Doctor Verified

महिलाओं को पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करना चाहिए या नहीं? जानें एक्सपर्ट की राय

पीर‍ियड्स के दौरान शरीर में हार्मोनल बदलाव होते हैं। आपको इस दौरान कसरत करना चाह‍िए या नहीं? जानने के ल‍िए पढ़ें पूरा लेख

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 06, 2022Updated at: Jul 06, 2022
महिलाओं को पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करना चाहिए या नहीं? जानें एक्सपर्ट की राय

मह‍िलाओं के ल‍िए पीर‍ियड्स का समय मुश्‍क‍िल भरा होता है। इस दौरान हेल्‍दी रूटीन और सही डाइट का महत्‍व बढ़ जाता है। पीर‍ियड्स में मह‍िलाओं के गलत आदत फॉलो करने से उनकी समस्‍या बढ़ सकती है। इंटरनेट पर मह‍िलाएं पीर‍ियड्स से जुड़े कई सवालों के जवाब ढूंढती हैं। ऐसा ही एक सवाल हमें म‍िला- क्‍या मह‍िलाओं को पीरियड्स में एक्सरसाइज करना चाहिए या नहीं? इस लेख में हम इसी सवाल का जवाब डॉक्‍टर से जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।   

exercise during periods  

पीर‍ियड्स में कसरत करें या नहीं?- Exercise During Periods 

डॉ सीमा ने बताया क‍ि आप पीर‍ियड्स में कसरत कर सकती हैं पर इंटेंस वर्कआउट करने से बचें। ज्‍यादा समय के ल‍िए कसरत करने से भी आपको बचना चाह‍िए। कसरत करने से पीरियड्स में होने वाले दर्द से राहत तो म‍िलती है, पर ज्‍यादा कसरत के कारण शरीर में अन्‍य समस्‍याएं हो सकती हैं। ज्‍यादा कसरत करने से ऐंठन की समस्‍या, मसल्‍स में दर्द, थकान, घबराहट महसूस हो सकती है। पीर‍ियड्स में ज्‍यादा एक्‍सरसाइज करने से कमर का दर्द भी बढ़ सकता है इसल‍िए इस दौरान हल्‍की कसरत को ही चुनें। पीर‍ियड्स के दौरान हार्मोन में बदलाव के कारण मह‍िलाओं को कमजोरी महसूस होती है। ज्‍यादा कसरत करने से ये बढ़ सकती है।   

इसे भी पढ़ें- अनियमित पीरियड्स (Irregular Periods) की समस्या दूर करने के लिए अपनाएं ये 5 अच्छी आदतें

पीर‍ियड्स में कसरत करने के फायदे- Exercise Benefits During Periods

  • पीर‍ियड्स के दौरान कसरत करने से सुस्‍ती दूर होती है।
  • प‍ीर‍ियड्स के दौरान मूड स्‍व‍िंंग होता है, ज‍िसे दूर करने के ल‍िए कसरत फायदेमंद है। 
  • पीर‍ियड्स में स्‍तन में सूजन महसूस होती है, कसरत करने से ये समस्‍या भी दूर होती है।
  • कई मह‍िलाओं को पीर‍ियड्स में कम भूख  लगने या ज्‍यादा भूख लगने की समस्या होती है, वे भी कसरत से ईट‍िंग ड‍िसऑर्डर से बच सकती हैं। 
  • तनाव या च‍िड़च‍िड़ापन भी पीर‍ियड्स में महसूस हो सकता है, ज‍िसे दूर करने के ल‍िए कसरत करना फायदेमंद है।  

पीर‍ियड्स में ज्‍यादा कसरत न करें- Overexercising During Periods

पीर‍ियड्स में ज्‍यादा थकान आपके ल‍िए अच्‍छी नहीं है। आप पीर‍ियड्स के दौरान द‍िन में 30 से 40 म‍िनट कसरत कर सकते हैं। इससे ज्‍यादा समय देने से पेट दर्द, कमर में दर्द आद‍ि समस्‍याएं बढ़ सकती हैं। आपको अपनी क्षमता से ज्‍यादा कसरत करने से बचना चाह‍िए। पीर‍ियड्स में ज्‍यादा दर्द हो रहा है, तो आप उस द‍िन की कसरत को स्‍क‍िप भी कर सकती हैं।           

क्‍या पीर‍ियड्स में इंटेंस वर्कआउट कर सकते हैं? 

डॉ सीमा ने बताया क‍ि पीर‍ियड्स के दौरान हल्‍की कसरत करने की सलाह दी जाती है। एब्‍स या स्क्वाट को आप पीर‍ियड्स के शुरुआती समय में न करें। पीरियड्स में ऐंठन की समस्‍या होती है इसल‍िए इंटेंस वर्कआउट करने के ल‍िए मना क‍िया जाता है। आप पीर‍ियड्स के दौरान हैवी वेट वर्कआउट करने से भी बचें। 

ऐसा करने से बचें 

  • पीर‍ियड्स के दौरान खाली पेट कसरत करने से बचें।
  • खाने के तुरंत बाद कसरत करने से बचें, एक घंटे बाद कसरत कर सकती हैं।  
  • पीर‍ियड्स के दौरान ज्‍यादा टाइट कपड़ों में कसरत न करें।
  • कसरत के दौरान बॉडी को ज्‍यादा स्‍ट्रेच न करें।  
  • सीढ़ी पर कसरत या चढ़ाई करने से भी इस दौरान बचना चाह‍िए। 

पीर‍ियड्स में हल्‍की एक्‍सरसाइज ही करने की सलाह दी जाती है। आप इस दौरान वॉक करें, योग करें और ब्र‍िस्‍क वॉक‍िंंग भी कर सकती हैं। पीर‍ियड्स में एक्‍सरसाइज करने से पहले क‍िसी डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें। 

Disclaimer