Milk in Dengue: क्या डेंगू में दूध पी सकते हैं? जानें किसका दूध होता है फायदेमंद

Milk in Dengue: इन दिनों डेंगू तेजी से फैल रहा है। डेंगू में डाइट का खास ध्यान रखना जरूरी होता है। जानें डेंगू में दूध पीना चाहिए या नहीं-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jul 20, 2022Updated at: Jul 20, 2022
Milk in Dengue: क्या डेंगू में दूध पी सकते हैं? जानें किसका दूध होता है फायदेमंद

Milk in Dengue Fever: मॉनसून में मच्छर जनित बीमारियां होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। इस मौसम में चिकनगुनिया, मलेरिया और डेंगू होना बेहद आम है। डेंगू एडिज एजिप्टी मच्छर के काटने से फैलता है। मच्छर के काटने के 3 से 7 दिनों बाद व्यक्ति को तेज बुखार आ सकता है। साथ ही डेंगू होने पर सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द और प्लेटलेट्स गिरने जैसे लक्षण भी नजर आते हैं। ऐसे में डेंगू के मरीजों को हेल्दी डाइट लेने की सलाह दी जाती है। अच्छी डाइट लेने से डेंगू रोगियों की इम्यूनिटी बढ़ती है और शरीर को डेंगू से लड़ने में मदद मिलती है। लेकिन अधिकतर लोगों के मन में सवाल रहता है कि डेंगू होने पर दूध पीना चाहिए या नहीं (Can we Drink Milk in Dengue)? 

तो डेंगू में दूध पीना चाहिए या नहीं, इस बारे में जानने के लिए हमने आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक, द्वारका की डाइटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से बातचीत की।

डेंगू में दूध पी सकते हैं?-Can Dengue Patient Drink Milk in Hindi

डॉक्टर सुगीता मुटरेजा बताती हैं कि दूध या डेयरी प्रोडक्ट्स में कैल्शियम और प्रोटीन अधिक मात्रा में पाया जाता है। डेंगू मरीज भी दूध पी सकते हैं। दूध पीने से शरीर को ताकत मिलती है, इससे उनमें एनर्जी आती है। साथ ही शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। डेंगू में दूध पीने से रोगियों की हड्डियां और मासंपेशियां भी मजबूत बनती हैं। दूध में मौजूद प्रोटीन डेंगू में होने वाले मांसपेशियों के दर्द से राहत दिलाता है। 

milk in dengue

पित्तशामक है दूध

डॉक्टर सुगीता मुटरेजा बताती हैं कि आयुर्वेद के अनुसार डेंगू होने पर शरीर में पित्त बढ़ जाता है। दूध पित्तशामक होता है, इसलिए डेंगू मरीज इसका सेवन कर सकते हैं। डेंगू में दूध पीने से पित्त संतुलित होता है।

इसे भी पढ़ें- डेंगू में प्लेटलेट्स कम क्यों हो जाते हैं? जानें कैसे बढ़ाएं प्लेटलेट्स

डेंगू में दूध पीने के फायदे-Milk Benefits in Dengue

  • डेंगू के मरीजों के लिए दूध पीना फायदेमंद हो सकता है।
  • दूध में कैल्शियम और प्रोटीन होता है, जो मसल्स पेन को कम करने में मदद करते हैं।
  • इसके अलावा दूध में विटामिन बी12, विटामिन डी और सेलेनियम भी होता है। ये तत्व डेंगू से लड़ने में मदद करते हैं।

डेंगू में दूध कैसे पीना चाहिए?

डेंगू के मरीज दूध पी सकते हैं। डेंगू के मरीजों को हमेशा गर्म दूध ही पीना चाहिए। आप चाहें तो डेंगू होने पर डेंगू में हल्दी डालकर भी पी सकते हैं। हल्दी में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो वायरस से लड़ने में मदद करते हैं। साथ ही शरीर की सूजन और दर्द में भी आराम दिलाते हैं। डेंगू के रोगियों को ठंडा दूध पीने से बचना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें- इन 4 तरह के लोगों को ज्यादा रहता है डेंगू का खतरा, जानें कैसे करें बचाव

क्या डेंगू में बकरी का दूध पीना फायदेमंद होता है?-Goat Milk in Dengue

डाइटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा बताती हैं कि लोग अकसर डेंगू होने पर बकरी का दूध पीते हैं। साथ ही दूसरों को भी बकरी का दूध पीने के सलाह देते हैं। इससे भले ही डेंगू से लड़ने में मदद मिल सकती है। लेकिन डॉक्टर सुगीता बताती हैं कि आयुर्वेद में डेंगू में बकरी के दूध पीना फायदेमंद होता है,  इसका जिक्र कही नहीं किया गया है। 

क्या डेंगू में दूध पी सकते हैं? जी हां, डेंगू के रोगी दूध पी सकते हैं। दूध पीने से डेंगू रोगियों की इम्यूनिटी तेज होती है और उन्हें बीमारी से लड़ने में मदद मिलती है।

Disclaimer