विशेषज्ञों का कहना है कि विटामिन सी सबसे सुरक्षित और प्रभावी पोषक तत्वों में से एक है। विटामिन सी के लाभों में प्रतिरक्षा प्रणाली की कमी, हृदय रोग, प्रसवपूर्व स्वास्थ्य समस्याएं, नेत्र रोग और यहां तक कि त्वचा की झुर्रियों से बचाव आदि शामिल है। विटामिन सी पानी में घुलनशील विटामिन है, जिसका मतलब यह है कि आपको विटामिन सी की प्रतिदिन आवश्‍यकता होती है।

"/>

ढलती उम्र और चेहरे की झुर्रियों को दूर करता है विटामिन सी, सेवन करें ये 5 फूड

विशेषज्ञों का कहना है कि विटामिन सी सबसे सुरक्षित और प्रभावी पोषक तत्वों में से एक है। विटामिन सी के लाभों में प्रतिरक्षा प्रणाली की कमी, हृदय रोग, प्रसवपूर्व स्वास्थ्य समस्याएं, नेत्र रोग और यहां तक कि त्वचा की

Atul Modi
Written by: Atul ModiUpdated at: Mar 27, 2019 18:40 IST
ढलती उम्र और चेहरे की झुर्रियों को दूर करता है विटामिन सी, सेवन करें ये 5 फूड

विशेषज्ञों का कहना है कि विटामिन सी सबसे सुरक्षित और प्रभावी पोषक तत्वों में से एक है। विटामिन सी के लाभों में प्रतिरक्षा प्रणाली की कमी, हृदय रोग, प्रसवपूर्व स्वास्थ्य समस्याएं, नेत्र रोग और यहां तक कि त्वचा की झुर्रियों से बचाव आदि शामिल है। विटामिन सी पानी में घुलनशील विटामिन है, जिसका मतलब यह है कि आपको विटामिन सी की प्रतिदिन आवश्‍यकता होती है।

बहुत से लोग मानते हैं कि विटामिन सी के लिए ज्‍यादा से ज्‍यादा ऑरेंज जूस पीने की जरूरत होती है। लेकिन शायद आप यह नहीं जानते कि विटामिन सी की प्रतिदिन की खुराक उम्र के हिसाब से अलग-अलग होती है। इसके अलावा विटामिन सी को हासिल करना बहुत ही आसान है। हर सीजन में आपको विटामिन सी वाले फूड सस्‍ते दामों पर मिल सकता है। 

विटामिन सी के फायदे 

विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है, जो शरीर में मुक्त कणों से लड़ने में मदद करता है और शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। यही कारण है कि यह प्रतिरक्षा कार्य में सुधार करने और संक्रमण के जोखिम को कम करने में मदद करता है। यह न केवल भोजन से लौह तत्‍वों का अवशोषण करता है बल्कि यह एक त्वचा प्रोटीन कोलेजन के संश्लेषण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह विटामिन भी हड्डी को मजबूती प्रदान करता है। विटामिन सी की कमी से स्कर्वी रोग हो सकता है। विटा‍मिन सी के सेवन से चेहरे पर छुर्रियां नहीं पड़ती है। 

विटामिन सी युक्‍त आहार 

आंवला

आंवला विटामिन सी का बेहतरीन स्रोत है। आंवले की तासीर भी बहुत ठंडी होती है। एक कप ताजे आंवले में 41.5 एमजी विटामिन सी रहता है। हमारे शरीर में आयरन को अवशोषित करने के लिए विटामिन सी की आवश्यकता पड़ती है। यह कोलैजन के गठन में भी मददगार है। स्वस्थ हड्डियों, मांसपेशियों, कार्टिलेज और ब्लड वेसल्स को बनाए रखने में भी हमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी की आवश्यकता पड़ती है। 

पालक

पालक में पाए जाने वाले विटामिन ए और सी, रेशे, फोलिक एसिड और मैग्नीशियम कैंसर से लड़ने में मदद करते है। इसमें पाया जाने वाला बीटा कैरोटिन और विटामिन सी डीएनए का क्षय होने से बचाता है। ये शरीर के जोड़ों में होने वाली बीमारी जैसे आर्थराइटिस, ओस्टियोपोरोसिस की भी संभावना को घटाता है।

कच्चा केला

कच्चे केले का भोजन में उपयोगं कर शरीर के लिए जरूरी विटामिन सी की कमी को पूरा किया जा सकता है। शरीर को स्वस्थ रखने में विटामिन सी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है। विटामिन सी एंटी-ऑक्सीडेंट के तौर पर काम करता है जो स्किन इन्फेक्शन से बचाने के साथ ही कई बीमारियों से भी लड़ने में सहायक होता है। इसकी कमी से स्कर्वी, एनीमिया, मसूड़ों की समस्या और हार्ट से संबंधित कई बीमारियों का खतरा बना रहता है।

इसे भी पढ़ें: क्‍या चीनी हमारी सेहत के लिए खतरनाक है? एक्‍सपर्ट से जानें इसके फैक्‍ट्स और मिथ

संतरा

संतरा गुणों की खान होता है। इसमें विटामिन सी एवं फाइबर प्रचुर मात्रा में होते हैं जो  शरीर को काफी फायदा पहुंचाते हैं। संतरे में एंटीआक्सीडेट्स अधिक मात्रा में पाया जाता है जो कैंसर के प्रभाव को नष्ट करता है।अपच, जोडों का दर्द और पेट में गैस की समस्या को दूर करने के लिए संतरे का जूस पीएं। 

इसे भी पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज में बहुत फायदेमंद है ये स्नैक, तुरंत घटाता है ब्लड शुगर और मोटापा

अंगूर

अंगूर प्राकृतिक फल है। यह हर तरह से आपके लिए फायदा करता है। अंगूर में कैलोरी, फाइबर के साथ-साथ विटामिन सी, ई और के भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए अंगूर प्राकृति का एैसा फल है जिसमें हर तरह के उत्तम गुण हैं जो सेहत और उम्र को बढ़ाने में मददगार होते हैं।अंगूर कई रोगों में लाभ देता है जैसे टी बी, कैंसर, रक्त विकार और पारिया जैसे रोगों का अंत करने में लाभदायक है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Diet & Nutrition In Hindi

Disclaimer