ऑयल मसाज करने से बढ़ेगी इम्यूनिटी और कम होगा स्ट्रेस, जानें मसाज का सही तरीका

तेल से मसाज करने से शरीर से टॉक्सिंस बाहर निकलते हैं और शरीर की इम्युनिटी मजबूत होती है।

Monika Agarwal
तन मनWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jun 26, 2022Updated at: Jun 26, 2022
ऑयल मसाज करने से बढ़ेगी इम्यूनिटी और कम होगा स्ट्रेस, जानें मसाज का सही तरीका

स्वस्थ रहने के लिए इम्यूनिटी का मजबूत होना बहुत जरूरी है। जब इम्यूनिटी मजबूत होती है, तो व्यक्ति को कोई भी बीमारी आसानी से नहीं घेरती हैं। कई लोग इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कई तरह के सप्लीमेंट्स लेते हैं। लेकिन आप चाहें तो प्राकृतिक तरीके से भी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा सकते हैं। जी हां, मसाल एक ऐसा नैचुरल उपाय है जिससे इम्यूनिटी बढ़ाई जा सकती है। अगर तेल से सही समय, सही तरीके से मालिश की जाए तो इम्यूनिटी तेज हो सकती है।

मसाज करने का सही समय

वैसे तो आप दिन के किसी भी समय मसाज कर सकते हैं। लेकिन पूरा लाभ प्राप्त करने के लिए आपको मसाज तब करनी चाहिए, जब आप फ्री हो। इसके अलावा सुबह-सुबह मसाज करना सबसे बेस्ट माना जाता है। सुबह मसाज करने से आपके दिन की शुरुआत अच्छी होगी। आप पूरे दिन एनर्जेटिक और फ्रेश फील करेंगे। आप चाहें तो दोपहर में भी तेल से शरीर, बालों की मालिश कर सकते हैं।

मसाज के लाभ

  • मसाज करने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इससे लिंफैटिक फ्लो में भी सुधार आता है।
  • मसाज करने से खाद्य पदार्थों के पोषक तत्व शरीर को आसानी से मिल पाते हैं। इनका लाभ पूरे शरीर को मिल पाता है।
  • मसाज से आपका दर्द, स्ट्रेस भी दूर होता है। साथ ही अनिद्रा की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।
  • शरीर की इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में भी मसाज फायदेमंद हो सकता है।
  • मसाज करने से मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है। इससे व्यक्ति हमेशा स्वस्थ महसूस करता है।
  • मसाज से सेल्स में लिम्फोसाइट की संख्या बढ़ती है, जो इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं।

इसे भी पढें- अजवाइन और सरसों तेल खाने से दूर होती हैं सेहत की कई समस्याएं, इस तरह डाइट में कर सकते हैं शामिल

इन बातों को जरूर रखें ध्यान

  • आपको खाली पेट मसाज करने से बचना चाहिए। क्योंकि मसाज आपके डाइजेस्टिव सिस्टम को स्टिमुलेट करती है। इससे ब्लड ग्लूकोज लेवल कम हो सकता है
  • मसाज करने से पहले आप थोड़ा कुछ खा लें। आप फलों का सेवन कर सकते हैं।
  • इसके अलावा हैवी मील खाने के बाद भी मसाज नहीं करवानी चाहिए। इससे ब्लोटिंग महसूस हो सकती है।

मसाज के लिए बेस्ट ऑयल

जो एसेंशियल ऑयल पेड़ की पत्तियों, तने, फूलों से एक्सट्रेक्ट किए जाते हैं, मसाज के लिए उनका ही प्रयोग किया जाना चाहिए। एसेंशियल ऑयल आपके इम्यून सिस्टम को स्टिमुलेट करते हैं। इससे इम्युन सेल्स की एक्टिविटी बढ़ती हैं। सेल्स इन्फ्लेमेशन और दर्द को कम करने में मदद करती हैं। आप यूक्लेप्टस, क्लॉव, लेवेंडर और टी ट्री ऑयल जैसे एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये तेल इम्युनिटी को बढ़ाने में भी मदद कर सकते हैं।

इसे भी पढें- थकान और कमजोरी से हैं परेशान? ये आयुर्वेदिक हर्ब्स बढ़ाएंगी एनर्जी और रखेंगी आपको सुपर-एक्टिव

एक अच्छी मसाज से आपको काफी सारे लाभ मिल सकते हैं। इससे आपकी इम्यूनिटी बढ़ सकती है, आप पूरे रिलैक्स हो सकते हैं। स्ट्रेस और शरीर का दर्द भी पूरी तरह से कम हो जाता है। इसलिए आप चाहें तो महीने में एक या दो बार एसेंशियल ऑयल से अपने शरीर की मसाज कर सकते हैं या फिर किसी से करवा सकते हैं।

Disclaimer