Doctor Verified

सर्द‍ियों में क‍िडनी के मरीज यूं रखें अपनी सेहत का ख्‍याल, नहीं पड़ेंगे बीमार

सर्द‍ियों में ठंडक बढ़ने का बुरा असर क‍िडनी मरीजों की सेहत पर पड़ता है। जानें सर्दि‍यों से जुड़ी कुछ अच्‍छी हेल्‍थ ट‍िप्‍स।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 02, 2022 13:51 IST
सर्द‍ियों में क‍िडनी के मरीज यूं रखें अपनी सेहत का ख्‍याल, नहीं पड़ेंगे बीमार

सर्द‍ियों में क‍िडनी के मरीजों को व‍िशेष सावधानी बरतनी चाह‍िए। कुछ ऐसी बीमार‍ियां हैं, जि‍नकी चपेट में आने की संभावना सर्द‍ियों में ज्‍यादा रहती है। सर्द‍ियों में त्‍वचा रोग, बीपी की समस्‍या, डायब‍िटीज, गठ‍िया रोग का खतरा बढ़ जाता है। इन बीमार‍ियों का बुरा असर क‍िडनी पर पड़ता है। सर्दियों के द‍िनों में क‍िडनी मरीजों को अन्‍य क‍िसी बीमारी से बचने के ल‍िए स्‍वस्‍थ्‍य द‍िनचर्या का पालन करना चाह‍िए। कसरत और डाइट के अलावा खुद को गरम रखें, ताक‍ि आप बीमार‍ियों की चपेट में न आएं। इसके अलावा कुछ अन्‍य ट‍िप्‍स हैं ज‍िनकी मदद से क‍िडनी के मरीज सर्द‍ियों में अच्‍छी सेहत सुन‍ि‍श्‍च‍ित कर सकते हैं। इन ट‍िप्‍स को आगे जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

kidney health tips

1. सर्द‍ियों में कसरत करना न भूलें 

सर्द‍ियों के मौसम में क‍िडनी के मरीजों को कसरत करना नहीं भूलना चाह‍िए। जरूरी नहीं है क‍ि आप कसरत के ल‍िए बाहर जाएं। इंडोर एक्‍सरसाइज का सहारा ले सकते हैं। 30 से 40 म‍िनट की कसरत कर लेना भी बहुत होगा। क‍िडनी के मरीज मेड‍िटेशन और योग का सहारा भी ले सकते हैं। न‍ियम‍ित कसरत करने से शरीर में मोटापा नहीं बढ़ेगा। मोटापा बढ़ने से क‍िडनी पर दबाव पड़ता है और क‍िडनी की सेहत ब‍िगड़ सकती है।

इसे भी पढ़ें- किडनी फेल क्यों होती है? एक्सपर्ट से जानें कारण और बचाव के उपाय

2. शुगर का स्‍तर कंट्रोल करें 

क‍िडनी मरीजों के ल‍िए शुगर लेवल बढ़ना और बीपी बढ़ना दोनों ही अच्‍छी स्‍थ‍ित‍ि नहीं है। सर्दि‍यों में त्‍यौहार या मौसम की लुत्‍फ उठाते हुए हम ज्‍यादा मीठी चीजों का सेवन कर लेते हैं और इस कारण से सेहत ब‍िगड़ जाती है। आपको समय-समय पर डायब‍िटीज और बीपी का स्‍तर चेक करना चाह‍िए।           

3. सर्द‍ियों में लें हेल्‍दी डाइट   

ठंड के द‍िनों में गरम-गरम पकौड़े और तेल वाले पराठे खाने का मन हर क‍िसी का करता ही है। लेक‍िन क‍िडनी के मरीजों को सर्दि‍यों में डाइट पर व‍िशेष गौर करना है। लहसुन, हरी सब्‍ज‍ियां, फाइबर र‍िच फूड्स आद‍ि का सेवन करें। क‍िडनी के मरीजों को डॉक्‍टर की सलाह के बगैर दवाओं के सेवन से बचना चाह‍िए। दवा, फ‍िल्‍टरेशन के ल‍िए क‍िडनी से होकर ही गुजरती है। दवा में टॉक्‍स‍िन्‍स की मात्रा ज्‍यादा होती है इसल‍िए ज्‍यादा दवाओं के सेवन से भी बचना चाह‍िए।    

4. सर्द‍ियों में ड‍िहाइड्रेशन से बचें 

क‍िडनी के मरीजों को सर्द‍ियों के द‍िनों में ड‍िहाइड्रेशन से बचना चाह‍िए। पानी का सेवन करने से शरीर का तापमान न‍ियंत्रण में रहता है। क‍िडनी से अवशोष‍ित पदार्थों को शरीर से बाहर न‍िकालने के ल‍िए पानी का सेवन जरूरी है। रोजाना 2 से 3 लीटर पानी का सेवन करें। पानी के अलावा नींबू पानी, नार‍ियल पानी, सब्‍ज‍ियों के रस का सेवन भी कर सकते हैं।        

5. सर्द‍ियों में ज्‍यादा चाय-कॉफी न प‍िएं  

सर्दियों में शरीर को गरम रखने के ल‍िए लोग चाय, कॉफी का सेवन करते हैं। लेक‍िन क‍िडनी के मरीजों को चाय, कॉफी के ज्‍यादा सेवन से बचना चाह‍िए। इसमें कैफीन की मात्रा ज्‍यादा होती है। कैफीन इंटेक बढ़ाने से क‍िडनी को बेकार पदार्थों को शरीर से बाहर न‍िकालने में ज्‍यादा मेहनत करनी पड़ती है।  

ऊपर बताए ट‍िप्‍स की मदद से क‍िडनी के मरीज सर्द‍ियों में अपनी अच्‍छी सेहत सुन‍िश्‍च‍ित कर सकते हैं। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें।         

Disclaimer