सर्दियों में जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए करें इन 5 तेलों से मालिश

Ayurvedic oil for joint pain: सर्दियों के मौसम में बुजुर्ग ही नहीं युवाओं को भी जोड़ों के दर्द की समस्या होती है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Nov 10, 2022 12:43 IST
सर्दियों में जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए करें इन 5 तेलों से मालिश

Ayurvedic oil for knee joint pain: सर्दियों का मौसम आते ही कुछ लोगों के चेहरे खिल गए हैं, लेकिन कुछ लोग सर्दियों में जोड़ों के दर्द और सूजन से परेशान रहते हैं। जोड़ों में दर्द होने या अचानक से जोड़ों का दर्द (jodon mein dard kyon hota hai) बढ़ जाने के कई कारण हो सकते हैं। खराब लाइफस्टाइल, जंक फूड्स, एक्सरसाइज न करना और बहुत अधिक मात्रा में कैफीन का सेवन कई बार जोड़ों में दर्द और सूजन का कारण बनता है।

यही कारण है कि आज सिर्फ बुजुर्ग की नहीं युवा भी जोड़ों के दर्द से परेशान हैं। जोड़ों का दर्द अगर हल्का-फुल्का हो तो बर्दाश्त हो जाता है, लेकिन ज्यादा हो जाए तो व्यक्ति का उठना और बैठना भी मुश्किल हो जाता है। सर्दियों के मौसम में लोगों के जोड़ों के दर्द को देखते हुए आज हम आपको इस लेख में बताने जा रहे हैं जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने वाले 5 आयुर्वेदिक तेलों के बारे में। इन आयुर्वेदिक तेलों से रोजाना घुटने और पैरों की मालिश (Ayurvedic oil for knee joint pain) करके आप जोड़ों के दर्द से राहत पा सकते हैं। आइए जानते हैं इन तेलों के बारे में।

इसे भी पढ़ेंः Anita Hassanandani ने पिज्जा-बर्गर खाकर भी घटाया वजन, ट्रांसफॉर्मेशन देख हैरान हुए फैन्स


Ayurvedic oil for knee joint pain

जोड़ों के दर्द के लिए कौन सा तेल इस्तेमाल करना चाहिए? - Ayurvedic oil for knee joint pain

सरसों का तेल

शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन या दर्द हो सरसों के तेल से मालिश करने की सलाह दी जाती है। ठंड के मौसम में आपके जोड़ों का दर्द ज्यादा बढ़ गया है तो 2 से 3 चम्मच सरसों के तेल में 2 कलियां लहसुन की डालकर हल्का गर्म कर लें। इसके बाद जब तेल ठंडा हो जाए तो इससे जोड़ों और पैरों की मालिश करें। आपको कुछ ही दिनों में आराम महसूस होने लगेगा। सरसों के तेल में मौजूद विटामिन जैसे थियामाइन, फोलेट व नियासिन शरीर की सूजन और जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद करते हैं। हड्डियों की मजबूती के लिए भी सरसों के तेल से मालिश करने की सलाह दी जाती है।

जैतून का तेल या ऑलिव ऑयल

जैतून के तेल से जोड़ों की मालिश करने से भी दर्द से राहत पाई जा सकती है। जैतून के तेल से पैरों की मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशम सुधारने, मांसपेशियां में ऐंठन, दर्द और तनाव मिलती है। जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए रात को इससे मालिश करके सोना चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः क्या प्रदूषण के कारण बाल ज्यादा झड़ने लगते हैं? जानें एक्सपर्ट की राय

बादाम का तेल

बादाम के तेल में विटामिन ई पाया जाता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करता है। सर्दियों में बादाम के तेल को हल्का गुनगुना कर जोड़ों और पैरों की मालिश की जाए तो दर्द से राहत मिल सकती है।

तिल का तेल

तिल के तेल में किसी भी आम तेल के मुकाबले ज्यादा मॉइश्चराइजर पाया जाता है। तिल के तेल से मालिश करने से जोड़ों के दर्द से राहत पाई जा सकती है। इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड, कॉपर, जिंक, कैल्शियम, मैग्नीशियम, प्रोटीन हड्डियों को मजबूत बनाने में भी मदद करते हैं।

नारियल का तेल

सर्दियों के मौसम में सिर के दर्द, बदन दर्द और जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए नारियल के तेल को बेस्ट माना जाता है। नारियल के तेल में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण घुटनों के दर्द से जल्द राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं।

 

Disclaimer