Doctor Verified

व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन कब करना चाह‍िए? जानें इसे खाने का सही समय और तरीका

व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन करने से पहले उसे खाने का सही समय और तरीका जरूर जान लें 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Nov 11, 2021Updated at: Nov 11, 2021
व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन कब करना चाह‍िए? जानें इसे खाने का सही समय और तरीका

सप्‍लीमेंट का चलन आजकल बढ़ गया है, शारीर‍िक समस्‍या होने पर लोग डॉक्‍टर के पास जाने के बजाय सप्‍लीमेंट का सेवन करने लगते हैं पर आपको गौर करना चाह‍िए इन गोलि‍यों की जरूरत आपको है भी या नहीं। कुछ सप्‍लीमेंट ऐसे होते हैं ज‍िन्हें एक न‍िश्‍च‍ित समय पर ही खाना सेफ होता है। ऐसा ही एक सप्‍लीमेंट है व‍िटाम‍िन डी। व‍िटाम‍िन डी हमारी हड्ड‍ियों की कमजोरी दूर करने के लि‍ए जरूरी पोषक तत्‍व है। व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन करने से पहले आपको उसे खाने का सही समय और तरीाक जान लेना चाह‍िए नहीं तो आप क‍िसी शारीर‍िक समस्‍या का भी श‍िकार हो सकते हैं। इस लेख में हम व‍िटाम‍िन डी के नैचुरल स्रोत, व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट लेने का सही समय और तरीका आद‍ि पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डाइटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की।

vitamin d supplement

(image source:shopify)

व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन कैसे करें? (How to take vitamin D supplement) 

व‍िटाम‍िन डी का सप्‍लीमेंट का सेवन केवल डॉक्‍टर की सलाह पर करना चाह‍िए, ये उन लोगों को द‍िया जाता है ज‍िनके शरीर में व‍िटाम‍िन डी की कमी होती है और खाने से वो कमी दूर नहीं होती, उस केस में सप्‍लीमेंट द‍िया जाता है। व‍िटाम‍िन डी एक फैट-सॉल्‍यूबल व‍िटाम‍िन है यानी ये बॉडी द्वारा पूरी तरह से एब्‍सॉर्ब हो जाएगा इसल‍िए इसे आप उस मील के साथ लें ज‍िसमें आप हेल्‍दी फैट का सेवन कर रहे हों जैसे एवोकाडो, अंडे, नट्स, ऑल‍िव ऑयल आद‍ि।

इसे भी पढ़ें- थायराइड मरीजों के लिए क्यों जरूरी है कैल्शियम और विटामिन डी से भरपूर डाइट? डॉक्टर से जानें

आपको व‍िटामि‍न डी का सेवन कब करना चाह‍िए? (Best time to take vitamin D supplement)

  • आप व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन खाने के वक्‍त के आसपास ले सकते हैं। 
  • आपको व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन सोने से ठीक पहले नहीं करना चाह‍िए क्‍योंक‍ि रात में सप्‍लीमेंट का सेवन करने से मेलाटोन‍िन हार्मोन पर असर पड़ता है ज‍िससे अन‍िद्रा की समस्‍या हो सकती है। 
  • ज्यादातर डॉक्‍टर से मानते हैं क‍ि द‍िन के पहले हॉफ यानी दोपहर से पहले आपको सप्‍लीमेंट खा लेना चाह‍िए।

व‍िटाम‍िन डी के नैचुरल स्रोत (Natural sources of vitamin D)

vitamin d medicine

(image source:shopify)

  • व‍िटाम‍िन डी के नैचुरल स्रोत का कोई वि‍कल्‍प नहीं हो सकता इसल‍िए आपको पर्याप्‍त मात्रा में धूप के जर‍िए व‍िटाम‍िन डी लेना चाह‍िए उसके ल‍िए आप सुबह के वक्‍त कम से कम 20 म‍िनट सूरज की क‍िरणों के नीचे बैठें।
  • दोपहर की धूप में बैठने से बचें, व‍िटाम‍िन डी के ल‍िए सुबह की धूप या रौशनी फायदेमंद होती है। 
  • सूरज की क‍िरणों के अलावा आपको टूना, सेलमॉन जैसी फ‍िश से ही भी व‍िटाम‍िन डी म‍िलेगा। 
  • अंडे का सफेद भाग, सोया म‍िल्‍क, दूध, दही, मशरूम, संतरे का जूस या अनाज में भी व‍िटाम‍िन डी मौजूद होता है।

इसे भी पढ़ें- ऑस्टियोपोरोसिस के मरीज कैल्शियम और विटामिन डी की कमी कैसे करें दूर? डॉक्टर से जानें खाने में क्या खाएं 

क‍िन लक्षणों से पहचानें व‍िटाम‍िन डी की कमी? (Symptoms of vitamin D deficiency)

आपको व‍िटामि‍न डी सप्‍लीमेंट का सेवन करने से पहले ये जान लेना चाह‍िए क‍ि आपके शरीर को व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट की जरूरत अलग से है या नहीं, अगर आपके शरीर में व‍िटाम‍िन डी की कमी है तो ये लक्षण नजर आएंगे- 

  • ह‍िप्‍स, जांघ वाले ह‍िस्‍से में दर्द 
  • थकान और च‍िड़च‍िड़ापन 
  • हड्ड‍ियों में दर्द और कमजोरी 
  • तनाव और मूड स्‍व‍िंग 
  • बाल झड़ना

व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट के नुकसान (Side effects of vitamin D supplement)

व‍िटाम‍िन डी सप्‍लीमेंट का सेवन करने से पहले आपको व‍िटाम‍िन डी लेवल चेक करने के ल‍िए टेस्‍ट करवाना चाह‍िए और जरूरत होने पर ही सप्‍लीमेंट का सेवन च‍िकि‍त्‍सा सलाह पर करना चाह‍िए। अगर आप जरूरत से ज्‍यादा व‍िटाम‍िन डी का सेवन करेंगे तो आपको हाइपरकैल्सीमिया (hypercalcemia) नाम की बीमारी हो सकती है ज‍िसमें कैल्‍श‍ियम का लेवल ब्‍लड में बढ़ जाता है। व‍िटाम‍िन डी की ज्‍यादा मात्रा की हमें जरूरत नहीं होती क्‍योंक‍ि ये व‍िटाम‍िन फैट के माध्‍यम से शरीर में घुल जाते हैं। ज्‍यादा व‍िटामि‍न डी का सेवन करने से ये फैट के साथ जमा हो जाते हैं। 

व‍िटाम‍िन डी का सेवन करने से पहले आप ज‍िस कंपनी का सप्‍लीमेंट ले रहे हैं उसके इंग्रीड‍िएंट्स चेक करें और ब‍िना डॉक्‍टर या फ‍िज‍ियन के सलाह के सप्‍लीमेंट का सेवन करने से बचें। 

(main image source:google)

Disclaimer