इन 6 तरह के लोगों को नहीं खाना चाहिए राजमा, डायटीशियन से जानें क्यों हो सकता है नुकसानदायक

Rajma Side Effects: राजमा हर किसी को पसंद होते हैं। लेकिन कुछ संवेदनशील लोगों को राजमा नहीं खाना चाहिए। इससे उनकी समस्या बढ़ सकती है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Mar 09, 2022Updated at: Mar 09, 2022
इन 6 तरह के लोगों को नहीं खाना चाहिए राजमा, डायटीशियन से जानें क्यों हो सकता है नुकसानदायक

Rajma Side Effects: राजमा किसे पसंद नहीं होते हैं? राजमा-चावला का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। राजमा सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद (Rajma ke Fayde) होता है। राजमा में प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम और कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्रा में होता है। इसके साथ ही राजमा आयरन, विटामिन सी, मैग्नीशियम और फोलेट का भी अच्छा सोर्स है। लेकिन फिर भी कुछ खास तरह के लोगों को राजमा खाने से नुकसान पहुंच (Kidney Beans Side Effects in Hindi) सकता है। दरअसल, राजमा को पचाना मुश्किल होता है, ऐसे में जिन लोगों का पाचन तंत्र कमजोर होता है उन्हें राजमा खाने से परहेज (Rajma Side Effects) करना चाहिए। चलिए आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से विस्तार से जानते हैं किन लोगों को राजमा नहीं खाना चाहिए?

stomach problem

1. जिन्हें पेट से संबंधित दिक्कते हो

राजमा पेट के रोगों का कारण बन सकता है, इसलिए जिन लोगों को पहले से ही पेट से संबंधित दिक्कते हैं, उन्हें राजमा खाने से परहेज करना चाहिए। राजमा में फाइबर की अधिकता होती है, इसे खाने से पाचन तंत्र में परेशानी हो सकती है। इतना ही नहीं राजमा खाने से गैस, पेट दर्द, एसिडिटी और पेट में मरोड़ हो सकती है। एसिडिटी रहने वाले लोगों को राजमा खाने से बचना चाहिए।

2. जिनका वजन कम हो

जिन लोगों का वजन कम है, उन्हें राजमा खाने से परहेज करना चाहिए। राजमा में फाइबर (Fiber in Rajma) अधिक मात्रा में होता है, इसकी वजह से पेट लंबे समय तक भरा रहता है। भूख महसूस नहीं होती है, इससे वजन घटने लगता है। अगर आप पहले से ही दुबले-पतले हैं, तो सीमित मात्रा में ही राजमा का सेवन करें।

इसे भी पढ़ें - ब्रेकफास्ट में ओट्स खाने से शरीर को मिलते हैं ये 6 फायदे, जानें ओट्स क्यों है सुबह का बेस्ट नाश्ता

pitta dosha

3. पित्त प्रकृति के लोगों को (Kidney Beans Side Effects in Pitta Dosha)

पित्त प्रकृति के लोगों को राजमा खाने से परहेज (Rajma Khane ke Nuksan) करना चाहिए। राजमा की तासीर बेहद गर्म होती है। इसलिए पित्त प्रकृति के लोगों को राजमा खाने से बचना चाहिए। साथ ही राजमा को पचाना भी थोड़ा मुश्किल होता है, इससे पेट में जलन और एसिडिटी पैदा हो सकती है। 

4. गर्भावस्था में सीमित मात्रा में खाएं राजमा (Kidney Beans Side Effects in Pregnancy)

वैसे तो गर्भावस्था में राजमा खाना महिला और शिशु दोनों के लिए ही लाभकारी होता है। लेकिन प्रेगनेंसी में अधिक मात्रा में राजमा खाने से नुकसान पहुंच सकता है। राजमा पथरी, गठिया का कारण बन सकता है। इसके अलावा राजमा खाने से गर्भवती महिलाओं को पेट में गैस और ऐंठन की समस्या पैदा (Side Effects of Kidney Beans in Hind) हो सकती है। गर्भावस्था में सीमित मात्रा में ही राजमा का सेवन करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - मेथी और कलौंजी साथ खाने से सेहत को मिलते हैं ये 5 फायदे, जानें कैसे करें सेवन

5. आयरन की अधिकता होने पर

राजमा आयरन का एक बेहतरीन सोर्स है, इसे खाने से शरीर में आयरन की अधिकता हो सकती है। इससे शरीर को भी नुकसान पहुंच सकता है। इस स्थिति में राजमा खाने से पेट में दर्द, उल्टी की समस्या (Rajma Khane ke Nuksan) हो सकती है।

6. कब्ज होने पर न खाएं राजमा (Kidney Beans Side Effects in Constipation)

जिन लोगों को अक्सर ही कब्ज की समस्या (Constipation Problem in Hindi) रहती है, उन्हें राजमा खाने से बचना चाहिए। राजमा पचाने में मुश्किल होता है, जिससे कब्ज की समस्या बढ़ सकती है। साथ ही राजमा में फाइबर अत्यधिक होता है, जो कब्ज को बढ़ावा देता है। 

अगर आप भी गैस, एसिडिटी, कब्ज (Gas and Acidity) से परेशान हैं, तो राजमा का सेवन करने से बचें। साथ ही अगर आपका पाचन तंत्र कमजोर है, तो भी राजमा नहीं खाना चाहिए। राजमा खाने से हमारा पाचन तंत्र प्रभावित होता है, इससे कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं। 

Disclaimer