World Sight Day 2021: चश्‍मा बनवाते समय आंखों की जांच सही हुई है या गलत, इन 5 संकेतों से लगाएं पता

चश्‍मा बनवाते समय अगर आंखों की जांच गलत हो जाए तो आपकी आंखें खराब हो सकती हैं, आई टेस्‍ट करवाते समय इन बातों का ध्‍यान रखें 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Oct 04, 2021
World Sight Day 2021: चश्‍मा बनवाते समय आंखों की जांच सही हुई है या गलत, इन 5 संकेतों से लगाएं पता

अगर आप नया चश्‍मा बनवाकर लाए हैं और आपकी आंखों को उसके साथ एडजस्‍ट करने में परेशानी हो रही है तो ऐसा हो सकता है क‍ि आपका आई चेक ठीक ढंग से न हुआ हो। कुछ संकेत हैं जि‍नके जर‍िए आप पता लगा सकते हैं क‍ि आपका आई टेस्‍ट ठीक तरह से हुआ है या नहीं। हालांक‍ि आंखों को नए चश्‍मे में एडजस्‍ट होने में थोड़ा समय लगता है पर अगर आप अपना पहला चश्‍मा बनवाने जा रहे हैं तो प्रश‍िक्ष‍ित डॉक्‍टर के पास जाकर ही आंखों की जांच करवाएं, कुछ लोग चश्‍मे की दुकान से आंखों की जांच करवाते हैं ज‍िससे आंखों का विजन तो पता चल जाता है पर आंखों में अगर कोई बीमारी है तो इसकी जानकारी आपको आई स्‍पेशल‍िस्‍ट ही दे सकते हैं। इस लेख हम जानेंगे क‍ि गलत आई टेस्‍ट के क्‍या संकेत होते हैं। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

eye test

(image source:fromthegrapevine)

नए चश्‍मे में आंखें क‍ितने समय में एडजस्‍ट होती हैं? (Time to adjust with new eye glasses)

नए चश्‍मे से आपकी आंखों का व‍िजन ठीक नहीं होता है और न ही पुराना नंबर दोबारा आता है पर चश्‍मे से आपको साफ नजर आता है हालांक‍ि अगर आप नया चश्‍मा बनवाकर आए हैं तो आपकी आंखों को उसमें एडजस्‍ट होने में कम से कम 5 म‍िनट और ज्‍यादा से ज्‍यादा एक हफ्ते का समय लगता है। हालांक‍ि अगर आपके नंबर में बड़ा फर्क है तो आपको 2 से 6 हफ्तों का समय भी लग सकता है। अगर आपकी आंखों का नंबर गलत है तो आपको उसे एडजस्‍ट करने में परेशानी होगी और कई तरह के लक्षण नजर आ सकते हैं ज‍िनके बारे में हम आगे जानेंगे।

इसे भी पढ़ें- आंखों का ऑपरेशन कराने के बाद जरूरी हैं ये 6 सावधानियां, डॉक्टर से जानें क्या करें और क्या नहीं

आंखों की गलत जांच के लक्षण (Signs of wrong eye test)

eye strain

(image source:vision-specialists)

1. स‍िर में तेज दर्द होना (Headache) 

अगर आपके स‍िर में तेज दर्द हो रहा है तो इसका कारण चश्‍मे का गलत नंबर भी हो सकता है, अगर आप नया चश्‍मा बनवाकर लाए हैं और कई द‍िनों बाद भी सिर में तेज दर्द होता है तो आप डॉक्‍टर को द‍िखाएं।

2. आंख से पानी आना (Watery eyes) 

अगर आपकी आंख से पानी आ रहा है तो भी ये गलत आई चेकअप के कारण बने चश्‍मे के संकेत हो सकते हैं, आंख से पानी आने की समस्‍या को हल्‍के में न लें, ये क‍िसी बीमारी के लक्षण भी हो सकते हैं या नए चश्‍मे के गलत नंबर के कारण भी आंख से पानी आ सकता है।

इसे भी पढ़ें- सूरज की तेज रोशनी के कारण आंखों में हो सकती हैं ये 5 बीमारियां, जानें बचाव के टिप्स

3. चक्‍कर आना (Feeling dizziness)

आंखों के चेकअप के बाद नया चश्‍मा लगाकर अगर आपको चक्‍कर जैसा अहसास हो तो मतलब आपका चेकअप ठीक तरह से नहीं हुआ है, जब आप अपने नंबर से ज्‍यादा या कम व‍िजन का चश्‍मा या लेंस आंखों पर लगा लेते हैं तो उल्‍टी या चक्‍कर जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं, इन्‍हें नजरअंदाज न करें। 

4. धुंधला नजर आना (Blur vision)

blur vision

(image source:dishaeye)

अगर आपको नया चश्‍मा बनवाने के बाद भी धुंधला नजर आता है तो मतलब आपका चश्‍मा ठीक नहीं है, आपको उसे बदलवाने की जरूरत है, आपको दुकान पर आई टेस्‍ट करवाने के बजाय डॉक्‍टर से आंखों का चेकअप करवाना चाह‍िए ताक‍ि आपको इस बात की पुष्‍टी हो सके क‍ि आंखों में किसी तरह की परेशानी तो नहीं है।

5. आंखों पर जोर पड़ना (Eye strain)

हाल में ही नया चश्‍मा बनवाया है तो कुछ द‍िन आपकी आंखों पर जोर पड़ने जैसा अहसास हो सकता है पर ये समस्‍या लंबे समय तक बनी हुई है तो आपको डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहि‍ए, ये गलत आई चेकअप के कारण हो सकता है। लंबे समय पर आंखों पर जोर पड़ने से नंबर बढ़ जाता है इसल‍िए इस समस्‍या को नजरअंदाज न करें।

अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण नजर आता है तो आप तुरंत डॉक्‍टर के पास जाएं और दोबारा चेकअप करवाएं और डॉक्‍टर को अपनी समस्‍या के बारे में व‍िस्‍तार से बताएं। 

(main image source:shopify)

Read more on Miscellaneous in Hindi 

Disclaimer