नए साल से शुरू करें रोज ये 3 योगासन करना, हमेशा रहेंगे फिट और हेल्दी

Yoga for Good Health: नियमित तौर पर योग का अभ्यास करने से दिल, दिमाग के रोगों से राहत पाई जा सकती है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Dec 27, 2022 19:11 IST
 नए साल से शुरू करें रोज ये 3 योगासन करना, हमेशा रहेंगे फिट और हेल्दी

कुछ ही दिनों में साल 2022 दुनिया को अलविदा कहने वाला है और लोग 2023 का बाहें फैलाकर स्वागत करने वाले हैं। नए साल यानी की नई सौगातें, नए वादे और नए हेल्थ रिजॉल्यूशन। कोरोना के नए वेरिएंट की भारत में दस्तक के बाद एक बार फिर नए साल पर लोग खुद को हेल्दी और फिट रखने का फैसला लेंगे। हेल्दी रहने के लिए लोग डाइट में बदलाव करेंगे, डेली रूटीन में कई तरह की एक्सरसाइज को शामिल करेंगे। अगर आप भी नए साल में हेल्दी और फिट रहने का प्रण लेने वाले हैं तो अपनी रोजाना की एक्टिविटी में योग को शामिल करें। योग करने से न सिर्फ सेहत अच्छी रहती है बल्कि दिमाग को भी शांति मिलती है। आज इस लेख में हम आपको बताएंगे 5 ऐसे योगासन के बारे में, जिन्हें अपनाकर आप 2023 में हेल्दी और फिट रह सकते हैं।

सेतुबंधासन - Setu Bandhasana

सेतुबंधासन जिसे हिंदी में ब्रिज पोज योगासन कहा जाता है। ब्रिज पोज आसन करने से मांसपेशियों को मजबूती मिलती है और ये शरीर को लचीला बनाने में मदद करती है। नियमित तौर पर सेतुबंधासन का अभ्यास करने से ब्लड प्रेशर, थायराइड की प्रॉब्लम से भी बचा जा सकता है।

सेतुबंधासन करने का तरीका - How To Do Setu Bandhasana

इसके लिए सबसे पहले योगा मैट बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं।

अब अपने पैरों को मोड़ें और हाथों से टखनों को पकड़ें।

इसके बाद धीरे-धीरे नितंबों, कमर और पीठ के ऊपरी हिस्से को ऊपर की ओर उठाएं।

कुछ देर तक इसी पोजिशन में रहे और बाद में नॉर्मल हो जाएं।

गोमुखासन - Gomukhasana

नियमित तौर पर गोमुखासन योग का अभ्यास करने से कंधे की जकड़न, गर्दन में दर्द और सर्दियों में होने वाले सर्वाइकल के दर्द से भी राहत पाई जा सकती है।

गोमुखासन करने का तरीका - How To Do Gomukhasana

सबसे पहले योगा मैट को बिछाकर खड़े हो जाएं।

अब दाएं पैर को बाएं पैर के ऊपर लाकर बैठें।

इस वक्त आपके दोनों पैरों के घुटने ऊपर होना जरूरी है।

इसके बाद दाएं हाथ को सिर की ओर से पीछे की ओर ले जाएं।

अब दोनों हाथों को पीछे मिलाते हुए एक सीधी रेखा बनाएं।

थोड़ी देर इसी पोजिशन में रहें और इसके बाद नॉर्मल पोजीशन में आ जाएं।

वज्रासन - Vajrasana

नियमित तौर पर वज्रासन का अभ्यास करने से दिमाग को शांत करने, पाचन संबंधी समस्याओं के दूर करने, ब्लड प्रेशर कंट्रोल जैसी कई बीमारियों से राहत पाई जा सकती है। वज्रासन का अभ्यास करने से वजन घटाने में भी मदद मिलती है।

वज्रासन करने का तरीका - How To Do Vajrasana

सबसे पहले पैरों को मोड़कर योगा मैट पर घुटनों के बल बैठ जाएं।

घुटनों के बल बैठने के बाद धीरे-धीरे शरीर को नीचे लेकर जाएं, ताकि हिप्स एड़ियों पर जाकर टिक जाएं।

इसके बाद दोनों हाथों को घुटनों पर रखें और माथे को सीधा रखें।

इस पोजीशन में बैठने के बाद गहरी सांस लें और छोड़ें।

इस पोजीशन में थोड़ी देर बैठने के बाद आप नॉर्मल हो सकते हैं और दोबारा अभ्यास शुरू कर सकते हैं।

अपने दोनों हाथों को घुटनों पर रखें, सिर एकदम सीधा रखें और आपकी दृष्टि एकदम सामने की ओर रहेगी।

अपना ध्यान सांसों की गति पर केंद्रित रखें।

Disclaimer

Tags