उड़द की दाल ज्यादा खाने से सेहत को हो सकते हैं ये 5 नुकसान, डायटीशियन से जानें इसका कारण

उड़द दाल का ज्यादा सेवन करना आपको नुकसान पहुंचा सकता है। यहां डायटीशियन से जानें इसके बारे में। 

 
Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraUpdated at: Aug 02, 2021 19:35 IST
उड़द की दाल ज्यादा खाने से सेहत को हो सकते हैं ये 5 नुकसान, डायटीशियन से जानें इसका कारण

स्वस्थ शरीर के लिए एक बेहतर डाइट फॉलो करना बेहद जरूरी होता है। कई खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं, जिन्हें खाने से फायदे तो कई होते हैं, लेकिन ज्यादा खाने से नुकसान भी होते हैं। ऐसा ही उड़द दाल के साथ भी है। क्या आप भी उड़द की दाल का सेवन अत्यधिक करते हैं? अगर हां, तो इस लेख के माध्यम से हम आपको उड़द दाल का ज्यादा सेवन करने से होने वाले कुछ नुकसानों के बारे में बताएंगे। दरअसल उड़द की दाल ज्यादा खाने से शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है। जिससे किड़नी में पथरी बनने की भी आशंका बढ़ जाती है। हालांकि उड़द की दाल सेहत के लिहाज से काफी फायदेमंद होती है, लेकिन इसका ज्यादा सेवन आपको नुकसान पहुंचा सकता है। इसी विषय पर अधिक जानकारी लेने के लिए हमने दिल्ली की एसेंट्रिक डाइट क्लीनिक की डायटीशियन शिवाली गुप्ता (Shivali Gupta, Dietician, Eccentric Diet Clinic, Delhi) से बातचीत की। चलिए जानते हैं इसके बारे में। 

acidity

1. गैस बनना (Acidity)

अगर आपको अपच की समस्या अक्सर रहती है तो आपके लिए अधिक उड़द दाल का सेवन अच्छा नहीं होगा। उड़द दाल का अधिक सेवन करने से शरीर में कब्ज़ की समस्या हो सकती है। उड़द दाल फाइबर से भरपूर होती है। जब आप इसका सेवन अधिक मात्रा में कर लेते हैं तो आपकी शरीर में फाइबर की मात्रा अधिक हो जाती है तो ऐसे में आपके पेट में गैस, अपच और ममोड़न की समस्या होने लगती है। इसलिए उड़द दाल की कितनी मात्रा आपके शरीर के लिए लाभदायक है यह अपने डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही डाइट में इसे शामिल करें। इसका अधिक सेवन करने से आपका खाना जल्दी नहीं पचता है। 

इसे भी पढ़ें - आलू के दूध (Potato Milk ) से सेहत को मिलते हैं ये 9 फायदे, न्यूट्रीशनिस्ट से जानें इसकी रेसिपी

2. यूरिक एसिड बढ़ता है (Increases Uric Acid)

डायटीशियन शिवाली गुप्ता ने बताया कि उड़द दाल का अधिक सेवन आपके पथरी का भी कारण बन सकती है। अधिक उड़द दाल खाने से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा भी बढ़ सकता है। यह स्वास्थ के लिए अच्छा नहीं होता है। यह दाल आपके ब्लड में यूरिक एसिड बढ़ाकर किडनी या गुर्दे में पथरी का खतरा बढ़ा देती है। पथरी के मरीजों को तो वैसे भी उड़द दाल का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा अधिक उड़द दाल से गाल ब्लेडर में भी पथरी हो सकती है। इसलिए उड़द दाल को नियमित मात्रा में ही खाना चाहिए। इसके लिए अपनी डायटीशियन या फिर चिकित्सक से मात्रा की सलाह लें।  

3. वजन बढ़ाए (Weight Gain)

डायटीशियन शिवाली का कहना है कि उड़द की दाल प्राकृतिक रूप से भरी भरकम होती है। उड़द दाल में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है, जिसके कारण यह शरीर में वजन बढ़ाने का काम करती है। यदि अधिक मात्रा में उड़द की दाल का सेवन किया जाए तो इससे वजन में बढोत्तरी हो सकती है। अगर आप उड़द की दाल के साथ प्रोटीन युक्त अन्य खाद्य पदार्थ भी ले रहे हैं तो आपके वेट गेन की अधिक आशंका रहती है। अगर आप अपना वजन नहीं बढ़ाना चाहते हैं तो उड़द की दल का ज्यादा सेवन से बचें। 

arthritis

4. गठिया (Arthritis)

अगर आप गठिया या फिर ओस्टियोअर्थराइटिस के मरीज हैं तो फिर आपको इसके सेवन से पहले एक बार अपने चिकित्सक की सलाह जरूर लेनी चाहिए। गठिया की समस्या से पीड़ित मरीजों के लिए उड़द की दाल का सेवन हानिकारक साबित हो सकता है। अगर आपको भी गठिया है तो उड़द की दल के सेवन से बचें। यह आपकी समस्या को और भी बढ़ा सकता है। डायटीशियन शिवाली के मुताबिक अधिक उड़द दाल खाने से शरीर में कैल्शियम लॉस होता है। जिससे मसल्स और हड्डियों में कमजोरी आ सकती है। इसलिए गठिया के मरीज उड़द की दल न खाएं। 

इसे भी पढ़ें - मौसमी (मौसम्बी) का जूस पीने से सेहत को मिलते हैं ढेर सारे फायदे, बढ़ती है इम्यूनिटी

5. डीहाइड्रेशन (Dehydration)

अगर दाल आपका पसंदीदा आहार है और आप इसका अधिक मात्रा में सेवन कर रहे हैं तो आपको इससे डीहाइड्रेशन की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है। डायटीशियन शिवाली ने बताया कि उड़द की दाल पानी का अवशोषण करती है। इसका अधिक सेवन करने से बॉडी अधिक मात्रा में नाइट्रोजन और वाटर निकालती है। लंबे समय तक इसके अधिक सेवन से शरीर में पानी की कमी भी हो सकती है। 

यह लेख डायटीशियन द्वारा प्रमाणित है। उड़द की दाल लेख में दिए गए इन तरीकों से शरीर के लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है। 

Read more Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer