इन 3 बीमारियों में नहीं करना चाहिए अरहर की दाल का सेवन, बढ़ सकती है समस्या

अरहर की दाल का सेवन सेहत के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन, कुछ लोगों के लिए अरहर की दाल का सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Dec 04, 2022 15:00 IST
इन 3 बीमारियों में नहीं करना चाहिए अरहर की दाल का सेवन, बढ़ सकती है समस्या

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

दाल भारतीय थाली का एक अहम हिस्सा है। ज्यादातर लोग रोजाना रोटी या चावल के साथ दाल का सेवन करते हैं। सेहत के लिए सभी तरह की दालें फायदेमंद होती हैं। अरहर या तूर की दाल का सेवन स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। अरहर की दाल में प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, जिंक, कॉपर, सिलेनियम, फॉस्फोरस और पोटैशियम जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। अरहर की दाल खाने से शरीर को पोषण मिलता है और मांसपेशियां मजबूत होती हैं। पाचन के लिए भी अरहर की दाल फायदेमंद होती है। लेकिन, कुछ लोगों के लिए अरहर की दाल का सेवन नुकसानदायक (Arhar Daal Side Effects) साबित हो सकता है। कई बीमारियों में अरहर की दाल का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे आपकी मौजूदा स्थिति खराब हो सकती है। इस लेख में हम ऐसी 3 बीमारियों के बारे में बता रहे हैं, जिनमें अरहर की दाल का सेवन नहीं करना चाहिए -

किन लोगों को अरहर की दाल नहीं खानी चाहिए? - Who Should Not Eat Arhar Toor Daal In Hindi

किडनी की बीमारी से ग्रस्त लोग

किडनी की बीमारी से ग्रस्त लोगों को अरहर की दाल से परहेज करना चाहिए। किडनी से जुड़ी बीमारियों में अरहर की दाल का सेवन करने से आपकी समस्या अधिक बढ़ सकती है। दरअसल, अरहर की दाल में पोटैशियम की मात्रा काफी अधिक होती है, जिसके कारण किडनी से जुड़ी समस्याएं बढ़ सकती हैं। अरहर की दाल का सेवन करने से किडनी में पथरी की शिकायत भी हो सकती है। किडनी से जुड़ी समस्याओं में अरहर की दाल का सेवन डॉक्टर से परामर्श के बाद ही करें। 

इसे भी पढ़ें: दाल पचाने में होती है दिक्कत? जानें आसानी से डाइजेस्ट करने के 5 उपाय

हाई यूरिक एसिड की समस्या में न खाएं अरहर की दाल 

जिन लोगों का यूरिक एसिड बढ़ा हुआ होता है, उन्हें अरहर की दाल का सेवन नहीं करना चाहिए। दरअसल, अरहर की दाल में प्रोटीन की मात्रा काफी अधिक होती है, जिससे यूरिक एसिड का स्तर बढ़ सकता है। हाई यूरिक एसिड के मरीज अगर अरहर की दाल का सेवन करते हैं, तो इससे उनकी स्थिति बिगड़ सकती है। हाई यूरिक एसिड की परेशानी के कारण शरीर में टॉक्सिंस जमा होने लगते हैं। अरहर की दाल का सेवन करने से यूरिक एसिड के मरीजों को हाथ-पैर और जोड़ों में दर्द और सूजन की समस्या हो सकती है।  

Arhar-Daal

एसिडिटी होने पर अरहर की दाल से करें परहेज

जिन लोगों को एसिडिटी की शिकायत होती है, उन्हें अरहर की दाल का सेवन नहीं करना चाहिए। कई लोगों को अरहर की दाल खाने से पेट में दर्द और एलर्जी की समस्या हो सकती है। खासतौर पर, रात में अरहर की दाल का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। दरअसल, अरहर की दाल को पचने में ज्यादा समय लगता है। इसके कारण, अरहर की दाल का सेवन करने से पेट में एसिडिटी, दर्द, गैस और खट्टी डकार की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए, अगर आपको पेट में एसिडिटी की शिकयत है, तो अरहर की दाल का सेवन करने से परहाज करें।

इसे भी पढ़ें: मूंग दाल में डालकर बनाएं पालक, एक साथ सेवन से मिलेंगे ये 5 जबरदस्त फायदे

अगर आप इन तीन स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर रहे हैं, तो बेहतर है कि अरहर की दाल का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करें।

Disclaimer