आधा टूटा दांत आपको दे सकता है कई गंभीर बीमारियां, डेंटिस्ट से जानें इसका कारण, खतरे और इलाज

किसी एक्सीडेंट या मारपीट में दांत टूट सकते हैं। कई लोग डेंटिस्ट से मिलते भी नहीं है। इस कारण इंफेक्शन होता है। एक्सपर्ट की राय के लिए पढ़ें आर्टिकल।

Satish Singh
Written by: Satish SinghUpdated at: Aug 16, 2021 15:34 IST
आधा टूटा दांत आपको दे सकता है कई गंभीर बीमारियां, डेंटिस्ट से जानें इसका कारण, खतरे और इलाज

अगर आपका दांत आधा टूट जाता है तो इसे हल्के में न लें तुरंत डॉक्टर के पास जाएं , नहीं तो असहनीय दर्द की पीड़ा हमेशा आपको सताएगी। दांत का भाग अगर टूट गया है तो किसी भी चीज को काटने में तीखा दर्द होगा, क्योंकि दांतों की नसों पर यह असर करती है। लेकिन कभी-कभी इसका नसों पर असर नहीं होता है। इसके कारण किसी चीज को दांतों से काटने पर दर्द नहीं होता है, लेकिन वह उतना ही नुकसानदायक है। इसलिए दर्द न भी दें तो डेंटिस्ट के पास तुरंत जाएं। जमशेदपुर के जाने-माने डेंटिस्ट स्काई लाइन टॉवर मानगो चौक व मानगो डिमना रोड राजस्थान भवन के पास स्थित सहारा डेंटल क्लीनिक के डेंटिस्ट डॉक्टर शादाब हसन ने आधा दांत टूटने के नुकसान और इलाज के बारे में विस्तार से बताया। तो आइए इस आर्टिकल में हम 

एक्सीडेंट के कारण बच्चों से लेकर बड़ों के टूटते हैं दांत

डॉक्टर शादाब ने बताया कि आधा दांत टूटने की समस्या बच्चों से लेकर बड़ों तक हर उम्र के लोगों में होती है। खेलते समय या दुर्घटना से आधा दांत टूट जाता है। अगर दांत ज्यादा धिस जाए तो भी दांत आधा टूट सकता है। ऐसा सही से ब्रश नहीं करने के कारण भी होता है। अगर हमें ब्रश करने का सही तरीका नहीं मालूम है तो यह नुकसानदेह हो सकता है। कभी-कभी दांत टूटने का कारण गलत टूथपेस्ट का इस्तेमाल करना भी होता है।  बाजार में ऐसे कई टूटपेस्ट हैं जो दांत तो साफ करते हैं लेकिन उसे घिसते भी ज्यादा हैं। यह तुरंत तो असर नहीं करता है लेकिन कुछ साल बाद दांत इससे टूट जाता है। इसके अलावा जो लोग तंबाकू खाते हैं उनके भी दांत तेजी से घिसते हैं और दांत टूट सकता है। इन तमाम कारणों की वजह से दांत टूटते हैं या फिर घिसते हैं। 

Broken teeth Treatment

आधा दांत टूटे तो 24 घंटे में डेंटिस्ट से संपर्क करें  

डॉक्टर ने कहा- अगर आपका दांत आधा टूट या चटक गया है तो 24 घंटे के अंदर डेंटिस्ट से संपर्क करें। कुछ लोग दांत टूटने के कई दिन बाद तक डेंटिस्ट के पास नहीं जाते हैं। मेडिकल से पेन किलर इत्यादि दवा लाकर खा लेते हैं, जो काफी नुकसान करता है। कुछ दिन बाद लोग डेंटिस्ट के पास जाते हैं तब तक यह दांतों के नसों को काफी नुकसान पहुंचा देता है। यहां तक कि दांत उखाड़ने की नौबत आ जाती है। ऐसे में कभी भी किसी को बिना डॉक्टरी सलाह के दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। यह उनकी सेहत के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। 

बीमारी को किया नजरअंदाज तो चार-पांच दांतों को उखाड़ना पड़ सकता है

डॉक्टर ने बताया कि कभी-कभी आधे टूटे दांतों के ऐसे केस आते हैं, जिसमें उस दांत के कारण अगल-बगल के चार पांच दांत को निकालना पड़ता है। दांत टूटने से इंफेक्शन होता है, अगर हम इसका ट्रीटमेंट तुरंत नहीं कराएंगे तो यह दूसरे दांतों में फैल जाता है, जिसके कारण हमें अन्य दांतों को भी निकालना पड़ता है।  इसलिए दांतों में इंफेक्शन न फैले इस वजह से यदि आपके दांत भी टूट जाए तो तुरंत डॉक्टर सलाह लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें : दांतों का रंग बताता है कि कितने मजबूत हैं दांत, एक्सपर्ट से जानें किस रंग के दांत होते हैं सबसे ज्यादा हेल्दी 

आधा दांत टूटने के कारण

  • दांतों का घिसना - गलत तरीके से ब्रश करने के कारण दांत घिस जाते हैं, जिससे दांत टूट जाते हैं।
  • ब्रश करने का गलत तरीका- कभी-कभी हम ब्रश सही तरह से नहीं करते हैं, इस कारण भी दांत आधे टूट सकते हैं।
  • कठोर वस्तु का दांत से दबाना - अगर आप अपने दांत से किसी कठोर वस्तु को काट रहे तो दांत टूट सकता है। कभी-कभी लोग दांत से कोल्ड ड्रिंक या अन्य बोतल के ढक्कन खोलने लगते हैं। ऐसी स्थिति में दांत टूट सकता है।  
  • एक्सीडेंट या चोट लगना- ज्यादातर समय दांत आधा टूटने का कारण एक्सीडेंट और चोट लगना होता है।
  • खेलते समय चोट लगना - बच्चों या बड़ों के खेलते समय चोट लगने से भी आधा दांत टूट जाता है।
  • कैविटी के कारण - दांतों में कैविटी होने के कारण भी दांत टूट जाता है।
  • मुंह के अंदर तापमान के बदलाव के कारण भी दांत टूट सकते हैं।

दांत टूटने के बाद ऐसे करें बीमारियों से बचाव

डेंटिस्ट शादाब ने बताया - अगर मरीज का दांत तुरंत टूटा है और वो इसके बाद हमारे पास आता है तो हम दांतों को बचा सकते हैं। सबसे पहले इंफेक्शन को ठीक किया जाता है। उसके बाद दांत को सेप में लाकर उसे कैप कर देते हैं। दो तीन तरह के कैप  होते हैं, जिससे टूटा हुआ दांत दूसरे दांत के बराबर हो जाता है। यह सेम और नेचुरल दिखता है। इससे आपका दांत बच जाता है।

इसे भी पढ़ें :बच्चों के दांतों में ब्रेसेस (तार) लगवाने के बाद ऐसे करें उनके मुंह की साफ-सफाई, ताकि दांत रहें सुरक्षित

इन चीजों का ध्यान रखें

  • माउथ गार्ड पहनें - खेलते समय दांत को बचाने के लिए हेलमेट या माउथ गार्ड पहने (बॉक्सिंग, क्रिकेट, बेस बॉल)
  • मारपीट न करें - मारपीट न करें, इससे दांत टूट सकता है।
  • एक्सीडेंट से दांत को बचाने के लिए हमेशा हेलमेट या सीट बेल्ट लगाएं।
  • दांतों को अच्छे से साफ रखें
  • ब्रश सही तरीके से करें, अच्छे टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें या इसके लिए डेंटिस्ट की सलाह लें
  • अगर आपको दांत पीसने की आदत है तो डेंटिस्ट से मिले व आपको माउथ गार्ड या रिटेनर देंगे

एक्सपर्ट की लें सलाह

एक्सीडेंट होने पर या फिर छोटे-मोटे चोट लगने से लोगों के दांत आधे टूट जाते हैं, यह लाजमी भी है। लेकिन इसके बाद लोगों को डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि एक्सीडेंट होने के बाद दांत यदि टूटता है तो लाजमी है कि दांत में दर्द हो, ऐसे में कई लोग बिना डॉक्टरी सलाहे के दवा का सेवन करते हैं। यह काफी गलत है। बिना एक्सपर्ट की सलाह के दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा हो सकता है कि यदि बीमारी का इलाज न किया जाए तो इंफेक्शन हो जाए। इससे दांत खराब होने के साथ संक्रमण मुंह से होते हुए पेट में जाएगा इस कारण कई अन्य बीामरी होने की संभावना भी रहती है। इसलिए हमेशा यदि दांत में दर्द हो तो लोगों को एक्सपर्ट की सलाह लेनी चाहिए। न कि अपने से ही दवा का सेवन करना चाहिए।

Read More Articles On Health Diseases In Miscellaneous

Disclaimer