प्रेग्नेंसी में हो रही है जंक फूड खाने की क्रेविंग तो खाएं ये 8 हेल्दी फूड्स, क्रेविंग से तुरंत मिलेगा छुटकारा

गर्भावस्था में जंक फूड की क्रेविंग होने पर उन्हें हेल्दी जंक फूड के साथ बदल सकते हैं। इससे आपको सभी पोषक तत्त्व मिलेंगे।

Meena Prajapati
Written by: Meena PrajapatiUpdated at: Apr 08, 2021 16:06 IST
प्रेग्नेंसी में हो रही है जंक फूड खाने की क्रेविंग तो खाएं ये 8 हेल्दी फूड्स, क्रेविंग से तुरंत मिलेगा छुटकारा

गर्भावस्था में अलग-अलग तरह के फूड खाने की लालसा (Craving) होती है। अगर आपको भी किसी तरह के खाने को खाने की क्रेविंग होती है तो घबराने की बात नहीं है, प्रेग्नेंसी में यह बहुत आम बात है। गर्भावस्था के दौरान शरीर में कई हार्मोनल बदलाव होते हैं। जिस वजह से अलग-अलग तरह की फूड क्रेविंग होती है। दिल्ली के अपोलो अस्पताल में न्यूट्रीशनिस्ट डॉक्टर पुनीता श्रीवास्तव ने बताया कि प्रेग्नेंसी में अगर जंक फूड की क्रेविंग हो रही है तो उसे रोकने के बजाए उसके हेल्दी विकल्प ढूंढ़ें। डॉक्टर ने बताया कि अगर प्रेग्नेंसी में जंक फूड की क्रेविंग हो रही है तो उसे हेल्दी जंक फूड के साथ रिप्लेस किया जा सकता है। पर फिर भी महिला को यह ध्यान रखना चाहिए कि ज्यादा जंक फूड खाना मिसकैरेज कर सकता है। पर सीमित और हेल्दी तरीके से जंक फूड खाना नुकसान को कम कर सकता है। आज इस लेख में हम जानेंगे कि अगर आपको भी प्रेग्नेंसी के दौरान जंक फूड को खाने की इच्छा (Junk Food Craving During Pregnancy) ज्यादा हो रही है तो किन हेल्दी जंक फूड के साथ रिप्लेस कर सकते हैं। 

Inside3_pregnancyjunkfoodcraving.jpg

इन हेल्दी जंक फूड के साथ करें रिप्लेस

1. आटे वाला पिज्जा

जंक फूड में पिज्जा भी आता है। अगर प्रेग्नेंसी के दौरान आपको पिज्जा खाने का मन कर रहा है तो मैदे वाले पिज्जा की जगह मल्टी ग्रेन आटा का पिज्जा खाएं। इसे आप चाहें तो घर पर बना सकते हैं या फिर बाजार से भी खरीद सकते हैं। ये पिज्जा आपके बच्चे को आटे के न्यूट्रीशन पहुंचा देगा। इससे बच्चे को नुकसान नहीं होगा। और मां को भी पोषक तत्त्व मिल जाएंगे।

2. आटा नूडल

मैदा पचने में दिक्कत करता है। खाना ठीक से नहीं पचने की वजह से कब्ज की शिकायत हो सकती है। जबकि प्रेग्नेंसी में डॉक्टर्स कहते हैं कि कब्ज नहीं बननी चाहिए। इस कब्ज से बचने के लिए जरूरी है कि सही खाने का चुनाव किया जाए। मैदे वाले नूडल की जगह आटा नूडल खाएं। आजकल बाजार में कई ब्रांड के आटा नूडल आ गए हैं।

3. घर पर बनाएं नमकपारे

प्रेग्नेंसी में बाहर की चीजों को खाने से छोड़ना चाहिए।  अगर आप बाहर की चीजें खाते हैं तो वे मां और शिशु दोनों के लिए नुकसानदायक होते हैं। दरसअसल जो जंक फूड हम बाहर से खरीद रहे हैं उनमें ट्रांस फैट होते है। पुराने तेल में काम हो रहा होता है। इसलिए आप घर पर ही जंक फूड बना सकते हैं। नमकपारे एक बहुत ही आसान रेसिपी है। घर पर बने नमकपारे आपकी भूख भी शांत करेंगे और ज्यादा नुकसान भी नहीं पहुंचाएंगे।

Inside7_pregnancyjunkfoodcraving

4. रोस्टेड समोसा

किसी भी चीज का ज्यादा उपभोग नुकसानदेह होता है। समोसा भी उन्हें में से एक है। प्रेग्नेंसी में ज्यादा समोसा खाना नुकसान पहुंचा सकता है। लेकिन बाजार से ज्यादा घर पर बना समोसा आप खा सकते हैं। घर पर बने समोसे में खराब तेल का इस्तेमाल नहीं किया जाता। दूसरा सफाई का पूरा ध्यान रखा जाता है। घर पर समोसा बनाते समय उसमें अपने मनपसंद सब्जियां डालें और उसे रोस्ट कर लें। इस तरह समोसा खाने से आपकी कैलोरी और कॉलेस्ट्रॉल ठीक रहेगा।  

इसे भी पढ़ें : Food Cravings: फूड क्रेविंग्स क्यों होती हैं? जानें क्या करें जब जंक फूड खाने का खूब करे मन

5. आलू की टिक्की

आलू की टिक्की देखने में जितनी लजीज लगती है उतनी ही खाने में। ऊपर से जो महिला प्रेग्नेंट होती हैं, उन्हें तो टिक्की देखकर रुक पाना मुश्किल होता होगा। आलू की टिक्की देखते ही अगर आपके भी मुंह में पानी आ जाता है तो बाजार की टिक्की खाने से बेहतर है आप घर पर टिक्की बनाकर खाएं। इस टिक्की को डीप फ्राई करने के बजाए भूनकर खाएं। उसमें अपने मुताबिक सब्जियां डाल लें। उसे स्वस्थ बनाने की कोशिश करें।

6. चिप्स खाएं

जिन प्रेग्नेंट महिलाओं को चिप्स खाने की क्रेविंग होती है उन्हें घर पर बने चिप्स खाने चाहिए। चिप्स को धोकर चिप्स वाली मशीन से काट लें। फिर पानी में हल्का उबालकर धूप सुखा लें। बाद में इन चिप्स को अवन में भून लें। इस तरह चिप्स खाने से आपकी भूख भी शांत होगी और इसी बहाने आप हेल्दी जंक फूड खा पाएंगे। 

Inside2_pregnancyjunkfoodcraving

7. आटे के बन का बर्गर (Wheat bun burger)     

बाजार के मैदे वाले बर्गर से अच्छा है कि आप घर पर आटे के बन का बर्गर खाएं। इसमें हरी सब्जियां मिलाएं। इससे आपको और आपके बच्चे को जरूरी पोषक तत्त्व मिल जाएंगे। सेहत को नुकसान भी नहीं पहुंचेगा।

इसे भी पढ़ें : क्या आप भी हैं प्रेग्नेंसी के समय फूड क्रेविंग से परेशान? जानिए किस तरह का खाना अवॉइड करना चाहिए

8. चॉकलेट केक बनाएं

बहुत से लोगों को नमकीन जंक फूड के अलावा मीठे फूड खाने की भी क्रेविंग होती है। ज्यादा मीठी शुगर की दिक्कत को बढ़ाता है। अगर आपको भी प्रेग्नेंसी में मीठा खाने की इच्छा हो रही है तो घर पर चॉकलेट केक बना सकते हैं। ये ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक होगा।

क्रेविंग्स को कैसे रोकें (How to stop cravings)

न्यूट्रीशनिस्ट डॉ. पुनीता का कहना है कि गर्भावस्था में जंक फूड खाने की इच्छा इसलिए ज्यादा होती है क्योंकि महिलाएं प्रोटीन की मात्रा ठीक नहीं ले रही हैं। प्रेग्नेंसी में प्रोटीन, कैल्शियम, फाइबर और विटामिन का उपभोग बराबर मात्रा में होना चाहिए। इस दौरान पपीता, अनार जैसे फल न खाएं। तो वहीं, उनका कहना है कि ज्यादा जंक फूड खाने से बच्चा खराब भी हो सकता है। इसलिए क्रेविंग को रोकना जरूरी है।

प्रोटीन का सेवन

सही मात्रा में प्रोटीन रिच खाद्य पदार्थ खाने से जंक फूड की क्रेविंग नहीं होती है। इससे महिलाओं का शुगर लेवल भी ठीक रहता है। प्रोटीन से उन्हें प्रॉपर खाना मिलेगा जिससे क्रेविंग रुकेगी। इसके अलावा हेल्दी फैट खाएं। ड्राई फ्रूट्स लें। जिसमें ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैट होता है, जिससे वजन कम होता है।

इसे भी पढ़ें : फास्ट फूड्स और जंक फूड्स छोड़ना चाहते हैं? ये 5 टिप्स करेंगी आपकी मदद

रोज ब्रेकफास्ट करें

प्रेग्नेंसी में जरूरी है कि रोज स्वास्थ्यवर्धक ब्रेकफास्ट करें। इसमें फल, सब्जियां, सलाद आदि शामिल हो सकता है। नियमित हेल्दी ब्रेकफास्ट जंक फूड की लालसा को कम करता है।

नियमित व्यायाम

रोज एक्सरसाइज करने से क्रेविंग से ध्यान हट जाता है। शरीर स्वस्थ रहता है। ज्यादा हार्ड एक्सरसाइज प्रेग्नेंसी में न करें। इसके लिए आप धीरे-धीरे चल सकते हैं। 

भावनात्मक सहयोग लें

प्रेग्नेंसी में मूड स्विंग्स बहुत होते हैं। ऐसे में परिवार की तरफ से भावनात्मक सपोर्ट मिलना बहुत जरूरी है। इमोशनल स्थिति असंतुलित होने की वजह से भी फूड क्रेविंग बढ़ती है।

गर्भावस्था में ज्यादा जंक फूड नुकसान पहुंचा सकता है। इससे मिसकैरेज भी हो सकता है। इसलिए सीमित मात्रा में जंक फूड खाएं। दूसरा अगर क्रेविंग हो भी रही है तो उसे रोकें नहीं बल्कि उसका हेल्दी विकल्प ढूंढ़ें।

Read More Articles On Healthy Eating in Hindi

 

Disclaimer