भारत सरकार ने लॉन्च किया 'कोरोना कवच' ऐप, संक्रमित शख्‍स के नजदीक आते ही करेगा आपको अलर्ट

भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और इलेक्ट्रॉनिक व सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय की ओर से मिलकर कोरोना वायरस ट्रैकर ऐप लॉन्च किया है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Mar 28, 2020
भारत सरकार ने लॉन्च किया 'कोरोना कवच' ऐप, संक्रमित शख्‍स के नजदीक आते ही करेगा आपको अलर्ट

कोरोनावायरस के कारण भले ही हमने आने वाले हफ्तों के लिए खुद को अपने घरों में बंद कर लिया हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम पूरी तरह से सुरक्षित हैं। कोरोना को लेकर हर तरफ कई तरह फेक न्यूज भी फैले हुए हैं। ऐसे में भारत सरकार ने एंड्रॉइड फोन के लिए एक कोरोनोवायरस डिटेक्शन ऐप लॉन्च किया है। भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और इलेक्ट्रॉनिक व सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय की ओर से मिलकर कोरोना वायरस (COVID-19) ट्रैकर ऐप लॉन्च किया गया है। इस एप का नाम ‘कोरोना कवच’ है। ये जानकारी का सबसे विश्वसनीय स्रोत है क्योंकि यह पता लगाता है कि क्या आपके क्षेत्र में कोई कोरोनोवायरस पॉजिटिव मरीज है। इस तरह ये आपको अलर्ट रहने और उस क्षेत्र में जाने से रोकने में मदद कर सकता है। यह वक्त की जरूरत है। जैसा कि यह महामारी भारत में बढ़ रही है, यह निश्चित रूप से बहुत से लोगों को कोरोना के संक्रमण से बचा सकता है।

insidecorona

क्या है कोरोना कवच एप? 

यह एंड्रॉइड मोबाइल एप्लिकेशन है, जो पता लगाने के लिए काम करता है कि उपयोगकर्ता के आसपास कोई सीओवीआईडी -19 पॉजिटिव मरीज है या नहीं। यह उनके पास संक्रमित रोगी की उपस्थिति का पता लगाने के लिए जीपीएस सेवाओं का उपयोग करता है। इसके अलावा, यह हर घंटे अलर्ट भेजेगा। अगर आप किसी ऐसे व्यक्ति के पास हैं जो इस महामारी के लिए सकारात्मक परीक्षण किया गया है, तो ये आपको अलर्ट करता रहेगा। इस एप पर संक्रमित रोगियों का भौगोलिक डेटा उपलब्ध होता है, जो सकारात्मक रोगियों को खोजने और स्वास्थ लोगों को सतर्क करने में मदद करता है। यह ट्रैकिंग एप्लिकेशन स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के संयुक्त मदद से विकसित किया गया है। इसे एंड्रॉइड डिवाइस में Google Play Store से डाउनलोड किया जा सकता है। हालांकि, iPhone उपयोगकर्ता इस एप्लिकेशन का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

inside2coronakavachbenefits

इसे भी पढें: कहा जा रहा है छींकते समय कोहनियों पर प्रयोग करें, मगर कपड़ों पर कोरोना वायरस कितनी देर जिंदा रह सकता है?

कैसे काम करता है कोरोना कवच एप

वहीं ये एप हर एक घंटे बाद यूजर्स की लोकेशन ट्रैक कर चेक करता है कि कहीं उसपर कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा तो नहीं। इसमें छह सवालों वाला एक फॉर्म ऑप्शंस में जाकर आपको भरना होगा। इसमें कोरोना के संभावित लक्षणों से जुड़े कुछ सवाल पूछे गए हैं, जैसे- आपको सांस लेने में दिक्कत तो नहीं, या फिर आप विदेश से तो नहीं लौटकर आए हैं।लोकेशन और बाकी डीटेल्स के आधार पर ऐप पर सबसे ऊपर एक कलर दिखाई देगा। ग्रीन कलर का मतलब है कि सब ठीक है, ऑरेंज कलर का मतलब है कि आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत है, यलो कलर क्वारंटीन होने का संकेत देता है, वहीं रेड कलर का मतलब है कि आप इन्फेक्टेड हैं। घर से बाहर जाते वक्त आप बीच में दिख रहे कवच आइकन पर टैप कर इसे ऐक्टिवेट कर सकते हैं, जो आपके मूवमेंट को एक घंटे ट्रैक करेगा।

inside1coronakavach

इसे भी पढें: Positive India: पुलिस और सफाई कर्मचारियों को कोरोना से बचाने की मुहिम, युवक बांट रहा है फ्री सैनिटाइजर व मास्क

ऐसे यूज कर सकते हैं ये ऐप

इस एप्लिकेशन को सार्वजनिक हित में जानकारी देने और कोरोनावायरस के प्रकोप को पकड़ने के लिए विकसित किया जा गया है। डेटा का उपयोग विश्लेषण करने और भारत में सक्रिय COVID 19 मामलों के बारे में जानकारी प्रदान करने के लिए किया गया है। जैसे ही आप ऐप डाउनलोड करते हैं, आपको अपने मोबाइल नंबर से साइन इन करने के लिए कहा जाएगा। इसके साथ, एप्लिकेशन आपके मूवमेंट का पता लगाने के लिए आपके जीपीएस का उपयोग करेगा। जब भी आप कोरोनोवायरस-जोखिम वाले भौगोलिक क्षेत्र या कोरोनोवायरस पॉजिटिव व्यक्ति के पास जा रहे होंगे, तो यह आपको अलर्ट भेजेगा। इसके बाद आपको निवारक उपाय करने होंगे। इसके अलावा आपके संपर्क में आने वाले दूसरे यूजर ने अगर ऐप पर खुद को क्वारंटीन या इन्फेक्टेड मार्क किया है तो ऐप आपको अलर्ट देगा। इसके लिए सभी यूजर्स के डिवाइस में यह ऐप इंस्टॉल होना जरूरी है। ऐप को इस्तेमाल करने के लिए आपको ये स्टेप्स फॉलो करने होंगे

  • - कोरोना कवच ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड और ओपन करें।
  • - ऐप के बारे में जानकारी दिखेगी, इसे नेक्सट करने के बाद आपको लोकेशन से जुड़ी कुछ परमिशंस देनी होंगी।
  • - अपना मोबाइल नंबर और उसपर आया ओटीपी डालकर रजिस्टर करें।
  • - होमपेज पर आपको कोरोना संक्रमण से जुड़ी बेसिक जानकारी दी जाएगी।
  • -सबसे ऊपर दिख रही पट्टी का कलर आपका स्टेटस बताएगा।
  • - बीच में दिख रहे कोरोना कवच लोगों पर टैप करते ही एक घंटे का काउंटडाउन शुरू हो जाएगा और ऐप आपका मूवमेंट ट्रैक करेगा।
  • - अगर आप किसी इन्फेक्टेड व्यक्ति के संपर्क में आते हैं, खासकर जिसके फोन में ऐप इंस्टॉल है, तो आपको अलर्ट दिया जाएगा।
  • -हालाँकि, आप में से कुछ लोग अपनी फोन की गोपनीयता के बारे में चिंतित हो सकते हैं, तो उन लोगों के लिए भी ये एप्लिकेशन पूरी तरह से सुरक्षित है।

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer