जोड़ों की सूजन कम करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 Herbs

Herbs To Reduce Joint Swelling: जोड़ों के दर्द और सूजन की समस्या बहुत ही कष्टदाई होती है।

 
Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Dec 22, 2022 20:02 IST
जोड़ों की सूजन कम करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 Herbs

Herbs To Reduce Joint Swelling: सर्दियों का मौसम आते ही अक्सर घर के बड़े-बुजुर्गों के जोड़े की समस्या होने लगती है। किसी को जोड़ों में दर्द की परेशानी होती है तो कोई जोड़ों में सूजन की समस्या का सामना कर रहा होता है। एक उम्र के बाद जोड़ों में सूजन होना बहुत ही आम माना जाता है। कई बार जोड़ों में सूजन खानपान, एक्सरसाइज ज्यादा या कम करने की वजह से भी आती है। जोड़ों की सूजन सुनने में बेशक एक आम समस्या लगती हो, लेकिन वास्तव में ये बहुत कष्टदाई होती है। जोड़ों की सूजन होने का ये मतलब है कि आपको अपनी डाइट में कुछ खास बदला करने की जरूरत है। डाइट में बदलाव करके न सिर्फ जोड़ों की सूजन को खत्म किया जा सकता है बल्कि इस समस्या को होने से बचने से भी रोका जा सकता है। आज हम आपको इस लेख में बताएंगे जोड़ों की सूजन खत्म करने वाले 5 हर्ब्स के बारे में।

इसे भी पढ़ेंः अकरकरा है सेहत के लिए बहुत फायदेमंद, इन 5 बीमारियों से दिलाता है राहत

जोड़ों की सूजन को कम करने वाले 4 हर्ब्स - Herbs To Reduce Joint Swelling

नीलगिरी का तेल

नीलगिरी का तेल जोड़ों की सूजन और दर्द दोनों से राहत दिलाने में बहुत मददगार साबित होता है। नीलगिरी के तेल में एंटीवायरल और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं, जो सूजन और दर्द से राहत दिलाते हैं। जोड़ों में सूजन की समस्या होने पर 5 से 6 बूंद नीलगिरी का तेल हाथों पर लेकर मालिश करें। आप चाहें तो नीलगिरी के तेल को नहाने के पानी में डालकर नहा भी सकते हैं। गठिया या पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस से पीड़ित व्यक्ति भी नीलगिरी के तेल का इस्तेमाल मालिश करने के लिए कर सकते हैं।

Herbs To Reduce Joint Swelling

थाइम

थाइम बहुत ही गुणकारी औषधीय हर्ब है। थाइम में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुए पाए जाते हैं। इसलिए ये सेहत के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है। जोड़ों की सूजन से राहत पाने के लिए आप थाइम को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। आप बीन, आलू-प्याज, गोभी, अंडा या किसी भी डिश में शामिल करके पका सकते हैं और खा सकते हैं।

काली मिर्च

काली मिर्च हर भारतीय घरों में हमेशा ही मौजूद रहता है। सब्जी, सलाद का स्वाद बढ़ाने वाली काली मिर्च सेहत के लिए बहुत लाभकारी मानी जाती है। काली मिर्च में पर्याप्त मात्रा में एंटी-माइक्रोबिल, एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो जोड़ों और सूजन से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। आप जोड़ों के दर्द और सूजन की समस्या में काली मिर्च के तेल से मालिश कर सकते हैं। आप काली मिर्च को अपनी डाइट में भी शामिल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या सरसों के तेल से बच्चों की मालिश करना सही है?

हल्दी

हल्दी के बिना भारत के किभी भी घर में दाल और सब्जी बनाने की प्रक्रिया पूरी ही नहीं होती है। हल्दी खाने में रंग लाने के साथ-साथ कई बीमारियों का इलाज करने में भी मददकार साबित होती है। हल्दी एक ऐसा हर्ब है जिसमें करक्यूमिन पाया जाता है। करक्यूमिन जोड़ों की सूजन और दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। जोड़ों की सूजन की समस्या से राहत पाने के लिए आप डाइट में हल्दी को शामिल कर सकते हैं या सूजन वाली जगह पर हल्दी का लेप लगा सकते हैं।

Pic Credits: Freepik.com

Disclaimer

Tags