, तो इससे कीटाणु फैल सकते हैं, जिससे इंफेक्शन हो सकता है। हाथों को धोने के लिए साफ पानी और साबुन का इस्तेमाल करें। 
  2. हाथों को धुलने के बाद अपने मेंस्ट्रुअल कप को किसी माइल्ड क्लींजर से अंदर तक अच्छी तरह साफ करें। हालांकि, यदि आपको इंफेक्शन की समस्या नहीं है, तो आप इसे सिर्फ पानी से भी धो सकते हैं। 
  3. इसके बाद मेंस्ट्रुअल कप को उबलते हुए पानी के बर्तन में 10 मिनट तक रखकर स्टरलाइज करें। हालांकि, इसे ज्यादा देर के लिए स्टरलाइज न करें, वरना कप का शेप बिगड़ सकता है।
  4. स्टरलाइज करने के बाद मेंस्ट्रुअल कप को किसी साफ कॉटन के कपड़े से सुखा लें और इसकी थैली में रख दें।
  5. ध्यान दें कि हर इस्तेमाल के बाद मेंस्ट्रुअल कप को साफ करना है। यदि आप घर पर नहीं हैं या पानी से मेंस्ट्रुअल कप को साफ नहीं कर सकते हैं, तो इसे टिश्यू से अच्छी तरह साफ कर लें। 
  6. मेंस्ट्रुअल कप को दोबारा इस्तेमाल करने से पहले भी स्टरलाइज जरूर कर लें।

इसे भी पढ़ें: आपकी फर्टिलिटी पर बुरा असर डाल सकते हैं ये 5 फूड्स

मेंस्ट्रुअल कप की सफाई के दौरान न करें ये गलतियां - Mistakes To Avoid During Cleaning Menstrual Cup 

  • मेंस्ट्रुअल कप को साफ करते समय सेंटेड साबुन या क्लींजर का इस्तेमाल न करें, वरना इससे आपको खुजली और जलन की समस्या हो सकती है। 
  • मेंस्ट्रुअल कप को ज्यादा देर के लिए उबलते पानी में न छोड़ें। ऐसा करने से कप जल सकता है या इसका आकार बिगड़ सकता है। 
  • मेंस्ट्रुअल कप को धोने के बाद खुली जगह पर न रखें। इससे कप पर बैक्टीरिया जमा हो सकते हैं, जो इंफेक्शन कर सकते हैं। 
  • मेंस्ट्रुअल कप धोते समय ब्लड को इधर-उधर न फेंकें। हमेशा ब्लड को टॉयलेट फ्लश में ही डालें। 
  • हमेशा सही साइज के मेंस्ट्रुअल कप का ही इस्तेमाल करें। ज्यादा छोटे या बड़े साइज का मेंस्ट्रुअल कप लगाने से लीकेज हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: मह‍िलाओं में असामान्य ब्लीडिंग का कारण हो सकती है डिसफंक्शनल यूटेरिन ब्लीडिंग की समस्या, जानें इसके बारे में

इस तरह अगर आप मेंस्ट्रुअल कप को ठीक से साफ करके इस्तेमाल करती हैं, तो ये पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग की समस्या से निपटने का एक किफायती और आसान उपाय हो सकता है।

Disclaimer