स्मोकिंग और तंबाकू की लत छोड़ने में बेहद मददगार साबित हो रही है निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी, जानें इसके बारे में

अगर आप सिगरेट, तंबाकू की लत छोड़ना चाहते हैं लेकिन बेचैनी और चिड़चिड़ेपन के कारण नहीं छोड़ पा रहे हैं, तो आपके लिए निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी बेस्ट है

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Feb 16, 2021 12:52 IST
स्मोकिंग और तंबाकू की लत छोड़ने में बेहद मददगार साबित हो रही है निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी, जानें इसके बारे में

दुनिया भर में धूम्रपान (Smoking) के कारण लगातार मृत्यु दर में वृद्धि हो रही है। ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे (GATS) की मानें तो दुनियाभर में एक बड़ी आबादी की मौत तंबाकू के सेवन के कारण होती है। हाल ही में प्रकाशित ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे के मुताबिक भारत में  48% पुरुष और 20% महिलाएं किसी न किसी रूप में तंबाकू से बने उत्पादों का सेवन करती हैं। कुछ महीने पहले कोरोना वायरस के सन्दर्भ में भी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी धूम्रपान कम करने की सलाह दी थी। हाल ही में WHO और United States Food & Drug Administration ने धूम्रपान से बचने के लिए लोगों को निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी (Nicotine Replacement Therapy) लेने की सिफारिश की है। अधिकांश लोग जो तंबाकू उत्पादों के दुष्प्रभाव के बारे में जानते हैं वे इसका उपयोग करना छोड़ना चाहते हैं। लेकिन निकोटीन की लत के कारण इसे छोड़ना मुश्किल होता है। ऐसे लोगों के लिए निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी धूम्रपान छोड़ने के लिए बेहद मददगार विकल्प बनकर सामने आया है।

quit smoking

क्या होती है निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी? (what is nicotine replacement therapy)

निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी (NRT) तंबाकू का सेवन करने वाले लोगों पर निकोटिन की लत को हावी होने से रोकती है। यह थेरेपी लोगों को धूम्रपान रोकने में मदद करने के लिए एक सफल उपचार मानी जाती है। निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी में कम निकोटिन की मात्र वाले उत्पादों का उपयोग किया जाता है। इन उत्पादों में, धुएं में पाए जाने वाले बहुत सारे टॉक्सिन्स नहीं होते हैं। इस थेरेपी का मुख्य लक्ष्य निकोटिन' के लिए cravings पर कमी करना और तंबाकू उत्पादों के सेवन से हुए दुष्प्रभावों कम करना है। WHO के मुताबिक Nicotine Replacement Therapy या NRT धूम्रपान के साथ-साथ गुटका, पान मसाला और अन्य तंबाकू उत्पादों को छोड़ने में भी कामयाब है। यह थेरेपी स्मोकिंग और तंबाकू के उपयोग से होने वाले दुष्प्रभावों जैसे चिड़चिड़ापन, अनिद्रा और चिंता को भी कम करने में मददगार साबित होगी।

इसे भी पढ़ें: चाय और सिगरेट साथ पीने से बढ़ती है हार्ट अटैक की आशंका, इससे शरीर को होने वाले 11 नुकसान बता रहे हैं डॉक्टर

किसके लिए जरुरी है निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी (NRT)

कई अध्ययनों से पता चला है कि NRT का उपयोग धूम्रपान छोड़ने की संभावना को लगभग दोगुना कर सकता है। धूम्रपान और तंबाकू उत्पादों को छोड़ने के लिए यह बेहतर विकल्प के रूप में सामने आया है। जो लोग धूम्रपान करते हैं और निकोटिन' पर काफी निर्भर हैं उन्हें इससे बाहर निकलने में मदद करने के लिए निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी काफी मददगार साबित हो सकती है। गंभीर रूप से निकोटिन पर निर्भर लोगों के ये लक्षण हैं और ऐसे लोगों के लिए NRT बेहद जरुरी हो जाती है -

  • दिन में अधिक धूम्रपान करना
  • सुबह उठने के 5 मिनट के भीतर धूम्रपान
  • बीमार रहते हुए भी धूम्रपान करना
  • रात को जागकर धूम्रपान करना
nicotin chewing gum

कैसे काम करती है निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी (NRT)

यह थेरेपी तंबाकू उत्पादों को छोड़ने के बाद होने वाले दुष्प्रभावों और निकोटिन की लत को कम करने में मदद करती है। कई लोग NRT का उपयोग किए बिना तम्बाकू छोड़ सकते हैं, लेकिन छोड़ने का प्रयास करने वाले अधिकांश लोग पहले प्रयास में सफल नहीं होते हैं। वास्तव में, जो लोग स्मोकिंग या तंबाकू उत्पादों को छोड़ने की कोशिश कर रहे हैं उन्हें आमतौर पर कई प्रकार के प्रयासों की आवश्यकता होती है। तंबाकू उत्पादों को छोड़ने के बाद बहुत से लोग टोबैको विदड्रॉल के लक्षणों से जूझते हैं जिसके बाद कुछ लोगों को फिर से स्मोकिंग या तंबाकू ट्राई करने की जरुरत पड़ जाती है।  NRT के जरिए आप परामर्श या अन्य सहायता के साथ तंबाकू छोड़ने में आपको मदद मिल सकती है। तंबाकू उत्पाद का सेवन बंद करने के बाद निकोटीन रिप्लेसमेंट थेरेपी (एनआरटी) का उपयोग शुरू करने पर आप स्प्रे और इन्हेलर का उपयोग कर निकोटिन की क्रेविंग को कम कर सकते हैं।

थेरेपी शुरू करने से पहले समझने वाली बातें

निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरिपी (NRT) रिसर्च, रैपिड डिलीवरी टेक्निक्स और प्रतिरक्षाविज्ञानी तकनीकों (immunological techniques) पर आधारित होती है। इस थेरेपी को शुरू करने से पहले कुछ अहम् बातें समझना बेहद जरुरी है

  • अधिक धूम्रपान करने वाले लोगों को थेरेपी में ज्यादा खुराक की जरुरत पड़ सकती है।
  • थेरेपी के दौरान धूम्रपान करने से बचें।
  • इस थेरेपी के दौरान हो सकता है कि आपका वजन बढ़ना बंद हो जाए।
  • निकोटीन की खुराक धीरे-धीरे कम की जानी चाहिए।

आज तम्बाकू का उपयोग दुनियाभर में मृत्यु का एक बड़ा कारण बन गया है। तंबाकू का उपयोग करना सभी अपनी पर्सनल चॉइस है। हालाकि, कुछ लोग स्मोकिंग के बुरे प्रभाव के बारे में पूरी तरह से अवेयर होते हैं और धूम्रपान छोड़ना चाहते हैं । लेकिन, निकोटीन की लत के कारण इसे छोड़ना मुश्किल हो जाता है। ऐसे लोगों के लिए निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी (NRT) कारगर साबित होती है।

इसे भी पढ़ें: तंबाकू और सिगरेट की लत से निपटने में मदद करेंगे ये 6 आयुर्वेदिक उपाय

निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरपी के प्रकार

निकोटीन की खुराक कई रूप में आती है, जैसे कि

  • गम
  • इन्हेलर
  • निकोटिन च्युइंग गम
  • नेज़ल स्प्रे
  • स्किन पैच
nicotin skin patch

निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी के साइड इफेक्ट्स और जोखिम

NRT के दौरान लिए जाने वाले सभी उत्पादों के दुष्प्रभाव हो सकते हैं। जब आप बहुत अधिक खुराक का उपयोग करते हैं तो लक्षण अधिक होने की संभावना होती है। खुराक कम करने से साइड इफेक्ट के लक्षणों को कम किया जा सकता है। NRT से होने वाले कुछ प्रमुख साइड इफेक्ट्स :-

  • सिरदर्द
  • पाचन संबंधी समस्याएं
  • पहले कुछ दिनों में नींद आने में समस्या

हालांकि ये लक्षण कुछ समय तक ही परेशान करते हैं, उसके बाद आपका मन और शरीर सामान्य तरीके से काम करने लगता है। इसलिए सिगरेट या किसी भी तंबाकू उत्पाद को छोड़ने के लिए निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी बेस्ट तरीका है।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer