बार-बार आती है छींक, तो इन 5 आयुर्वेदिक उपायों से दूर करें नाक की एलर्जी

Nose Allergy: इस समय कई लोगों को एलर्जी से परेशान होना पड़ रहा है। ऐसे में आप कुछ आयुर्वेदिक उपाय आजमा सकते हैं।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jul 05, 2022Updated at: Jul 05, 2022
बार-बार आती है छींक, तो इन 5 आयुर्वेदिक उपायों से दूर करें नाक की एलर्जी

Nose Allergy Remedies in Hindi: बदलते मौसम में हम सभी लोगों को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसमें नाक की एलर्जी सबसे आम है। गर्मी से बरसात आने पर अकसर लोगों को नाक की एलर्जी से परेशान होना पड़ता है। इस दौरान व्यक्ति को नाक में खुजली, इरिटेशन महसूस हो सकती है। इसके अलावा बार-बार छींक आना भी नाक की एलर्जी का लक्षण होता है। नाक की एलर्जी को मेडिकल टर्म में एलर्जिक राइनाइटिस (Allergic  Rhinitis) कहा जाता है। यह एलर्जी किसी वायरस के कारण नहीं होती है, बल्कि जब हवा में मौजूद दूषित कण नाक में जाते हैं, तो यह एलर्जी हो सकती है। अगर आपको भी नाक की एलर्जी परेशान कर रही है, तो इस स्थिति में आप कुछ आयुर्वेदिक उपाय आजमा (How to Get Rid From Nose Allergy) सकते हैं। 

1. आंवला (Amla for Allergic Rhinitis)

नाक की एलर्जी से राहत दिलाने में आंवला काफी फायदेमंद हो सकता है। आंवला में विटामिन सी पाया जाता है, जो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाता है और श्वसन प्रणाली को मजबूत करता है। नाक की एलर्जी होने पर आप एक चम्मच आंवला पाउडर लें और इसे शहद के साथ मिलाकर खाएं। रोजाना आंवला और शहद खाने से एलर्जी को ठीक करने में मदद मिल सकती है।

2. कशाया पाउडर (Kashaya Powder for Allergy)

नाक की एलर्जी ठीक करने के लिए कशाया पाउडर भी असरदार हो सकता है। इसके लिए आप धनिया, जीरा, सौंफ, काली मिर्च और मेथी के बीजों को हल्का-सा भून लें। इन सभी को ग्राइंड करके पाउडर बना लें। इसके बाद आप एलर्जी होने पर इस कशाया पाउडर को दूध या पानी में उबाल लें, फिर इसमें गुड़ मिला लें। रोजाना इस तरह कशाया पाउडर लेना फायदेमंद हो सकता है। 

amla for allergy

इसे भी पढ़ें- बदलते मौसम में हो सकती है एलर्जी की शिकायत, इन घरेलू उपायों से करें अपनी परेशानी दूर

3. हल्दी का पानी (Turmeric for Allergic Rhinitis)

हल्दी एलर्जी से राहत दिलाने में कारगर साबित हो सकता है। नाक की एलर्जी होने पर आप एक गिलास पानी में आधा चम्मच हल्दी डालें और इसे अच्छी तरह उबाल लें। अब इस पानी में नमक डालें। इस पानी को पीने से आपको एलर्जी के लक्षणों में कमी देखने को मिल सकती है। दरअसल, हल्दी में एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो एलर्जी को दूर करने में मदद करते हैं। रिसर्च के अनुसार हल्दी में करक्यूमिन होता है, यह एंटीऑक्सीडेंट एलर्जी से राहत दिलाती है।

4. गिलोय (Giloy for Allergic Rhinitis)

आयुर्वेद में गिलोय को काफी महत्वपूर्ण औषधि माना गया है। गिलोय औषधीय गुणों से भरपूर होता है। आप एलर्जी होने पर गिलोय का उपयोग कर सकते हैं, क्योंकि गिलोय एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षणों को कम करने में मदद करता है। गिलोय लेने से छींक, खुजली और नाक के डिस्चार्ज से छुटकारा मिल सकता है। इसके लिए आप गिलोय के तने को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। इसके बाद इन टुकड़ों को पानी में उबालें और फिर छानकर पी लें। मौसम बदलने पर गिलोय का काढ़ा पीने से एलर्जी से बचाव भी होता है। 

5. एलोवेरा (Aloe Vera for Allergic Rhinitis)

एलोवेरा का उपयोग कई त्वचा की समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। आप नाक की एलर्जी होने पर भी एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं। रिसर्च बताते हैं कि एलर्जिक राइनाइटिस के इलाज के लिए एलोवेरा एक प्रभावी आयुर्वेदिक उपाय हो सकता है। इसके लिए आप एलोवेरा जूस का सेवन कर सकते हैं। एलोवेरा में एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो एलर्जी को दूर करने में मदद कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- एलर्जी से संबंधित सामान्य बीमारियां और उनका प्राकृतिक उपचार

Ayurvedic Remedies for Nose Allergy: नाक की एलर्जी होने पर आप एलोवेरा, गिलोय, आंवला और कशाया पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। ये आयुर्वेदिक उपाय एलर्जी से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। लेकिन अगर लंबे समय तक बार-बार छींक आने, खुजली या स्त्राव होने पर डॉक्टर से जरूर मिलें।

Disclaimer