धूम्रपान करने वालों में तेजी से फैलता है कोरोना, जानें कौन हैं वे लोग जो बन सकते हैं कोरोना के आसान शिकार

तंबाकू उत्पादों को साझा करते वक्त लोगों के बीच वायरस भी प्रसारित हो सकता है। वहीं तंबाकू आपके श्वसन तंत्र को भी कमजोर बनाता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Mar 28, 2020Updated at: Apr 13, 2020
धूम्रपान करने वालों में तेजी से फैलता है कोरोना, जानें कौन हैं वे लोग जो बन सकते हैं कोरोना के आसान शिकार

कोरोनावायरस महामारी के कारण बिस्तर पर हजारों लोगों की मौत हो गई है, तो लाखों लोग संक्रमित हैं। इस तरह पूरी वैश्विक स्वास्थ्य एक बहुत बड़े खतरे की चपेट में आ गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ (WHO) प्रकोप पर नजर रख रहा है और नुकसान को नियंत्रित करने के लिए सभी प्रकार की जानकारी और संसाधन उपलब्ध करा रहा है। विकासशील देशों को भूल जाइए, संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन जैसे विकसित देश भी इस वायरस से लड़ने में असमर्थ हैं, जहां इसने हजारों लोगों की जान ले ली। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन ने लोगों में घबराहट पैदा कर दी है। दूसरी तरफ संक्रमित लोगों के सीधे संपर्क में आने पर कोई भी इस वायरस का शिकार हो सकता है और ये सिलसिला लगातार जारी है। लेकिन हाल ही में, WHO ने कुछ श्रेणियों को सूचीबद्ध किया है जो COVID 19 के उच्चतम जोखिम में हैं। यानी ये लोग कोविड-19 के आासनी से शिकार हो सकते हैं।

insidecoronavirus

डब्ल्यूएचओ के इंस्टाग्राम पोस्ट के अनुसार, किसी को गंभीर रूप से बीमार होने के जोखिम के साथ कोरोनोवायरस हो सकता है, जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से बीमार थे या अभी हों। साथ ही ऐले लोग जिनके पास पहले से मौजूद चिकित्सा स्थिति या पुरानी सांस की समस्याओं जैसे कि

  • - हृदय रोग
  • -कैंसर
  • -डायबिटीज
  • - ब्लड प्रेशर आदि।

बूढें लोगो को है ज्यादा खतरा

मूल रूप से, यह एक ऑटोइम्यून बीमारी है, जो काफी हद तक कमजोर प्रतिरक्षा वाले लोगों को ही प्रभावित करती है। किसी भी गंभीर बीमारी के होने से मानव शरीर कमजोर हो जाता है जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली बुरी तरह प्रभावित होती है। चूंकि आप प्रतिरक्षा के मामले में पर्याप्त तौर पर स्वस्थ नहीं हैं, तो आप इस वायरस के लिए एक आसान लक्ष्य बन जाते हैं। अगर आंकड़ों पर नजर डालें तो कोरोनोवायरस के कारण होने वाली ज्यादातर मौतें बूढ़ें लोगों की हुई है, जिनमें मधुमेह, खराब हृदय स्वास्थ्य, उच्च रक्तचाप इत्यादि से जुड़ी परेशानी पहले से थी।बुजुर्ग लोग नोवेल कोरोनावायरस से आसानी से संक्रमित हो सकते हैं क्योंकि उम्र बढ़ने से मानव शरीर की प्रतिरक्षा प्रभावित होती है जो समय के साथ कमजोर हो जाती है। इसलिए, 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को भी अपना अतिरिक्त ध्यान रखना चाहिए और जब तक यह वायरस पूरी तरह से नष्ट न हो जाए, तब तक उन्हें बंद रखना चाहिए।

insideheartdisease

इसे भी पढ़ें: COVID-19: WHO ने जारी किए 6 खास पेरेंटिंग टिप्स, जानें घर में हर उम्र के बच्चों के साथ पेश आने का सही तरीका

धूम्रपान / तम्बाकू से कोरोनोवायरस संक्रमण की संभावना बढ़ जाती है

आश्चर्य है कि धूम्रपान कोरोनावायरस से कैसे संबंधित है? WHO की एक पोस्ट है, जो धूम्रपान करने वालों पर COVID-19 के जोखिम की व्याख्या करती है। पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है, '' तंबाकू उत्पादों के इस्तेमाल से आपके COVID19 होने की संभावना बढ़ सकती है। ये अपने हाथों को अपने मुंह तक लाना आपके शरीर में वायरस को स्थानांतरित कर सकता है। तंबाकू उत्पादों को साझा करना लोगों के बीच वायरस को प्रसारित कर सकता है। वहीं तंबाकू आपके श्वसन तंत्र को कमजोर बनाता है, जिससे आप कोरोनोवायरस की चपेट में आ जाते हैं।

सिगरेट या तम्बाकू का सेवन करने वाले

इसे ऐसे समझना चाहिए कि सबसे पहले, आप एक विक्रेता (एक बाहरी व्यक्ति) से सिगरेट या तम्बाकू खरीद रहे हैं, जो कम से कम सैकड़ों लोगों से संपर्क करते हैं। एक कोरोनोवायरस-पॉजिटिव व्यक्ति की कल्पना करें जो विक्रेता के संपर्क में आया और उन्होंने सिगरेट का आदान-प्रदान किया। तकनीकी रूप से, विक्रेता उस व्यक्ति की चपेट में आकर संक्रमण का शिकार हो गया और फिर ये चेन आगे बढ़ता चल गया। इस तरह ये कोरोनोवायरस श्रृंखला का सिद्धांत है।

insidesmoking

इसे भी पढ़ें : घर के बड़ों-बुजुर्गों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए 'सोशल डिस्टेंस' के बारे में कैसे समझाएं? जानें 5 टिप्स

एक दूसरी परिकल्पना में, कल्पना कीजिए कि आपने अपना सामान किसी के साथ साझा किया है और उस व्यक्ति में यह वायरस है। वायरस संचारित हुआ और धूम्रपान के साथ, यह आपके शरीर में प्रवेश कर गया। यही कारण है कि इन दिनों साझा धूम्रपान या तंबाकू उत्पाद बेहद जोखिम भरा है। इसलिए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना से बचने के आासान उपाय बताएं हैं। 

WHO द्वारा सुरक्षित रहने के आसान टिप्स

  • -बीमार लोगों से दूरी बनाए रखें
  • -अक्सर हाथ धोएं या उन्हें साफ करते रहें।
  • -उचित दवा लें और पूरे समय अपने डॉक्टर के संपर्क में रहें
  • -स्थिति के कम होने तक धूम्रपान और मदिरापान छोड़ दें।
  • -लॉकडाउन के दौरान अपने मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer