पहले से किसी बीमारी की दवा खा रहे हैं तो क्या आपको लगवाना चाहिए कोरोना की वैक्सीन? डॉक्टर से जानें जरूरी बातें

कोव‍िड वैक्‍सीन लगवाने जा रहे हैं पर बीमारी या दवा खाते हैं तो मन में आशंका जाह‍िर, चल‍िए जानते हैं किस कंडीशन में वैक्‍सीन लगवानी है और कब नहीं

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Mar 24, 2021
पहले से किसी बीमारी की दवा खा रहे हैं तो क्या आपको लगवाना चाहिए कोरोना की वैक्सीन? डॉक्टर से जानें जरूरी बातें

दूसरे फेज में कोवि‍ड‍ वैक्‍सीन एडल्‍ट्स को दी जा रही है। इस उम्र में व्‍यक्‍त‍ि थॉयराइड, बीपी, ब्‍लड शुगर जैसी बीमार‍ियों से पीड़‍ित होता है। ऐसे में आपके मन में भी ये सवाल आ रहे होंगे क‍ि दवा या इलाज के साथ क्‍या वैक्‍सीन लेना सेफ है। बहुत से लोग शुगर प‍िल्‍स, स्‍टाट‍िंस, एंटीकोग्‍यूलेंट रोजाना लेते हैं ऐसे में वैक्‍सीन के प्रत‍ि थोड़ी आशंका होना जाह‍िर है। कोव‍िड वैक्‍सीन इंजेक्‍शन के जर‍िए शरीर में इम्‍यून‍िटी बढ़ाने का काम करती है। जो लोग क‍िसी बीमारी से गुजर रहे हैं उन पर इसका असर थोड़ा धीमा हो सकता है। अगर आपको भी वैक्‍सीन लगने वाली है तो वैक्‍सीन लगने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लेकर ये जान लें क‍ि ज‍िस बीमारी के आप श‍िकार हैं उसमें वैक्‍सीन लग सकती है या नहीं और अगर आप रेगुलर दवा खा रहे हैं तो भी वैक्‍सीन लेनी है या नहीं इस बात की पूरी जानकारी लें। ज्‍यादा जानकारी के लि‍ए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

vaccine and medication

क्‍या रेगुलर दवा लेने के साथ कोव‍िड वैक्‍सीन लगवा सकते हैं? (Medication and COVID 19 vaccination)

आप दवाओं के साथ वैक्‍सीन लगवा सकते हैं पर ये इस बात पर न‍िर्भर करता है क‍ि दवा आप क्‍यों ले रहे हैं। अगर आप लंबी बीमारी जैसे थॉयराइड, बीपी आद‍ि के ल‍िए दवा खाते हैं तो आप अपने डॉक्‍टर से सलाह लें, ये लोग आराम से दवा के साथ वैक्‍सीन लगवा सकते हैं। वहीं अगर आपकी सर्जरी हुई है तो आपको कुछ समय रुकना पड़ सकता है। क‍िसी अन्‍य एलर्जी की समस्‍या में भी वैक्‍सीन लगवाना सेफ है। ज‍िन लोगों की उम्र 45 से 60 के बीच है वो बीमार‍ियों के सबसे ज्‍यादा श‍िकार हैं इसल‍िए उन्‍हें महत्‍व देते हुए सबसे पहले वैक्‍सीन दी जा रही है। चल‍िए जानते हैं क‍िस बीमारी या दवा के साथ वैक्‍सीन लेना सेफ है-

1. कैंसर (Cancer)

ज‍िन लोगों को एक्‍ट‍िव कैंसर है और ट्रीटमेंट शुरू कर रहे हैं वो वैक्‍सीन लगवा सकते हैं, जो लोग कीमोथैरेपी ले रहे हैं उन्‍हें वैक्‍सीन लगवाने से पहले एक बार डॉक्‍टर से सलाह लेनी चाह‍िए। कीमो ले रहे कैंसर मरीजों को वैक्‍सीन अपनी थैरेपी के मुताब‍िक लेनी होगी इसल‍िए डॉक्‍टर से संपर्क करें। ज्‍यादातर डॉक्‍टर कीमोथैरेपी के 4 हफ्ते बाद ही वैक्‍सीन लेने की सलाह दे रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें- बॉडी टेम्प्रेचर से कैसे पहचानें कोविड के लक्षण? जानें शरीर के तापमान से जुड़े 7 फैक्ट्स

2. सर्जरी (Surgery)

सर्जरी के मरीज वैक्‍सीन ले सकते हैं पर ज‍िन लोगों की सर्जरी हुई है उन्‍हें भी सर्जरी के तुरंत बाद वैक्‍सीन नहीं लगवानी है। कम से कम ऐसे मरीजों को 2 हफ्ते इंतजार करना चाह‍िए। जि‍न लोगों को हॉर्ट अटैक या लीवर प्रॉब्‍लम हो चुकी है वो भी वैक्‍सीन लगवा सकते हैं पर तुरंत लगवाने के बजाय डॉक्‍टर से वैक्‍सीन लगवाने का सही समय जान लें।  

3. स्‍क‍िन एलर्जी या अस्‍थमा (Skin allergy or asthama)

अगर आपको क‍िसी तरह की एलर्जी है तो भी आप कोव‍िड वैक्‍सीन लगवा सकते हैं। फूड एलर्जी या अस्‍थमा जैसी एलर्जेट‍िक बीमार‍ियों में भी कोवि‍ड वैक्‍सीन लगवाना  सेफ है। केवल ज‍िन लोगों को Anaphylaxis यानी एलर्जिक र‍िएक्‍शन की समस्‍या है उन्‍हें वैक्‍सीन नहीं लेनी है।

इसे भी पढ़ें- पहचानें शरीर के 5 लक्षण जब आपको डॉक्टर दे सकते हैं यूरीन टेस्ट की सलाह, जानें क्यों किया जाता है यूरीन टेस्ट 

4. थॉयराइड (Thyroid)

thyroid medicines

थॉयराइड से मेटाबॉल‍िज्‍म और हॉर्मोनल फंक्‍शन इफेक्‍ट होता है उसका इम्‍यून‍िटी से सीधे कनेक्‍शन नहीं है इसल‍िए थॉयराइड के मरीज दवा लेने के साथ आराम से वैक्‍सीन लगवा सकते हैं। अगर उन्‍हें बुखार या कोव‍िड के लक्षण हैं तो वैक्‍सीन लगवाने से पहले ही डॉक्‍टर को इसकी जानकारी दें। 

5. ब्‍लड प्रेशर या ब्‍लड शुगर (Blood pressure or blood sugar)

कोव‍िड वैक्‍सीन से आपके शरीर में इम्‍यून‍िटी बनती है। उसका असर इस बात पर न‍िर्भर करता है क‍ि आपकी बॉडी कैसे र‍िस्‍पांस कर रही है। इस बात की आशंका है क‍ि अगर आप ब्‍लड प्रेशर या ब्‍लड शुगर के मरीज हैं तो आप पर वैक्‍सीन का असर धीमे हो सकता है। अगर आप वैक्‍सीन लगवा रहे हैं तो जो दवा आप इन बीमार‍ियों के ल‍िए ले रहे हैं उन्‍हें डॉक्‍टर से पूछकर लें। 

कब वैक्‍सीन नहीं लेनी है? (Avoid vaccine in this condition)

  • अगर ब्‍लीड‍िंग ड‍िसऑर्डर या ब्‍लड थ‍िनर लेते हैं 
  • गर्भवती मह‍िलाओं को वैक्‍सीन नहीं लेनी है 
  • इम्‍यून‍िटी को इफेक्‍ट करने वाली दवा के साथ वैक्‍सीन नहीं लेनी है 

आप वैक्‍सीन लगवाने से पहले अपने नजदीकी स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र पर जाकर वैक्‍सीन से जुड़ी सारी जानकारी ले सकते हैं, पूरी तसल्‍ली के बाद वैक्‍सीन लगवाने जाएं।

Read more onMiscellaneous in Hindi

Disclaimer