हड्डियों की कमजोरी का कारण बनती हैं ये 6 आदतें

हेल्दी लाइफस्टाइल को अपनाकर हड्डियों को मजबूत रखा जा सकता है। कुछ बुरी आदतें छोड़ने भर से हड्डियों की सेहत पर असर पड़ता है। 

Meena Prajapati
Written by: Meena PrajapatiPublished at: May 27, 2021
हड्डियों की कमजोरी का कारण बनती हैं ये 6 आदतें

बिना हड्डियों के हमारा शरीर आटे की लुगदी के समान होगा। लंबा चौड़ा और सुडौल शरीर यह सभी पर्याय नाकाफी हो जाएंगे अगर हड्डियां स्वस्थ नहीं होंगी तो हमारी दिन प्रतिदिन की जिंदगी का कोई मोल नहीं रह जाएगा। हम रोजाना ऐसे कई काम करते हैं जो हमारी हड्डियों को नुकसान पहुंचाते हैं। कमजोर हड्डियों का कारण हमारी बुरी आदतें होती हैं। हेल्दी लाइफस्टाइल को अपनाकर हम अपनी हड्डियों को स्वस्थ रख सकते हैं। दिल्ली के धर्मशिला अस्पताल में हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. मोनू सिंह बताते हैं कि इंसान की कुछ खराब आदतों की वजह से हड्डियां कमजोर होती हैं। अगर इनमें बदलाव कर लिया जाए तो ओस्टियोपोरोसिस जैसी परेशानियों से बचा जा सकता है। तो आइए डॉक्टर से जानते हैं कि वो कौन सी बुरी आदते हैं जो हड्डियों को नुकसान पहुंचाती हैं। 

inside3_Bonehealth

हड्डियों की कमजोरी का कारण हैं ये आदतें 

धूम्रपान करना

डॉ. मोनू सिंह का कहना है कि स्मोकिंग से हड्डियां कमजोर होती हैं। जो लोग स्मोकिंग ज्यादा करते हैं उनमें ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या की संभावना ज्यादा होती है। 

inside4_Bonehealth

शराब पीना

डॉक्टर का कहना है कि जो लोग शराब का सेवन करते हैं उनकी भी हड्डियां जल्दी कमजोर हो जाती हैं। दरअसल शराब पीने से  मालाब्सॉर्पशन सिंड्रोम ( Malabsorption syndrome)  और ऑस्टेपोरोसिस ( osteoporosis)  होता है, जो कमजोर हड्डियों का कारण बनता है। डॉक्टर कहते हैं कि स्वस्थ हड्डियों के लिए शराब का सेवन नहीं करना चाहिए।

हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. मोनू सिंह का कहना है कि स्मोकिंग और एल्कोहल दोनों ही हेल्दी डाइट के हिस्से नहीं हैं। इन्हें लेने से डाइट में प्रोटीन की कमी हो जाती है। हाई शुगर और सेचुरेटिड फैट के कारण भी हड्डियों में कैल्शियम के अवशोषण की मात्रा कम हो जाती है। जिस वजह से हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। डाइट में कैल्शियम, विटामिन सी होना चाहिए और संतुलित डाइट का सेवन करना चाहिए, इससे हड्डियां कमजोर नहीं होतीं। 

इसे भी पढ़ें : कमजोर हो गई हैं जोड़ों की हड्डियां तो मजबूती के लिए कैल्शियम की गोली नहीं, ये 4 प्राकृतिक उपाय अपनाएं

बंद कमरे में रहना

कोरोना की वजह से लोग अभी घरों में हैं, लेकिन घर में रहकर भी वे सूरज की रोशनी ले सकते हैं। डॉक्टर बताते हैं कि आजकल लोग घूप में ज्यादा बाहर नहीं निकलना चाहते, ऐसे में शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है। इसलिए हड्डियां कमजोर होती हैं। अभी लोग घरों में हैं तब भी सुबह की धूप अपनी बाल्कनी में आकर ली जा सकती है। 

inside2_Bonehealth

एक्सरसाइज न करना

अक्सर लोगों को आदत होती है कि खाना खाया  और बिस्तर पर लेट गए। लेकिन जो खाना आप खा रहे हैं उसे बाहर भी तो निकलना है। एक्सरसाइज के माध्यम से शरीर से पसीना निकलता है जिससे हानिकारक पदार्थ शरीर से बाहर निकलते हैं और आपकी त्वचा निखरती है। एक्सरसाइज केवल त्वचा के लिए ही नहीं बल्कि हड्डियों कि मजबूती के लिए भी बहुत जरूरी है। डॉक्टर का कहना है कि एक्सरसाइज नहीं करने से मासपेशियों में जल्दी एजिंग होने लगती है। 

इसे भी पढ़ें : पाया सूप पीने से मजबूत होती हैं हड्डियां और बढ़ती है इम्यूनिटी, जानें इसके 8 फायदे और रेसिपी

अनियंत्रित मधुमेह पर नियंत्रण न करना

वे लोग जिन्हें मधुमेह या थायरॉयड जैसी परेशानियां हैं, उनकी भी हड्डियां कमजोर होने की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसे लोग अगर अपनी डायबिटिज और थायरॉयड को नियंत्रित नहीं रखते हैं तो उनकी भी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। दूसरी वे महिलाएं जिनमें रिपिटिड चाइल्ड बर्थ होता है उनकी भी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। 

inside5_Bonehealth

वजन

वजन कम हो या ज्यादा हड्डियों के लिए दोनों में से कोई ठीक नहीं है। दरअसल डॉ. मोनू सिंह का कहना है कि जिन लोगों का वजन ज्यादा होता उनमें जोड़ों पर असर पड़ता है। वजन कम होने से मांसपेशियों का हड्डियों पर नॉर्मल स्टिम्युलेशन नहीं होता, जिसकी वजह से यह हड्डियां कमजोर होती हैं। 

ऊपर बताई गई वे आदते हैं जिनमें से कुछ काम हम रोजाना करते हैं। इन आदतों से तौबा करके हड्डियों को मजबूत बनाया जा सकता है। 

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer