खाने की क्रेविंग होने पर दबाएं शरीर के ये 5 एक्यूप्रेशर प्वाइंट, वजन घटाने में भी है मददगार

वजन कम करने की कोशिश में जुटे लोगों के लिए जरूरी है क्रेविंग को शांत करना। जानें इन्हें शांत करने के लिए एक्यूप्रेशर प्वांइट। 

 

सम्‍पादकीय विभाग
वज़न प्रबंधनWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Sep 08, 2020Updated at: Nov 20, 2020
खाने की क्रेविंग होने पर दबाएं शरीर के ये 5 एक्यूप्रेशर प्वाइंट, वजन घटाने में भी है मददगार

वजन कम करने के लिए लोग भारी भरकम एक्सरसाइज और तरह-तरह की डाइट की मदद लेते हैं। पर आज हम आपको वजन कंट्रोल करने का एक यूनिक तरीका बताएंगे। जी हां, हैरान-परेशान न हों, इसके लिए न आपको कोई फास्ट करना है और ना ही कोई वर्कऑउट रूटीन फॉलो करना है। बस आपको अपने शरीर में उन क्षेत्रों को दबाना है, जहां से आपकी भूख और क्रेविंग कंट्रोल हो जाए। दरअसल, हम बात पारंपरिक चीनी एक्यूप्रेशर तकनीक की कर रहे हैं, जिसकी मदद से भूख और कंट्रोल किया जाता है। तो, आइए जानते हैं क्या है ये क्रेविंग को कंट्रोल करने वाला एक्यूप्रेशर विधि और हम इसे कैसे कर सकते हैं।

point

क्रेविंग कंट्रोल करने के लिए एक्यूप्रेशर विधि 

वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए सबसे बड़ी चुनौती ये होती है कैसे वो खुद की क्रेविंग को शांत करें और कैसे खाने की तलब से दूर रहें। बहुत से लोगों को अपना वजन कम कर पाने में मुश्किल होती है क्योंकि  भोजन करना छोड़ नहीं सकते। अगर आप भी इसी समस्या से परेशान हैं, तो आप क्रेविंग कंट्रोल करने के लिए एक्यूप्रेशर विधि को इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, ये बड़ा ही साइंटफिक सा है। वो ऐसे कि इस क्रेविंग कंट्रोल एक्यूप्रेशर विधि में शरीर के कुछ प्वाइंट्स को दबाया जाता है। इससे मस्तिष्क के उस हिस्से पर प्रभाव पड़ता है, जिससे हाइपोथैलेमस पर आपका कंट्रोल बढ़ता है। ये हाइपोथैलेमस भूख, पाचन और ईटिंग डिसऑर्ड को बढ़ाने वाले हार्मोन को नियंत्रित करता है। इस तरह आप अपने क्रेविंग को कंट्रोल करके आसानी से वजन कंट्रोल कर सकते हैं। आज हम आपको ऐसे पांच एक्यूप्रेशर प्वाइंट के बारे में बता रहे हैं, जो आपको क्रेविंग कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं। 

1.दोनों भौहों के बीच फोकस बनाएं

आपकी तर्जनी और मध्यमा उंगली से आइब्रो के दोनों बिंदु पर प्रैस करेंष फिर आंख के नीचे, आंख के बगल में, नाक, ठोड़ी और कॉलरबोन पर जाकर प्रैस करें। फिर इसे स्विच करें और सिर बिंदु के शीर्ष पर सभी चार उंगलियों के साथ टैप करें। जब आप प्रत्येक प्वाइंट्स को दबाव बना रहे होंगे, तो आप अपनी क्रेविंग को भूल जाएंगे। 

इसे भी पढ़ेंः दुबला-पतला शरीर है, वजन नहीं बढ़ रहा तो आजमाएं वजन बढ़ाने के ये 4 साइंटिफिक तरीके, मसल्स में आने लगेगा भारीपन

2.कानों के पीछे

अपने हाथों को फैलाएं और उंगली से कानों के पीछे दबाव बनाएं। फिर उस बिंदु को दबाएं जहां आपका कान और चेहरा का नस मिल रहा हो। अब एक मिनट के लिए उसे दबाएं रखें। ऐसा करने से आपकी भूख को नियंत्रित करने और गर्दन और पीठ से संबंधित तनाव को कम करने में मदद मिलेगी।

3.नाभि पर उंगली से दबाव बनाएं

अपनी नाभि के दो इंच नीचे थोड़ा सा दबाव बनाएं। अब अपनी तर्जनी और बीच वाली उंगली का उपयोग करते हुए दो मिनट तक गोलाकार गति में इस बिंदु की मालिश करें। हर दिन दो मिनट के लिए ऐसा करें। यह बिंदु पाचन तंत्र पर ध्यान केंद्रित करता है और इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है। इसी के साथ ये कब्ज को भी ठीक करता है

इसे भी पढ़ेंः इन 5 बड़ी गलतियों के कारण बढ़ता जा रहा है आपका बैली फैट, जानें किन आदतों में करें बदलाव

4.कोहनी से पसलियों पर दबाव बनाएं

कोहनी की ओर से पसलियों पर दबाव बनाएं। इस बिंदु पर मालिश करने से आंतों की कार्यक्षमता बढ़ती है और शरीर से अतिरिक्त गर्मी को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है। पर्याप्त दबाव करने के लिए अपने अंगूठे का उपयोग करके एक मिनट के लिए हर दिन बिंदु को दबाएं।

knee

5.पैरों में

अपने घुटने से दो इंट नीचे आएं। अब इस पर अंगूठे और उंगली की मदद से प्रेशर बनाएं। ये बिंदु को उत्तेजित करने से आपके पाचन तंत्र को बढ़ावा मिलेगा और आपको अपने भोजन को मेटाबोलाइज करने में मदद मिलेगी। इस बिंदु पर दबाव लगाएं और रोजाना इस मालिश को करने के लिए अंगूठे का उपयोग करें।

इन प्वाइंट्स को अच्छी तरह से जानकर और प्रेस करके ही आप इस चीज का फायदा ले सकते हैं। तो, हमारी सलाह यही है कि आप किसी एक्यूप्रेशर विशेषज्ञ से ये सीख लें और तब ही इसे करें, ताकि ये आपके लिए ज्यादा फायदेमंद हो।

Read More Articles on Weight Management in Hindi

Disclaimer