नहाते समय कौन से अंग पर पहले डालें पानी, जानें नहाने का सही तरीका

अगर आपको भी नहीं पता कि नहाते समय कौन से अंग पर पहले पानी डालना चाहिए तो यहां जानिए नहाने के सही तरीके के बारे में।

Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: Apr 22, 2021Updated at: Apr 22, 2021
नहाते समय कौन से अंग पर पहले डालें पानी, जानें नहाने का सही तरीका

नहाना ऐसी क्रिया है, जिसके सभी शौकीन हैं। खासकर गर्मियों के मौसम में नहाना (Bathing in Summer) सभी को पसंद है। कुछ लोग काफी देर तक नहाते हैं तो कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो नहाने से जल्दी पल्ला झाड़ लेते हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं जो शरीर के अंगों पर जल्दी पानी डालकर नहा लेते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि हम नहाने के दौरान बहुत सी गलतियां करते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य को भी प्रभावित (Can Affect Health) कर सकती हैं। अगर नहीं जानते तो आज हम इस लेख के माध्यम से आपको नहाने का सही तरीका बताएंगे। नहाने से शरीर में पल रहे बैक्टीरिया (Bacteria) का सफाया होने के साथ ही शरीर में तरोताजगी और उर्जा का संचार भी होता है। नहाने से व्यक्ति का मन और शरीर दोनों ही हल्के हो जाते हैं। लेकिन शायद आपको यह नहीं पता होगा कि नहाने की शुरूआत कौन से अंग पर पानी डालकर करें। आइये हम आपको बताते हैं कि नहाने के दौरान कौन से अंग पर पहले पानी डालें और कौन से अंग में बाद में। 

bath

कौन से अंग पर पहले डालें पानी (Which Part should be Organed First)

अमूमन लोग नहाते समय सिर पर पानी डालकर नहाने की शुरूआत करते हैं। जो कि बिलकुल गलत तरीका है। इस तरके से नहाने से आपके सिर की नसों को क्षति पहुंचने की अधिक संभावना रहती है। सबसे पहले सिर पर पानी डालने की बजाय आप अपने पैरों पर हल्का पानी डालकर नहाने की शुरूआत करें। ऐसा करने से आपको पानी के तापमान का अंदाजा लग जाएगा। खासतौर पर इस बात का ध्यान रखें कि आप सर्दी के मौसम में सिर पर ठंडा पानी तो नहीं डाल रहे हैं। माना जाता है कि हमारी शरीर में पैर सबसे ठंडा हिस्सा होता है मसतिष्क यानि सिर काफी गर्म होता है। इसलिए ठंडी जगह से नहाने की शुरूआत करनी चाहिए। शरीर का तापमान गिरने से खून का प्रभाव भी कम होने लगता है। इसलिए सिर पर पहले पानी डालना आपके दिमाग को नुकसान भी पहुंचा सकता है। 

इसे भी पढ़ें - पैरों के बीच तकिया लगाकर सोने से स्वास्थ्य को मिलते हैं ये फायदे, जानें कैसे

गर्दन पर पानी डालने से होगा स्ट्रेस कम (Putting Water on Neck Reduces Stress)

गर्दन पर पानी डालने से आपके तनाव का स्तर कम होता है। गर्दन पर पानी डालने से आपका नर्वस सिस्टम सक्रिय रूप से काम करता है। हमेशा गर्दन या बाकी अंगों पर पानी डालने के बाद ही सिर को धोएं। इससे सिर के तापमान और पानी के तापमान में ज्यादा अंतर नहीं होगा। 

गुनगुने पानी से नहाना लाभदायक (Bath With Lukewarm Water) 

गुनगुने पानी से नहाना पुराने समय से ही बेहद फायदेमंद माना गया है। गर्म या गुनगुना पानी कीटाणुओं को मारने में ठंडे या सामान्य पानी की तुलना में ज्यादा सक्षम माना जाता है। हमेशा गुनगुने पानी से नहाना आपको सर्दी, खांसी और जुकाम जैसी समस्या को कोसों दूर रखता है। साथ ही यह आपकी शरीर में डायबिटीज के होने की संभावना को भी कम करता है। गुनगुने पानी से नहाने से आपके जोड़ों के दर्द और गठिया के दर्द में भी काफी राहत मिलती है। वही इंफ्लेमेशन में सुधार होने के साथ ही आपका मेटाबॉलिज्म के स्तर में भी इजाफा होता है। 

इसे भी पढ़ें - एंग्जायटी और ओवर थिंकिंग से हैं परेशान? सोने से पहले जरूर करें मेडिटेशन

ज्यादा नहाने के नुकसान (OverBathing May Harm) 

अगर आप ज्यादा नहाने के शौकीनों में से हैं तो अपनी आदत में परिवर्तन लाएं। ज्यादा नहाना शरीर के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। चाहे वह ठंडे पानी से नहाना हो चाहे गुनगुने पानी से नहाना ही क्यों न हो। एक शोध के बाद यह सामने आया कि लंबे समय तक नहाना या दिन में कई बार नहाना हमारे पाचन तंत्र को प्रभावित करने के साथ ही रोगाणुओं से लड़ने वाली क्षमता को भी कमजोर कर देता है। ज्यादा नहाने से शरीर को संक्रमण से बचाने वाले बैक्टीरिया बह जाते हैं। वहीं ज्यादा समय तक नहाने से हमारी त्वचा भी ड्राई होने लगती है। इसलिए कोशिश करें कि दिन में दो बार से अधिक न नहाएं और 20 मिनट से ज्यादा न नहाएं। 

bathing

किस समय नहाएं (When to Bath)

सुबह के समय नहाना लोगों की आदत बनी हुई है, जोकि एक अच्छी आदत है। लेकिन शाम को भी नहाना उतना ही फायदेमंद माना जाता है। शाम को नहाने से आप दिनभर की थकान से राहत पाते हैं। शाम के समय नहाने से रात में अच्छी नींद भी आती है। माना जाता है कि रात के समय नहाने से शरीर में वात का संतुलन नियंत्रित रहता है। वहीं सुबह नहाने से आप एलर्ट और बिलकुल फ्रेश महसूस करते हैं। सुबह के समय नहाने से आपकी एकाग्रता बनी रहती है। इसलिए सुबह और शाम का नहाना आपके लिए अधिक फायदेमंद माना जाता है। कोशिश करें कि दिन के समय नहाने से बचें। 

नहाना एक बहुत अच्छी क्रिया है, लेकिन यदि नहाने का सही तरीका न पता हो तो नहाना हमारे लिए नुकसानदेह भी साबित हो सकता है। इसलिए इस लेख में दिए गए सुझावों को ध्यान में रखकर नहाएं। इससे आपको कई लाभ होंगे। 

Read more Articles on Body and Mind in Hindi

Disclaimer