मुहांसों का आयुर्वेदिक इलाज: चेहरे के कील-मुहांसों को ठीक करती हैं ये 3 जड़ी-बूटियां, जानें प्रयोग का तरीका

कील-मुहांसे की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आप मंज‍िष्‍ठा, वेटि‍वर, शतावरी जैसी हर्ब्स का इस्‍तेमाल कर सकते हैं, जानते हैं प्रयोग 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Oct 07, 2021
मुहांसों का आयुर्वेदिक इलाज: चेहरे के कील-मुहांसों को ठीक करती हैं ये 3 जड़ी-बूटियां, जानें प्रयोग का तरीका

क‍िन लोगों को मुहांसे की समस्‍या ज्‍यादा होती है? जो लोग पर्याप्‍त मात्रा में नींद न लें, ज‍िनकी बॉडी हाइड्रेटेड न हो, जो एल्‍कोहॉल या धूम्रपान का सेवन करते हों, ज‍िनके शरीर में हार्मोन्‍स असंतुल‍ित हों उन्‍हें मुहांसे की समस्‍या हो सकती है। अगर आपको आए द‍िन मुहांसे की समस्‍या रहती है तो आप आयुर्वेद‍िक तरीके से एक्‍ने की समस्‍या दूर कर सकते हैं। मंजि‍ष्‍ठा, शतावरी, वेट‍िवर जैसी जड़ी-बूट‍ियों के इस्‍तेमाल से मुहांसे की समस्‍या दूर होती है। इन जड़ी-बूटी में मौजूद खास गुणों से स्‍क‍िन को आराम म‍िलता है। लोधरा, हल्‍दी, चंदन, वाचा, कुष्‍ठा, नीम, गुडुची जैसी जड़ी-बूट‍ियों का इस्‍तेमाल भी मुहांसे खत्‍म करने के ल‍िए क‍िया जा सकता है। इस लेख में हम इन तीन जड़ी-बूटी के फायदे और इस्‍तेमाल करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

manjistha herb

(image source:googleusercontent)

1. मंजिष्ठा की मदद से दूर होगी मुहांसे की समस्‍या (Use manjistha herb to cure acne)

मंज‍िष्‍ठा जड़ी-बूटी का इस्‍तेमाल पुराने समय से स्‍क‍िन से जुड़ी समस्‍याओं को दूर करने के ल‍िए क‍िया जाता है। मंज‍िष्‍ठा हर्ब के इस्‍तेमाल से रक्‍त दोषा दूर होता है यानी खून साफ होता है ज‍िससे एक्‍ने की समस्‍या दूर होती है। आपको मंजिष्‍ठा जड़ी-बूटी का पाउडर दूध के साथ म‍िलाकर चेहरे पर लगाना है। आप इस लेप को बनाने के ल‍िए मंज‍िष्‍ठा के साथ चंदन का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। चंदन से त्‍वचा को ठंडक म‍िलेगी और मुहांसे जल्‍दी ठीक हो जाएगा। सभी सामग्री को अच्‍छी तरह से म‍िक्‍स कर लें और म‍िश्रण में दूध म‍िला दें। इस लेप को आपको मुहांसे वाली जगह पर एप्‍लाई करना है। लेप को चेहरे पर कम से कम आधे घंटे के ल‍िए रखें और उसके बाद साफ पानी से चेहरे को साफ कर लें।

इसे भी पढ़ें- जोड़ों का दर्द दूर करने के लिए बनाएं लौंग का लेप, जानें प्रयोग का तरीका

2. मुहांसे की समस्‍या को दूर करे शतावरी (Use shatavari herb to cure acne)

शतावरी को एंटीबैक्‍टीर‍ियल हर्ब भी कहा जाता है। शतावरी से असंतुलि‍त हार्मोन को कंट्रोल करने का काम करता है। शतावरी के साथ आप अश्‍वगंधा और हल्‍दी की गांठ म‍िलाकर मुहांसे पर लगाएं, इन सभी जड़ी-बूट‍ियों का पाउडर बना लें। इसके बाद आपको सभी सामग्री को अच्‍छी तरह से म‍िक्‍स करना है और उसे पानी के साथ म‍िलाकर लेप तैयार करना है, इस लेप को आप मुहांसे वाले ह‍िस्‍से में लगाएं और लगाकर छोड़ दें। 15 से 20 म‍िनट बाद लेप को साफ पानी से धो लें। इस मेथड को आप हफ्ते में 3 बार र‍िपीट करें तो मुहांसे की समस्‍या दूर हो जाएगी। इन आयुर्वेद‍िक इलाज को करते समय आपको इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि कोल्‍ड ड्रिंक्‍स, तेल या म‍िर्च-मसाले वाला भोजन न खाएं और प्रदूषण में जाने से बचें नहीं तो इलाज का असर नहीं होगा।

इसे भी पढ़ें- तेजी से वजन घटाने के लिए ऐसे बनाकर पिएं नीम का काढ़ा, सेहत को मिलेंगे कई अन्य फायदे

3. वेट‍िवर जड़ी-बूटी से दूर करें एक्‍ने की समस्‍या (Use vetiver herb to cure acne)

vetivar herb

(image source:synbiowatch)

वेटिवर एक आयुर्वेद‍िक हर्ब है ज‍िसका इस्‍तेमाल स्‍कि‍न से जुड़ी समस्‍याएं जैसे एक्‍ने की समस्‍या, दानें, फाइन लाइंन के लक्षण जैसी समस्‍याओं को दूर करने के ल‍िए क‍िया जाता है। वेट‍िवर का इस्‍तेमाल मुहांसे पर करने से खुजली और जलन की समस्‍या भी दूर होती है। वेट‍िवर में एंटी-ऑक्‍सीडेंट, एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। आप वेट‍िवर की पत्‍त‍ियों को पीसकर लेप बना लें और उसमें गुलाब जल म‍िलाकर एक्‍ने वाले ह‍िस्‍से में लगाकर छोड़ दें, 15 म‍िनट बाद गुनगुने पानी से चेहरे को साफ कर लें। इस तरीके को हफ्ते में दो बार र‍िपीट करें तो एक्‍ने की समस्‍या दूर हो जाएगी।

मुहांसे की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आयुर्वेद‍िक इलाज के अलावा आपको सही डाइट और लाइफस्‍टाइल में बदलाव करना चाह‍िए। पर्याप्‍त मात्रा में पानी पिएं और नींद पूरी करें।

(main image source:google,tmgrup)

Read more on Ayurveda in Hindi 

Disclaimer