जीरा की तासीर कैसी होती है? जानें किन लोगों को नुकसान पहुंच सकता है जीरा

Cumin Seeds Side Effects: जीरा सेहत के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन कुछ लोगों को यह नुकसान भी पहुंचा सकता है। जानें जीरा के नुकसान

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jun 07, 2022Updated at: Jun 07, 2022
जीरा की तासीर कैसी होती है? जानें किन लोगों को नुकसान पहुंच सकता है जीरा

Cumin Seeds Side Effects in Hindi: जीरा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, हेल्दी फैट, डाइटरी फाइबर, नियासिन, फोलेट पाया जाता है। इसके अलावा जीरा विटामिन्स का भी अच्छा सोर्स होता है। इसलिए जीरे का उपयोग हर घर में मसाले के रूप में किया जाता है। जीरा खाने का स्वाद बढ़ाता है, साथ ही शरीर के लिए भी फायदेमंद होता है। जीरा खाने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, साथ ही पाचन में भी सुधार होता है। लेकिन सभी लोगों के लिए जीरा फायदेमंद नहीं होता है, कुछ लोगों को इससे नुकसान भी पहुंच सकता है। 

तो चलिए विस्तार से जानते हैं जीरा के बीज किन-किन लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है। साथ ही जीरा की तासीर कैसी होती है? इस बारे में भी जानें-

जीरा की तासीर कैसी होती है? (Jeera ki Taseer Kaisi Hoti Hai)

जीरे का उपयोग सब्जी, दाल में तड़का लगाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा जीरा कई छोटी-छोटी समस्याओं को दूर करने के लिए घरेलू उपाय के तौर पर इस्तेमाल में लाया जाता है। जीरे की तासीर गर्म होती है। सर्दियों में इसका सेवन करना काफी फायदेमंद होता है। लेकिन जिन लोगों की पित्त प्रकृति है, उन्हें जीरे का सेवन सीमित मात्रा में ही चाहिए।

cumin side effects for stomach

ये लोग न करें जीरे का सेवन (Cumin Seeds Side Effects in Hindi)

1. पेट में जलन

गर्मी की वजह से पेट में जलन हो सकती है। जीरे की तासीर भी गर्म होती है, ऐसे में अगर आपको पेट में जलन महसूस हो तो जीरे को डाइट में शामिल करने से बचें। अधिक मात्रा में जीरा खाने से पेट में जलन बढ़ सकती है।

2. खट्टी डकार आने पर

खट्टी डकार आना गैस का लक्षण होता है। अगर आपको बार-बार खट्टी डकारे आ रही हैं, तो इसका मतलब है आपको गैस बनी हुई है। खट्टी डकार आने पर आप सिर्फ खाने में ही जीरे का उपयोग करें। इसके अलावा जीरे का सेवन करने से बचें, क्योंकि इससे समस्या बढ़ सकती है।

इसे भी पढ़ें - चेहरे के काले दाग-धब्बों (डार्क स्पॉट्स) को हटाने के लिए खाएं ये 5 फूड्स, त्वचा में आने लगेगा निखार

3. पीरियड्स के दौरान

वैसे तो पीरियड्स के दौरान जीरे का सेवन करना फायदेमंद होता है। लेकिन अगर इस दौरान आप जरूरत से ज्यादा जीरे का सेवन करते हैं, तो इस स्थिति में आपकी समस्या बढ़ सकती है। आपको उल्टी हो सकती है, हैवी ब्लीडिंग हो सकती है। इससे सेहत को नुकसान पहुंच सकता है।

cumin seeds side effects

4. प्रेगनेंसी में

प्रेगनेंसी या गर्भावस्था में भी जीरे का अधिक सेवन करने से बचना चाहिए। यह गर्भावस्था को प्रभावित कर सकता है। गर्भावस्था में अधिक जीरा खाना सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

5. शुगर लेवल कम होने पर

डायबिटीज में चीनी से परहेज करने की सलाह दी जाती है। साथ ही जीरा खाने की सलाह दी जाती है। लेकिन अधिक मात्रा में जीरा खाने से शरीर में शुगर लेवल कम हो सकता है। अगर आपको पहले से ही शुगर लेवल कम है, तो एक्सपर्ट की राय पर ही जीरे का सेवन करें। जीरा खाने सीमित मात्रा में ही खाएं।

इसे भी पढ़ें - लाल और पीले तरबूज में से कौन है अधिक फायदेमंद? जानें दोनों के पोषक तत्वों और फायदों के बारे में

6. पतले लोगों को

अगर आपको वजन काफी कम है, तो आपको जीरे का अधिक सेवन करने से बचना चाहिए। आप सिर्फ खाने में जीरा मिलाकर ले सकते हैं। लेकिन जीरा पानी या दही के साथ जीरा लेने से परहेज करें। क्योंकि जीरा वजन घटाता है, बॉडी से फैट को बर्न करता है। इसलिए अगर आप पहले से ही दुबले-पतले हैं, तो जीरे का सेवन आपको कम मात्रा में ही करना चाहिए। 

जीरा सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। जीरे में मौजूद पोषक तत्व शरीर के लिए काफी जरूरी होते हैं, इससे सेहत को कई लाभ भी मिलते हैं। लेकिन ऊपर बताए गए लोगों को जीरे का सेवन कम मात्रा में ही करना चाहिए। ताकि वे हमेशा स्वस्थ और हेल्दी रहें। 

Disclaimer