वजन घटाने वाली ये 3 ब्रीदिंग एक्सरसाइज घर बैठे घटाएंगी पेट की चर्बी

ब्रिदिंग एक्सरसाइज करना आसान होता है। घर बैठे कुछ न करने से बेहतर है कुछ एक्सरसाइज करके खुद को फुट रखा जाए। 

 

Meena Prajapati
Written by: Meena PrajapatiPublished at: May 21, 2021
वजन घटाने वाली ये 3 ब्रीदिंग एक्सरसाइज घर बैठे घटाएंगी पेट की चर्बी

कोरोनाकाल में अगर घर बैठकर आपका बैली फैट बढ़ गया है तो चिंता मत करिए, क्योंकि आज हम आपको बताएं कि कुछ ऐसे आसान प्राणायाम जिन्हें आप घर पर करके पेट की चर्बी घटा सकते हैं। पेट की चर्बी सबसे जिद्दी मानी जाती है। जब आप वेट लॉस करने की सोचते हैं तो सबसे बाद पेट की चर्बी कम होती है, लेकिन अगर आप नियमित रूप से व्यायाम करें तो शरीर में अतिरिक्त ऊर्जा स्टोर नहीं होगी। इससे आपका शरीर और मन दोनों फिट रहेंगा। प्राणायाम करने से भी बैली फैट को घटाने में मदद मिलती है। पर यह ध्यान रखें कि अगर आपको अच्छे परिणाम चाहिए तो रोजाना पूरे शरीर की एक्सरसाइज करें।

योग शिक्षक दिव्यांश शर्मा ने यहां कुछ आसान प्राणायाम बताएं हैं जिन्हें घर पर आराम से कर सकते हैं। दिव्यांश शर्मा का कहना है कि यह प्राणायाम बैठकर करने में दिक्कत है तो लेटकर भी कर सकते हैं। अगर कमर में दर्द होता है या कोई और परेशानी है तो दीवार के सहारे टेक लेकर भी कर सकते हैं। प्राणायाम करते समय अगर पैरों में सुन्नपन या कोई और परेशानी हो तो पैरों को खोलकर, हिलाकर दोबारा प्राणायाम शुरू कर सकते हैं।  

Inside1_reducebellyfat (1)

बैली फैट को कम करने वाली ब्रिदिंग एक्सरसाइज

कपालभाति

कपालभाति करने से हमारे पेट की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इससे हमारे पेट की चर्बी कम होना और हमारा मेटाबॉलिक रेट बढ़ना संभव होता है। कपालभाति जैसाकि नाम से ही मालूम होता है कपाल माने माथा और भाति का मतलब चमक होता है। इसका मतलब हुआ कि यह आसन चेहरे पर चमक लाता है। इसके अलावा पेट की चर्बी कम करन में मददगार है। महिलाएं अक्सरर पेट की चर्बी को लेकर परेशान रहती हैं। वे इस ब्रिदिंग एक्सरसाइज को कर सकती हैं।   

Inside2_reducebellyfat

करने का तरीका

  • -कमर और गर्दन सीधी करके बैठ जाएं और अगर लेटे हैं तो लेटकर भी इसका अभ्यास कर सकते हैं। 
  • -सबसे पहले एक लंबी गहरी सांस अंदर भरें।
  • -इसके बाद सांस को तेजी से छोड़ते हुए नाभि को रीढ़ के करीब लाने की कोशिश करें। ये हमारा एक स्ट्रोक होता है। इसे 30-60 बार करें। 
  • -एक राउंड समाप्त होने के बाद तीन बार लंबी गहरी सांस बाहर छोड़ें और तीन बार अंदर लें।
  • -चौथी लंबी गहरी सांस के साथ दूसरा राउंड करें और इस तरह 3 से 5 राउंड इसका अभ्यास करें। 

सावधानी

दिल की बीमारियों से जुड़े मरीज और हाई बीपी वाले मरीज कपालभाति को न करें। 

इसे भी पढ़ें : पीरियड्स में कौन से योग आसन करें और कौन से नहीं, एक्सपर्ट से जानें

भस्त्रिका प्राणायाम

जैसाकि इसके नाम से मालूम होता है कि भस्त्रिका का मतलब होता है कि लोहार के धौंकनी के समान सांस का तेजी से अंदर आना और तेजी से बाहर जाना। इस प्राणायाम को करते समय सांस छोड़ते समय और लेते समय सांस में तेजी से आवाज आनी चाहिए। भस्त्रिका प्राणायाम से हमारा मेटाबॉलिक रेट बढ़ता है। जिस वजह से हमारी शरीर की गैर जरूरी ऊर्जा को खर्च करता है। इससे बैली फैट कम होने में मदद मिलती है। इसको करने के दो प्रमुख अभ्यास बताए गए हैं। 

भस्त्रिका प्राणायाम करने की पहली विधि

  • -अपनी कोहनियों को मोड़कर अपने हाथ को कंधे के पास लाएं और मुट्ठी बंद कर लें।
  • -सांस लेते हुए अपने हाथ को आसमान की तरफ ऊपर लेकर जाएं और सांस छोड़ते हुए हाथ को पुन: उसी स्थिति में वापस लाएं। 
  • -इस प्राणायाम को 20-40 बार दोहराएं। 

Inside1_reducebellyfat

भस्त्रिका प्राणायाम की दूसरी विधि

  • -अपने हाथों को अपने घुटनों पर रखें। 
  • -कमर और गर्दन सीधी रहे। 
  • -सांस को तेजी से अंदर भरना है और तेजी से बाहर छोड़ना है। 20-40 बार ऐसा करें। 
  • -अब अपने पहली दो उंगलियों को माथे पर रखें और अपनी अंतिम दो उंगलियों से अपने बाएं नासिका को बंद रखते हुए धीरे से दाईं नासिका से सांस को अंदर भरें।
  • -अपनी दाईं नासिका को बंद रखते हुए बाईं नासिका से सांस को बाहर निकाल दें। यह एक राउंड हो गया।

(इन दोनों विधियों मे से किसी भी एक विधि को 3-5 बार दोहराएं। एक बार में एक ही विधि करें।)  

इसे भी पढ़ें : Yoga For Pregnant Women: प्रेग्‍नेंसी में जरूर करें ये 4 ब्रिदिंग एक्‍सरसाइज, शिशु के साथ आप भी रहेंगी स्‍वस्‍थ

सावधानी

  • -इस प्राणायाम को अपने शरीर की क्षमता अनुसार करें। 
  • -दिल के मरीज और हाई बीपी वाले मरीज इसका अभ्यास न करें।

बैली ब्रिदिंग

यह प्राणायाम पाचन की क्षमता को बढ़ाता है। इसे खाना खाने के बाद भी कर सकते हैं। एक साउथ कोरियन विश्वविद्यालय, Youngsan University Research ने शोध किया जिसमें यह निकलकर आया कि बैली ब्रिदिंग करने से भी मेटाबॉलिक रेट बढ़ता है। जिससे शरीर का फैट कम होने में मदद मिलती है। बैली की चर्बी घटाने के लिए यह असरदार प्राणायाम है।  

करने का तरीका

  • -सबसे पहले नाक से सांस को अंदर भरें और जितना हो सके उतना अपने पेट को फुलाने का प्रयास करें। 
  • -सांस को छोड़ते समय पेट को स्वभाविक रूप से अंदर की ओर जाने दें। 
  • -इस अभ्यास को करने के कोई नुकसान नहीं हैं। इस आसन को कोई भी कभी भी कर सकता है। 
  • -इस प्राणायाम को दिन भर में कभी भी कर सकते हैं।  

ब्रिदिंग एक्सरसाइज करना आसान होता है। घर बैठे कुछ न करने से बेहतर है कुछ एक्सरसाइज करके खुद को फुट रखा जाए। 

Read More Articles on yoga in Hindi

Disclaimer