Herbal Tea For Thyroid: थायराइड को कंट्रोल करने के लिए पिएं ये आयुर्वेदिक चाय

हर्बल टी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। अगर आपको थायराइड की बीमारी है, तो आप इस आयुर्वेदिक हर्बल टी का सेवन कर सकते हैं।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Dec 31, 2022 11:30 IST
Herbal Tea For Thyroid: थायराइड को कंट्रोल करने के लिए पिएं ये आयुर्वेदिक चाय

आजकल बड़ी संख्या में लोग थायराइड रोग से पीड़ित हैं। थायराइड हमारी गर्दन में मौजूद एक छोटी सी तितली के आकार की ग्रंथि है। थायराइड ग्लैंड से थायरॉक्सिन नामक हार्मोन रिलीज होता है। यह हार्मोन शरीर के मेटाबॉलिज्म और एनर्जी के स्तर को कंट्रोल करता है। जब थायराइड ग्लैंड सही से काम नहीं कर पाता है, तो यह हार्मोन ज्यादा या कम बनने लगता है। थायराइड की बीमारी होने पर व्यक्ति का मेटाबोलिज्म कमजोर हो जाता है, जिससे वजन बढ़ने लगता है। थायराइड रोग के लक्षणों में थकान, स्किन का ड्राई होना, बालों का झड़ना आदि शामिल हैं। अगर थायराइड की समस्या का इलाज न किया जाए, तो इससे कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है और दिल की बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। थायराइड होने पर आपको डॉक्टर की सलाह से दवा का सेवन करना चाहिए। थायराइड के लक्षणों को कंट्रोल करने के लिए आप आयुर्वेदिक उपायों का भी सहारा ले सकते हैं। आयुर्वेद डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए कुछ आयुर्वेदिक उपाय हैं, जिनसे थायराइड को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से -

डॉक्टर दीक्षा ने बताया कि थायराइड के मरीजों को दिन की शुरुआत कैफीन युक्त चाय या कॉफी के बजाय हर्बल चाय से करनी चाहिए। दरअसल, थायराइड की बीमारी में थायराइड ग्लैंड में सूजन आ सकती है। ऐसे में, सुबह सबसे पहले कैफीन लेने से यह सूजन और अधिक बढ़ सकती है। इससे मेटाबॉलिज्म, हार्मोन और प्रजनन क्षमता पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। थायराइड में कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। डॉक्टर ने थायराइड लेवल को नियंत्रित करने के लिए आयुर्वेदिक हर्बल टी ((Herbal Tea For Thyroid Problem) के बारे में भी बताया है। अगर आप थायराइड के मरीज हैं, तो रोज सुबह इस हर्बल चाय से अपने दिन की शुरुआत कर सकते हैं -

किस तरह तैयार करें हर्बल चाय - How To Make Herbal Tea

सामग्री 

  • 2 बड़े चम्मच धनिया के बीज
  • 1 गिलास पानी (300 मिली)
  • 9-12 करी पत्ते
  • 5-7 सूखी गुलाब की पंखुड़ियां
Thyroid-Herbal-Tea

विधि 

इस हर्बल चाय को बनाने के लिए आप एक बर्तन में पानी डालें। फिर उसमें धनिया के बीज, करी पत्ते और सूखी गुलाब की पंखुड़ियां डाल दें। इसे मध्यम आंच पर 5-7 मिनट के लिए उबालें। फिर इसे छानकर पिएं। 

इसे भी पढ़ें: थायराइड के मरीज डाइट में शामिल करें ये नट्स, TSH लेवल रहेगा कंट्रोल

हर्बल चाय के फायदे  - Benefits Of Herbal Tea

  • ये आयुर्वेदिक चाय थायराइड फंक्शन को बेहतर बनाने में मदद करती है। 
  • हाइपरथायरायडिज्म के रोगियों में स्वाभाविक रूप से थायराइड हार्मोन के स्तर को कम करना।
  • हाइपोथायरायडिज्म के मरीजों में थायराइड हार्मोन के स्तर में सुधार करना।
  • आयरन, मेटाबॉलिज्म में सुधार, त्वचा का रूखापन कम करना, बाल झड़ना आदि।

किस समय पिएं हर्बल चाय 

अगर आपको सुबह उठकर चाय-कॉफी पीने की आदत है, तो इस आदत को छोड़ दें। कॉफी-चाय के बजाय आप सुबह हर्बल चाय पीकर अपने दिन की शुरुआत कर सकते हैं।

Herbal Tea To Control Thyroid Levels: थायराइड की समस्या को नियंत्रित करने के लिए आप स्वस्थ खानपान और दवाइयों के साथ इस हर्बल चाय का सेवन भी कर सकते हैं। 

Disclaimer