महिलाओं को बहुत जल्दी होती है यूटीआई की समस्या, जानें यात्रा के दौरान कैसे बचें UTI से

यात्रा के दौरान यूटीआई की समस्‍या से बचने के ल‍िए आप कुछ आसान ट‍िप्‍स को फॉलो कर सकते हैं

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 16, 2021
महिलाओं को बहुत जल्दी होती है यूटीआई की समस्या, जानें यात्रा के दौरान कैसे बचें UTI से

ट्रैवल के दौरान अक्‍सर महि‍लाओं को यूटीआई यानी यूरि‍नरी ट्रैक्ट इंफेक्‍शन की समस्‍या हो जाती है। बाहर पब्‍ल‍िक टायलेट का इस्‍तेमाल करने के कारण या गंदगी के चलते इंफेक्‍शन हो जाता है। इससे बचने के लि‍ए आपको साफ-सफाई का ध्‍यान होगा। अगर आप काम के चलते बार-बार ट्रैवल करती हैं तो आपको कई बातों का ध्‍यान रखना चाह‍िए जैसे अपनी साफ-सफाई पर ध्‍यान दें, गंदे टॉयलेट का इस्‍तेमाल न करें। आपको हमेशा कॉटन के अंडर गॉर्मेंट्स ही पहनने चाह‍िए। इसके अलावा भी कुछ जरूरी ट‍िप्‍स हैं ज‍िन्‍हें आप फॉलो करेंगी तो यात्रा के दौरान यूटीआई की समस्‍या से बच सकते हैं। इस लेख में हम ट्रैवल के दौरान यूटीआई की समस्‍या से बचने के ट‍िप्‍स पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।

UTI problem

(image source:wpengine.netdna)

यूटीआई इंफेक्‍शन यानी यूरिनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍श्‍न, कई तरह के इंफेक्‍शन का समूह है जो यूर‍िनरी स‍िस्‍टम के क‍िसी भी ह‍िस्‍से जैसे ब्‍लैडर, क‍िडनी, यूरेथ्रा या यूट्रस में हो सकती है। यूटीआई होने पर आपको यूर‍िन करने की त्रीव इच्‍छा हो सकती है, यूर‍िन के दौरान दर्द हो सकता है, यूर‍िन का रंग बदल सकता है, यूर‍िन के दौरान स्‍मेल आ सकती है, कुछ मह‍िलाओं को गंभीर इंफेक्‍शन के दौरान उल्‍टी भी आ सकती है। वहीं कुछ मह‍िलाओं को बुखार जैसे लक्षण भी देखने को म‍िल सकते हैं। ऐसा नहीं क‍ि यूर‍िनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन केवल मह‍िलाओं को होता है ये समस्‍यसा पुरुषों को भी हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें- यूटीआई (यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन) को ठीक करने वाले आसान आयुर्वेदिक नुस्खे

यात्रा के दौरान क्‍यों बढ़ जाता है यूटीआई का खतरा? 

यात्रा के दौरान गंदे बॉथरूम में जाने से भी आपको यूटीआई इंफेक्शन हो सकता है। यात्रा के दौरान बाहर का खाना खाने से आपकी इम्‍यून‍िटी कमजोर हो सकती है ज‍िसके कारण भी आपको यूटीआई की समस्‍या हो सकती है। बाहर यात्रा के दौरान आप सार्वजान‍िक शौचालय का इस्‍तेमाल करते हैं तो आपको यूटीआई की समस्‍या हो सकती है। एक बात का ध्‍यान रखें क‍ि आपको ज्‍यादा देर के ल‍िए यूर‍िन को रोकने की कोश‍िश नहीं करनी है, ये यूटीआई का सबसे बड़ा कारण है।

यात्रा के दौरान भीगने से बचें

यात्रा के दौरान आप क‍िसी पहाड़ी इलाके में जा रहे हैं तो भीगने से बचें। बार‍िश में भीगने के कारण भी यूटीआई के लक्षण नजर आ सकते हैं। ज्‍यादा देर तक गीले रहने के कारण आपको कपड़ों से इंफेक्‍शन का डर हो सकता है। यात्रा के दौरान अपने साथ बैग या पर्स में एक्‍सट्रा अंडर गॉर्मेंट रखें और कोश‍िश करें क‍ि ऐसी जगह चुनें जहां आप भीगने से बच जाएं।

पब्‍लि‍क टॉयलेट का इस्‍तेमाल कैसे करें? (How to use public toilet) 

पब्‍लिक टॉयलेट इस्‍तेमाल करते समय इन बातों का ध्‍यान रखें-

  • बाहर जब भी जाएं तो इस बात का खयाल रखें क‍ि टॉयलेट सीट पर बैठने से पहले आप टॉयलेट सीट सैनेटाइजर का इस्‍तेमाल करें। 
  • इन द‍िनों बाजार में टॉयलेट सीट सैनेटाइजर आपको आराम से म‍िल जाएंगे, इससे आप इंफेक्‍शन से बच सकते हैं। 
  • इसके साथ ही आपको इस बात का भी ध्‍यान रखना होगा क‍ि सार्वजन‍िक टॉयलेट को इस्‍तेमाल कर रहे हैं तो टॉयलेट सीट पर बैठने से पहले उसे एक बार ट‍िशू पेपर से साफ कर लें।
  • टॉयलेट इस्‍तेमाल करने से पहले आपको उसे फ्लश करना चाह‍िए। 
  • टॉयलेट इस्‍तेमाल करने से पहले और बाद में हाथों को अच्‍छी तरह से साबुन और पानी से साफ करें।

प्राइवेट पॉर्ट की सफाई कैसे करें? (How to clean your private area)

  • आपको प्राइवेट पॉर्ट की सफाई करने के ल‍िए अपने साथ एक माइल्‍ड क्‍लींजर रखना चाह‍िए। 
  • क्‍लींजर की मदद से आप प्राइवेट एर‍िया को क्‍लीन कर सकती हैं। 
  • अगर आप यात्रा कर रही हैं और आपके पास क्‍लींजर नहीं है तो अपने साथ क्‍लीन वाइप्‍स को कैरी करें। 
  • वाइप्‍स की मदद से आप प्राइवेट एर‍िया को क्‍लीन कर सकती हैं। 
  • कोश‍िश करें क‍ि प्राइवेट एर‍िया को ज्‍यादा से ज्‍यादा ड्राय रखें नहीं को यूटीआई होने की आशंका बढ़ जाती है।

इसे भी पढ़ें- खांसी या छींक आने पर लीक हो जाता है यूरिन? जानें इस समस्या में फायदेमंद 3 योगासन

यूटीआई की समस्‍या दूर करने के उपाय (Home remedies to cure UTI)

UTI precaution

(image source:diagnoxhealth.com)

यूटीआई की समस्‍या को दूर करने के कुछ आसान घरेलू नुस्‍खे अपना सकते हैं- 

  • इलायची का सेवन करने से यूटीआई की समस्‍या दूर होती है। इलायची को कूटकर पानी में म‍िलाएं और उसे पी लें, अगर आप यात्रा के दौरान पानी उबाल नहीं सकती तो दूध या क‍िसी भी तरल पदार्थ के साथ भी इलायची का सेवन कर सकती हैं।
  • अगर आपको यूटीआई हो गया है तो आप प्‍याज कस इस्‍तेमाल करें। प्‍याज को दो पानी में उबाल लें और उस पानी को आधा होने तक उबालें और पी लें। इससे इंफेक्‍शन दूर होगा।
  • यूटीआई की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आंवले का चूर्ण भी यात्रा के दौरान कैरी कर सकती हैं, आंवला के चूरण का सेवन करने से यूर‍िनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन दूर होता है।

ट्रैवल के दौरान यूटीआई की समस्‍या से कैसे बचें? (How to prevent UTI while travelling) 

अगर आप ट्रेवल कर रही हैं तो इन बातों का ध्‍यान रखें- 

  • आप घर पर हों या बाहर हों आपको केवल कॉटन अंडरगॉर्मेट्स ही पहनने चाह‍िए। कॉटन फ्रैब्र‍िक से इंफेक्‍शन नहीं होता। कुछ मह‍िलाएं सिंथेट‍िक कपड़े से बनी अंडरगॉर्मेंट का इस्‍तेमाल करती हैं ज‍िससे उन्‍हें इंफेक्‍शन हो सकता है। इसके साथ ही आपको इस बात का ध्‍यान रखना चाह‍िए क‍ि अंडरगॉर्मेंट ज्‍यादा टाइट न हो।
  • अगर आप पीर‍ियड्स के दौरान ट्रैवल कर रही हैं तो आपको अपने साथ सैनेटरी नैपक‍िन कैरी करना चाह‍िए, बाहर आप कपड़े का इस्‍तेमाल करने से बचें। 
  • पीर‍ियड्स के दौरान आप यात्रा कर रही हैं तो आपको समय-समय पर पैड बदलने रहना नहीं तो इंफेक्‍शन का खतरा बढ़ सकता है।
  • यूटीआई की समस्‍या से बचने के लि‍ए आपको ज्‍यादा से ज्‍यादा तरल चीजों का सेवन करना चाह‍िए। ज‍ितना ल‍िक्‍व‍िड आप लेंगी उतना इंफेक्‍शन होने की आशंका कम होगी।

अगर आप यूटीआई की समस्‍या पर ध्‍यान नहीं देंगी तो इंफेक्‍शन बढ़ सकता है। अगर आपको यूटीआई के लक्षण नजर आते हैं तो डॉक्‍टर से तुरंत संपर्क करें।

(main image source:hearstapps,shopify)

Read more on Women Health in Hindi

Disclaimer