सिगरेट और तंबाकू की लत से छुटकारा पाने के लिए इन तरीकों से करें तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल

स्मोकिंग और तंबाकू की लत को छोड़ने में तुलसी की पत्तियों का सेवन बहुत फायदेमंद होता है, जानें इस्तेमाल का तरीका और फायदे।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Oct 04, 2021
सिगरेट और तंबाकू की लत से छुटकारा पाने के लिए इन तरीकों से करें तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल

भारत की सनातन परंपरा में तमाम तरह के पेड़-पौधों को धार्मिक दृष्टि से देखा जाता है। तुलसी को भी भारत में बहुत पवित्र स्थान दिया गया है। तुलसी के पूजन से लेकर तमाम तरह के धार्मिक और पवित्र कार्यों में इसका इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद में भी तुलसी का बहुत बड़ा महत्व है। तुलसी कई बीमारियों में रामबाण औषधि के रूप में काम करती है। तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल पवित्र कार्यों के अलावा चाय या काढ़ा बनाने में भी किया जाता है। सर्दी, जुकाम और बुखार की समस्या में तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद होता है। तुलसी की पत्तियों के इस्तेमाल से आप कई बीमारियों पर काबू पा सकते हैं। आज के समय में तंबाकू और सिगरेट आदि का सेवन बहुत तेजी से बढ़ रहा है। आप सभी जानते हैं कि तंबाकू का सेवन और स्मोकिंग जानलेवा होते हैं। एक बार इनकी लत लग जाने के बाद इंसान बड़ी मुश्किल से इसे छोड़ पाता है। आज हम आपको तुलसी की पत्तियों के इस्तेमाल से तंबाकू और स्मोकिंग को छोड़ने के बारे में बताने जा रहे हैं जो बहुत उपयोगी हो सकता है। आइये जानते हैं तुलसी की पत्तियों के इस्तेमाल से तंबाकू और स्मोकिंग को कैसे छोड़े इसके बारे में।

तुलसी की पत्तियों में पाए जाने वाले तत्व (Biochemical Ingredients Found in Tulsi Leaves)

tulsi-quit-smoking_

(image source - freepik.com)

स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद मानी जाने वाली तुलसी की पत्तियों में बहुत फायदेमंद औषधीय गुण पाए जाते हैं। तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल पेट से जुड़ी समस्याओं से लेकर सर्दी, बुखार, किडनी से जुड़ी समस्याओं जैसे तमाम समस्याओं में किया जाता है। तमाम आयुर्वेदिक दवाओं के निर्माण में भी तुलसी का इस्तेमाल होता है। तुलसी की पत्तियों एं विटामिन और खनिज तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में।

  • विटामिन सी
  • कैल्शियम
  • जिंक
  • आयरन
  • सिट्रिक, टारटरिक और मैलिक एसिड
  • एंटी-इंफ्लेमेटरी
  • एंटीबैक्टीरियल गुण 
tulsi-quit-smoking_
(image source - freepik.com)

स्मोकिंग और तंबाकू छोड़ने के लिए तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल (Tulsi Leaves To Quit Smoking And Tobacco)

तमाम औषधीय गुणों से युक्त तुलसी की पत्तियों का सेवन सेहत से जुड़ी तमाम समस्याओं में बहुत फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद गुण शरीर के लिए बहुत लाभकारी होते हैं। स्मोकिंग और तंबाकू के सेवन की लत में भी इनका इस्तेमाल बहुत फायदेमंद हो सकता है। तुलसी की पत्तियों में एंटी स्ट्रेस एजेंट पाया जाता है। ये एंटी स्ट्रेस एजेंट आपको तनाव और मानसिक समस्याओं में बहुत फायदा पहुंचाते हैं। स्मोकिंग करने वाले या तंबाकू का सेवन करने वाले व्यक्ति को जब इसकी तलब लगती है तो उसका दिमाग इसके लिए एक्टिव हो जाता है। स्मोकिंग और तंबाकू का सेवन बंद करने पर इंसान को कई समस्याएं भी होती हैं। ऐसी स्थिति में आप तुलसी का पत्तियों का सेवन कर सकते हैं। इनका रोजाना सही ढंग से सेवन आपको स्मोकिंग छोड़ने और तंबाकू का सेवन न करने में फायदा पहुंचाता है। 

कैसे करें इस्तेमाल? (How To Use Tulsi Leaves To Quit Smoking And Tobacco?)

स्मोकिंग और तंबाकू का सेवन जानलेवा माना जाता है। इसकी लत लग जाने के बाद इसे छोड़ने पर आपको कुछ मानसिक बदलाव से गुजरना पड़ सकता है। कई बार इंसान इसे छोड़ने के बाद होने वाले मानसिक बदलाव के दबाव में आकर दोबारा इसका इस्तेमाल करने लग जाते हैं। अगर आप तंबाकू का सेवन और स्मोकिंग छोड़ना चाहते हैं तो तुलसी के पत्ते आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होंगे। स्मोकिंग और तंबाकू का सेवन बंद करने के बाद आप इस तरह से तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल कर स्मोकिंग के क्रेविंग को खत्म कर सकते हैं।

  • तंबाकू खाने की जगह पर आप रोजाना तुलसी की ताजी पत्तियां चबाएं।
  • स्मोकिंग करने का मन करने पर भी तुलसी की ताजी पत्तियों को आराम से मुहं में रखकर चबाएं।
  • ऐसा लगातार कुछ दिनों तक करने से आपकी तंबाकू और स्मोकिंग की लत खत्म हो सकती है।

आप तुलसी की पत्तियों को खाली पेट भी चबा सकते हैं। साथ ही आप इन पत्तियों को अपनी चाय और काढ़े में शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा खाना बनाने के दौरान भी आप इनमें से कुछ पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। तुलसी को आयुर्वेद में बहुत लाभकारी औषधि माना गया है। हालांकि कुछ लोगों को इसके सेवन से समस्याएं हो सकती हैं इसलिए तुलसी की पत्तियों का सेवन करने से पहले चिकित्सक या एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

(main image source - freepik.com)

Disclaimer