PCOS के कारण प्रेगनेंसी में न आए कोई समस्या, अपनाएं ये 5 उपाय

पीसीओएस की समस्या में भी आप आसानी से गर्भाधारण कर सकती हैं। इसके लिए आपको ये टिप्स को जरूर फॉलो करना चाहिए। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Jul 12, 2022Updated at: Jul 12, 2022
PCOS के कारण प्रेगनेंसी में न आए कोई समस्या, अपनाएं ये 5 उपाय

पीसीओएस (पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम) की समस्या में महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का उच्च स्तर उन्हें गर्भवती होने से रोकता है। यह हार्मोन असंतुलन अंडाशय में गांठ बनने के कारण होता है। इससे महिलाओं को कंसीव करने में परेशानी आती है। कई बार उन्हें गर्भधारण के लिए अलग-अलग तकनीक का सहारा लेना पड़ता है। हालांकि पीसीओएस की समस्या में भी आप अपनी लाइफस्टाइल और खानपान में बदलाव करके गर्भधारण कर  सकती हैं। पीसीओएस की समस्या से पीड़ित महिलाओं को कंसीव करने के लिए ये उपाय अपनाने चाहिए। 

पीसीओएस के साथ गर्भाधारण करने के उपाय 

1. जीवनशैली में बदलाव 

शरीर में इंसुलिन रेजिस्टेंस कम करने के लिए आप स्वस्थ भोजन, अच्छी नींद और स्वस्थ व्यायाम को अपनी रूटीन में शामिल कर  सकती हैं। इसके अलावा आपको शराब और धूम्रपान के सेवन से बचना चाहिए। साथ ही डॉक्टर की सलाह के बाद आपको जरूरी विटामिन का भी सेवन करना चाहिए। यह आपके हार्मोन और इंसुलिन के स्तर को संतुलित करने में मदद कर सकता है और गर्भधारण में सहायता कर सकता है। 

how-to-get-pregnant-with-pcos

2. स्ट्रेस बिल्कुल न लें

जीवन की कई समस्याओं के कारण महिलाओं को कई तरह के स्ट्रेस होते हैं। तनाव होना एक सामान्य बात है लेकिन इसे बहुत समय तक कैरी करना आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। इससे आपके शरीर में हार्मोन का संतुलन बिगड़ सकता है। अपने स्ट्रेस लेवल को कम करने के लिए आप लंबी सैर पर जाएं, प्रतिदिन योग और ध्यान का अभ्यास जरूर करें। इससे आपको पॉजिटिव रहने में मदद मिलती है। 

3. खुद को एक्टिव रखें

सुस्त जीवनशैली के कारण भी आपका वजन बढ़ सकता है, इसलिए इंसुलिन रेजिस्टेंस से लड़ने के लिए सक्रिय होना बेहद महत्वपूर्ण है। इसके लिए आप अपने घर में ही एक्सरसाइज कर सकती हैं। इसके अलावा आप अपने घर के काम कर सकती हैं। स्विमिंग, टहलना और डांस करना जैसी गतिविधियों की मदद से खुद को एक्टिव और स्वस्थ रख सकती हैं। 

इसे भी पढे़ं- PCOS से पीड़ित महिलाएं वजन कम करने के लिए खाएं ये 5 फूड्स

4. क्रोमियम और मैग्नीशियम का स्तर

शरीर में क्रोमियम और मैग्नीशियम के निम्न स्तर के कारण बांझपन (इन्फर्टिलिटी) का खतरा बढ़ सकता है। इसलिए, इन दो आवश्यक खनिजों से भरपूर आहार लेने या सप्लीमेंट्स लेने से पीसीओएस से प्रभावित महिला को गर्भधारण करने में मदद मिल सकती है। इसके लिए आप डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। 

how-to-get-pregnant-with-pcos

5. गैर-स्टार्च वाली सब्जियों, फलों और प्रोटीन से भरपूर आहार खाएं

पीसीओएस के उपचार में दवा, एक्यूपंक्चर और सर्जरी शामिल हैं लेकिन प्राकृतिक रूप से पीसीओएस के लिए आप हरी पत्तेदार और बिना स्टार्च वाली सब्जियों, फलों और नट्स से भरपूर पौष्टिक भोजन खाएं।  ये आपके शरीर में इंसुलिन रेजिस्टेंस को कम करने में मदद  करते हैं और इसके परिणामस्वरूप हार्मोन असंतुलन ठीक होता है, जो गर्भाधारण करने में आपकी मदद कर सकता है।

(All Image Credit- Freepik.com)

Disclaimer