Doctor Verified

मां बनने की सही उम्र क्या है? 35 के बाद प्रेगनेंसी में कौन सी समस्याएं आती हैं

आधुनिक दौर में महिलाएं करियर, पढ़ाई और नौकरी को ज्यादा महत्व देती हैं। यही कारण है कि महिलाएं बच्चा देरी से कंसीव करना पसंद करती हैं।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jul 07, 2022Updated at: Jul 07, 2022
मां बनने की सही उम्र क्या है? 35 के बाद प्रेगनेंसी में कौन सी समस्याएं आती हैं

एक दौर था जब लड़कियों की कम उम्र में शादी करवा दी जाती थी। शादी हुई और तुरंत बच्चा हो गया। लेकिन आज के दौर में लड़कियां पढ़ाई, नौकरी और करियर को ज्यादा तवज्जो देती हैं। आज हर लड़की चाहती है कि प्रोफेशनल और गृहस्थ जीवन के बीच संतुलन बना रहे। लड़कियों की इन्हीं कोशिशों में फैमिली प्लानिंग की बात आगे बढ़ जाती है। आजकल ज्यादातर लड़कियां 24 से 30 की उम्र में शादी कर रही हैं।  ऐसे में करियर और परिवार के बीच संतुलन बनाते हुए बच्चे की प्लानिंग के लिए अक्सर लड़कियां कंफ्यूज रहती हैं। आखिर मां बनने की सही उम्र क्या है?बदलते दौर में प्रेगनेंसी की सही उम्र क्या है, येलंबी चर्चा का विषय बनकर रह गया है।  लेकिन मेडिकल साइंस की इस पर क्या राय है, इसकी  जानकारी के लिए हमने बातचीत की दरभंगा में अपने निजी क्लीनिक पर प्रैक्टिस कर रहे डॉक्टर प्रफुल कुमार से।

25-30 के बीच की उम्र है बच्चा कंसीव करने के लिए बेस्ट

अमेरिका के यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सस द्वारा किए गए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि ट्वेंटीज यानी 25 से 30 साल की उम्र बच्चा कंसीव करने के लिए सबसे बेस्ट है। अध्ययन में यह बात सामने आई है कि किसी भी महिला में 25 से 30 साल की उम्र में प्रजनन प्रणाली और दूसरे सिस्टम बिल्कुल सही तरीके से काम कर रहे होते हैं। इस उम्र में प्रेगनेंसी शारीरिक समस्याएं कम देती है।

अध्ययन में यह भी कहा गया है कि एक महिला का जन्म 20 लाख अंडों के साथ होता है, लेकिन जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है शरीर में अंडों की संख्या कम हो जाती है। 30 साल के बाद महिलाओं की फर्टिलिटी घटने लगती है, जिसकी वजह से बच्चा कंसीव करने में परेशानी आ सकती है। डॉ. प्रफुल का भी कहना है कि गर्भधारण के लिए 25 से 30 साल की उम्र सही है।

इसे भी पढ़ेंः पीरियड क्रैम्प्स से राहत पाने के लिए Alia Bhatt की ट्रेनर ने शेयर किए 4 बेस्ट योगासन

क्या 30 के बाद प्रेगनेंसी में परेशानी हो सकती है?

इस सवाल का जवाब देते हुए डॉक्टर ने कहा कि 30 से 35 साल की उम्र में गर्भावस्था में वैसे तो किसी तरह की परेशानी नहीं आती है। लेकिन आजकल महिलाओं में पाए जा रहे डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और तनाव का असर गर्भ में पलने वाले बच्चे पर पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि 30 साल की उम्र के बाद मां बनने पर नॉर्मल डिलीवरी कम होती है। वहीं, अगर आप 35 साल के बाद मां बनने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो गर्भ में पलने वाले भ्रूण का विकास नॉर्मल तरीके से नहीं हो पाता है।

इसे भी पढ़ेंः कितने तरह के होते हैं Vaginal Infection?

35 साल में हो सकती हैं समस्याएं

डॉक्टर का कहना है कि 35 साल की उम्र में महिलाओं को हाई या लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है। इसका असर मां और गर्भ में पलने वाले बच्चे के लिए अच्छा नहीं होता है। कुछ मामलों में गर्भपात का खतरा भी रहता है। उन्होंने कहा कि वैसे तो विज्ञान ने काफी तरक्की कर ली है और लोगों के पास आजकल आईवीएफ और सरोगेसी जैसे ऑप्शन हैं, लेकिन इसके 100 प्रतिशत सफल होने की गारंटी नहीं है। इसलिए महिलाओं के लिए प्रेगनेंसी की सही उम्र 25 से 30 साल ही है।

Disclaimer

Tags