प्रेगनेंसी के दौरान वजन कम है तो इन 6 घरेलू तरीकों से बढ़ाएं वजन, ताकि डिलीवरी में न आए कोई परेशानी

प्रेगनेंसी के दौरान यदि महिलाओं का वजन कम है तो इससे उनके भ्रूण के विकास पर भी असर पड़ सकता है। जानें सकारात्मक रूप से वजन बढ़ाने के तरीके

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Sep 21, 2021
प्रेगनेंसी के दौरान वजन कम है तो इन 6 घरेलू तरीकों से बढ़ाएं वजन, ताकि डिलीवरी में न आए कोई परेशानी

गर्भावस्था के दौरान महिलाएं 9 महीने अपनी और अपने बच्चे का पूरा ख्याल रखने की कोशिश करती हैं। ऐसे में वे अपनी डाइट में उन चीजों को जोड़ती हैं जिससे उन्हें और उनके बच्चों को फायदा हो। ऐसे में अगर गर्भावस्था के दौरान महिला का वजन कम हो जाए तो इससे उनके बच्चे की सेहत पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन संतुलित होना चाहिए। अर्थात वजन ना ज्यादा कम होना चाहिए और ना ज्यादा ज्यादा होना चाहिए। ऐसे में कम वजन वाली महिलाएं गर्भावस्था के दौरान कुछ घरेलू उपाय को अपनाकर अपने वजन को बढ़ा सकती हैं। कुछ घरेलू उपाय महिलाओं के वजन को बढ़ाने में उनके काम आ सकते हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि गर्भावस्था के दौरान महिलाएं अपने वजन को कैसे सकारात्मक रूप से बढ़ा सकती हैं। इसके लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल ( Nutritionist and wellness expert varun katyal) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

 

1 - डाइट में जोड़ें हेल्दी फैट्स

महिलाओं को अपनी डाइट में कुछ ऐसे हेल्दी फैट्स जोड़ने चाहिए जो सकारात्मक रूप से महिलाओं का वजन बढ़ा सकें। उदाहरण के तौर पर जैसे- काजू, बादाम, अखरोट, फैटी फिश, एवोकाडो, ऑलिव ऑयल आदि चीजों के अंदर फैट मौजूद होता है जो महिलाओं के वजन को बढ़ाने में उपयोगी है। ध्यान रहें कि ज्यादा कैलोरी और ज्यादा फैट एक साथ वजन को बढ़ा सकते हैं ऐसे में सही मात्रा के लिए डाइटीशियन की मदद लें। 

इसे भी पढ़ें- पिंडलियों के दर्द से हैं परेशान तो राहत पाने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

2 - रिच प्रोटीन फूड्स को जोड़ें

रिच प्रोटीन फूड्स महिलाओं में सकारात्मक रूप से वजन बढ़ाने में उपयोगी है। उदाहरण के तौर पर महिलाएं अपनी डाइट में मूंगफली, बींस, राजमा, दाल, पनीर, सोयाबींस, ब्रोकली, चिया सीड्स आदि को अपनी डाइट में जोड़ सकती हैं और अपने वजन को सकारात्मक रूप से बढ़ा सकती हैं। बता दें कि इन फूड के अंदर भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो महिलाओं के लिए बेहद उपयोगी है। लेकिन इसके सेवन से पहले भी मात्रा की जानकारी डाइटीशियन से ले लें।

3 - डाइट में जोड़ें हेल्दी ड्रिंक्स

कुछ हेल्दी ड्रिंक्स का सेवन महिलाएं में सकारात्मक रूप से वजन को बढ़ा सकता है। बता दें कि इन ड्रिंक्स में संतरे का जूस, गाजर का जूस या पपीते के जूस आदि शामिल हैं। इन ड्रिंक्स के अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। साथ ही यह जूस कैरोटीन के भी मुख्य स्रोतों में से हैं। ऐसे में महिलाएं अपनी डाइट में इन जूस को जोड़कर सकारात्मक रूप से वजन को बढ़ा सकते हैं।

4 - एक्सरसाइज भी है जरूरी

गर्भावस्था के दौरान अकसर महिलाएं गतिविधियों को अपनी दिनचर्या से निकाल देती हैं। ऐसा करना गलत होता है। महिलाएं अपनी दिनचर्या में एक्सपर्ट की सलाह पर कुछ ऐसी एक्सरसाइज को जोड़ें, जिससे महिलाओं का वजन नियंत्रित रहे और बच्चे और मां की सेहत भी सही बनी रहे। ध्यान दें कि किसी के कहने पर महिलाएं कोई भी शारीरिक गतिविधि को ना करें।

5 - जंक फूड से दूरी जरूरी

गर्भावस्था के दौरान महिलाएं जंक फूड का सेवन ना करें। बता दें कि जंक फूड के सेवन से मेटाबॉलिज्म रेगुलेशंस में दिक्कत आ सकती है, जिससे महिलाओं का वजन भी असंतुलित हो सकता है और भ्रूण की सेहत पर प्रभाव पड़ सकता है। ऐसे में जंक फूड या प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थ महिलाएं गर्भावस्था के दौराम अपनी डाइट से निकाल दें। उदाहरण के तौर पर बर्गर, पिज़्ज़ा, नूडल्स, चाऊमिन, मैदा, सोडा आदि चीजों से दूरी बनाए रखें।

इसे भी पढ़ें- गर्दन के पिछले हिस्से में दर्द को दूर करने के लिए अपनाएं ये 6 घरेलू नुस्खे

6 - थोड़े- थोड़े समय में कुछ खाते रहें

एक ही समय में ज्यादा मात्रा में भोजन करने से अच्छा है कि महिलाएं दिन में चार से पांच बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में भोजन करें। ऐसा करने से न केवल मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है बल्कि वजन को बढ़ाने में भी मदद मिलती है। उदाहरण के तौर पर महिलाएं प्रोटीन, हरी सब्जियां आदि को अपनी डाइट में जोड़ सकती हैं।

नोट  -ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि प्रेगनेंसी के दौरान कम वजन वाली महिलाएं अपनी डाइट और अपनी दिनचर्या में थोड़ा सा बदलाव करके अपने वजन को सकारात्मक रूप से बढ़ा सकती हैं। लेकिन अगर ऊपर बताए गए किसी भी चीज से आपको एलर्जी है तो उसका सेवन करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। वरना आपकी सेहत के साथ भ्रूण की सेहत पर भी प्रभाव पड़ सकता है। वहीं अगर महिलाएं एक्सरसाइज कर रही हैं तो सही जानकारी के लिए एक्सपर्ट की राय लें। किसी के कहने पर अपनी दिनचर्या या डाइट में बदलाव ना करें।

इस लेख में फोटोज़ FREEPIK से ली गई हैं। 

Read More Articles on home remedies in hindi

Disclaimer