30 की उम्र के बाद महिलाओं के निप्पल में दर्द के हो सकते हैं ये 6 कारण, जानें इसे ठीक करने के उपाय

निप्‍पल में दर्द होने के कई कारण होते हैं, उम्र बढ़ने के साथ ये समस्‍या बढ़ सकती है। कारण जानकर इलाज जल्‍द से जल्‍द करवाएं 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Oct 12, 2021
30 की उम्र के बाद महिलाओं के निप्पल में दर्द के हो सकते हैं ये 6 कारण, जानें इसे ठीक करने के उपाय

30 पार के बाद मह‍िलाओं में न‍िप्‍पल पेन की समस्‍या हो सकती है। कई कारणों से न‍िप्‍पल में दर्द होता है जैसे हार्मोन्‍स में बदलाव के कारण, ब्रेस्‍ट साइज बढ़ने के कारण, दवा आद‍ि कारण भी हो सकते हैं। न‍िप्‍पल में दर्द होना अच्‍छा संकेत नहीं है, आपको ये समस्‍या होने पर डॉक्‍टर से संपर्क करना चाह‍िए। न‍िप्‍पल में दर्द होने का लक्षण ब्रेस्‍ट कैंसर से भी जोड़ा जाता है पर हर बार ये लक्षण ब्रेस्‍ट कैंसर के कारण हो ऐसा जरूरी नहीं है इसल‍िए लक्षणों की सही जांच जरूरी है। इस लेख में हम 30 पार के बाद मह‍िलाओं में न‍िप्‍पल पेन का कारण और उपायों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।

nipple pain

(image source:toplinemd.com)

1. 30 पार उम्र में हार्मोनल बदलाव के कारण होता है न‍िप्‍पल में दर्द (Harmonal change can cause nipple pain)

30 की उम्र के बाद शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं ज‍िसके कारण न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है। ये दर्द पीर‍ियड्स के कुछ द‍िन बाद हो सकता है या गर्भावस्‍था की शुरूआत में भी न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है। उम्र बढ़ने के साथ इस्‍ट्रोजन और प्रोजेस्‍ट्रोन हार्मोन की साइक‍िल ब‍िगड़ जाती है ज‍िसके कारण न‍िप्‍पल में दर्द का अहसास होता है। हार्मोनल बदलाव के कारण न‍िप्‍पल में दर्द हो रहा है तो डॉक्‍टर को दिखाएं और हेल्‍दी डाइट पर फोकस करें। आपको रोजाना एक्‍सरसाइज करनी चाह‍िए, चाय या कॉफी का सेवन कम से कम करना चाह‍िए। एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स की मात्रा डाइट में बढ़ानी चाह‍िए, ताजे फल और सब्‍ज‍ियों में एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स की मात्रा पाई जाती है इसल‍िए आपको रोजाना ताजे फल और सब्‍जि‍यां खानी चाह‍िए। इसके साथ ही आपको इस बात का भी ध्‍यान रखना है क‍ि एल्‍कोहॉल का सेवन ब‍िल्‍कुल न करें।

इसे भी पढ़ें- कई तरह के होते हैं ओवेरियन सिस्ट (अंडाशय की रसौली), डॉक्टर से जानें इसके लक्षण, कारण और जांच

2. स्‍तनपान के दौरान न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है (Nipple pain while breastfeeding)

breastfeeding

(image source:lactationlink)

जो मह‍िलाएं श‍िशु को स्‍तनपान करवाती हैं उन्‍हें भी न‍िप्‍पल में दर्द की श‍िकायत होती है। स्‍तनपान करवाने वाली मांओं में ये एक आम लक्षण होता है। जब बच्‍चा दूध पीने के ल‍िए न‍िप्‍पल पर जोर लगाता है तो दर्द होता है। ऐसा जरूरी नहीं है क‍ि हर मह‍िला को दर्द हो पर कुछ को इसका अहसास होता है। डॉ सीमा ने बताया क‍ि आपको इस बात पर भी गौर करने की जरूरत है क‍ि ब्रेस्‍टफीड‍िंग के दौरान दर्द ज्‍यादा नहीं होता पर जब श‍िशु ठीक से दूध नहीं पी पाता तो आपको दर्द हो सकता है। म‍िल्‍क डक्‍ट में इंफेक्‍शन होने के कारण भी न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है। इंफेक्‍शन होने पर न‍िप्‍पल में दर्द, सूजन और भारीपन महसूस होगा, ऐसा होने पर तुरंत डॉक्‍टर के पास जाएं।

3. इंफेक्‍शन के कारण न‍िप्‍पल में दर्द होता है (Infection can cause nipple pain) 

अगर आप ब्रेस्‍ट एर‍िया या न‍िप्‍पल एर‍िया में शेव‍िंग, वैक्‍स‍िंग या हेयर्स को न‍िकालने की कोश‍िश करती हैं तो भी आपको न‍िप्‍पल में पेन हो सकता है। हेयर र‍िमूवल मेथड के कारण स्‍क‍िन में जलन, दर्द या सूजन की श‍िकायत हो सकती है इसल‍िए आपको इन तरीकों से दूर रहना चाह‍िए। मह‍िलाओं में 30 की उम्र के बाद स्‍क‍िन सेंस‍िट‍िव होने लगती है, इस दौरान आपको कोई भी ऐसा तरीका नहीं आजमाना चाह‍िए ज‍िससे आपके प्राइवेट पार्ट या अन्‍य बॉडी पार्ट में इंफेक्‍शन हो। शेव‍िंग या वैक्‍स‍िंग करने से इंफेक्‍शन का डर रहता है इसल‍िए इससे बचें। न‍िप्‍पल में दर्द होने पर आप डॉक्‍टर को द‍िखाएं चोट लगने के कारण भी न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है, ये क‍िसी भी उम्र में एक कॉमन कारण है। 

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी में हीमोग्लोबिन कम होना हो सकता है शिशु के लिए खतरनाक, जानें इसका महत्व और बढ़ाने के उपाय

4. ब्रेस्‍ट साइज बढ़ने से भी हो सकता है न‍िप्‍पल में दर्द (Inceased breast size can cause nipple pain)

nipple pain causes

(image source:hearstapps)

ब्रेस्‍ट साइज बढ़ने से अक्‍सर मह‍िलाओं को 30 के बाद न‍िप्‍पल में दर्द की श‍िकायत होती है। ऐसा इसल‍िए भी हो सकता है क्‍योंकि आप गलत ब्रा पहन रहे हों। ब्रा साइज बढ़ने के कारण मह‍िलाओं को अपने साइज की ब्रा नहीं म‍िलती ज‍िस कारण भी न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है। अगर आप बहुत टाइट ब्रा पहनते हैं या आपकी ब्रा बहुत टाइट है तो न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है इसल‍िए आपको अपने साइज की ब्रा चुनकर पहननी चाह‍िए। अगर आप लंबा वॉक रही हैं तो दौड़ रही हैं तो आपको दर्द का अहसास हो सकता है इसल‍िए गलत ब्रा ज्‍यादा समय के ल‍िए न पहनें। डॉ दीपा ने बताया क‍ि आपको इस बात का भी ध्‍यान रखना चाह‍िए क‍ि आपका वजन कंट्रोल में हो, ब्रेस्‍ट साइज कम करने के ल‍िए आपको अलग से कुछ करने की जरूरत नहीं है, शरीर का वजन कम होगा तो ब्रेस्‍ट साइज भी कम हो जाएगा, उसके ल‍िए आप हर द‍िन योगा और कसरत करें।

5. न‍िप्‍पल में दर्द का कारण ब्रेस्‍ट कैंसर तो नहीं (Nipple pain could be a sign of breast cancer)

ब्रेस्‍ट में दर्द होना या न‍िप्‍पल में दर्द होना ब्रेस्‍ट कैंसर का लक्षण भी होता है पर बहुत रेयर केस में ब्रेस्‍ट कैंसर के लक्षण में दर्द होता है क्‍योंक‍ि न‍िप्‍पल में दर्द होना ब्रेस्‍ट कैंसर का ही लक्षण हो ये जरूरी नहीं है। अगर न‍िप्‍पल में दर्द के साथ सूजन भी है और अन्‍य लक्षण भी नजर आ रहे हैं तो एक बार डॉक्‍टर को जरूर द‍िखाएं। कुछ मह‍िलाएं तेज मोशन में चलती हैं या दौड़ती है, इससे फ्रिक्‍शन बनता है और न‍िप्‍पल में तेज दर्द उठता है। कुछ मह‍िलाएं इसे ब्रेस्‍ट कैंसर से जोड़ती है पर ब्रेस्‍ट में होने वाला हर दर्द कैंसर हो ऐसा जरूरी नहीं है, अगर आपकी फ‍िज‍िकल एक्‍टीव‍िटी ज्‍यादा है तो भी आपको ब्रेस्‍ट में पेन हो सकता है। आपको दौड़ते समय या फ‍िज‍िकल एक्‍ट‍िव‍िटी करते समय आरामदायक कपड़े और सपोर्टिंग ब्रा पहननी चाह‍िए।

6. दवाओं के कारण न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है (Medication can lead to nipple pain)

nipple pain treatment

(image source:steadyhealth)

मेड‍िकेशन के साइड इफेक्‍ट अलग-अलग लोगों पर अलग-अलग तरीकों से होते हैं। कुछ दवाएं ऐसी भी होती हैं ज‍िनका बुरा असर शरीर पर पड़ता है। न‍िप्‍पल में दर्द का कारण दवाएं भी हो सकती हैं। अगर आपने हाल ही में कोई दवा लेना शुरू क‍िया है ज‍िसके बाद आपको न‍िप्‍पल में दर्द हो रहा है तो तुरंत डॉक्‍टर के पास जाएं और अपने लक्षणों के बारे में उन्‍हें बताएं। बर्थ कंट्रोल प‍िल्‍स खाने के कारण भी मह‍िलाओं के न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है। 30 पार के बाद मह‍िलाओं के शरीर का मेटाबॉलिज्‍म रेट कम होने लगता है ज‍िसके चलते शरीर में दवाओं का गलत असर हो सकता है। अगर आप मेंटल हेल्‍थ से जुड़ी कोई दवा खा रहे हैं तो भी न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है वहीं कुछ कार्ड‍िओवैस्‍कुलर ट्रीटमेंट में भी जो दवाएं दी जाती हैं उनके साइड इफेक्‍ट से न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है, आपको इसके ल‍िए अपने डॉक्‍टर से सलाह लेनी चाह‍िए।

न‍िप्‍पल एर‍िया में हो रहे दर्द को ठीक कैसे करें? (Treatment of nipple pain)

  • न‍िप्‍पल में दर्द होने पर आप बर्फ से स‍िकाई करें, बर्फ के टुकड़े को साफ कपड़े में लपेटकर उससे न‍िप्‍पल की स‍िकाई करें तो आराम म‍िलेगा। 
  • अगर आप स्‍तनपान करवाती हैं तो बच्‍चे को दूध प‍िलाने के बाद स्‍तन का दूध, न‍िप्‍पल पर लगाकर सूखने दें, इससे आपको न‍िप्‍पल में दर्द नहीं होगा।
  • ब्रेस्‍ट या न‍िप्‍पल में दर्द होने पर माइल्‍ड क्रीम या एलोवेरा जेल का लेप बनाकर न‍िप्‍पल पर लगा सकते हैं, इससे दर्द दूर हो जाएगा।
  • न‍िप्‍पल में दर्द हो रहा हो तो ब्रा हटा दें और ढीले कपड़े पहनकर आराम करें, कई बार टाइट कपड़ों से भी न‍िप्‍पल में दर्द हो सकता है।
  • नार‍ियल तेल की मसाज करने से भी न‍िप्‍पल का दर्द ठीक हो सकता है, आप नार‍ियल के तेल को हल्‍का गरम करके न‍िप्‍पल पर लगाकर हल्‍के हाथ से मसाज करें।

न‍िप्‍पल में दर्द एक से दो द‍िनों में ठीक न हो तो आपको तुरंत डॉक्‍टर से सलाह लेनी चाह‍िए।

(main image source:cdnparenting.com)

Read more on Women Health in Hindi

Disclaimer