मुंह के साथ गले में भी हो जाते हैं छाले? हो सकता है इस गंभीर संक्रमण का संकेत

स्ट्रेप थ्रोट इंफेक्शन गले एक संक्रमण है, जो गले और टॉन्सिल को प्रभावित करता है। वहीं आप इसका घर में भी इलाज कर सकते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 03, 2020
मुंह के साथ गले में भी हो जाते हैं छाले? हो सकता है इस गंभीर संक्रमण का संकेत

माउथ अल्सर यानी मुंह के छाले अक्सर लोगों बहुत परेशान करती है पर इससे भी ज्यादा दर्दनाक होता है मुंह और गले में लाल बड़े-बड़े दानों या धब्बों का हो जाना। सामान्य कारणों में खाद्य पदार्थों, डेन्चर या मुंह या गले के संक्रमण के कारण ये मुंह के अंदर बड़े दाने होते हैं। इसे स्ट्रेप थ्रोट इंफेक्शन (Strep throat infection) भी कहा जाता है। स्ट्रेप गले का संक्रमण हैं पर वहीं माउथ अल्सर और इसके बीच में काफी बारीक सा फर्क होता है, जैसे कि माउथ अल्सर में होंठ के अंदर या जीभ के भीतर दाने होते हैं, पर जब ये माउछ इंफेक्शन बढ़ जाता है, तो ये गले तक पहुंच जाता है। इस वजह से ये गले में टोंसिल और दर्द का भी कारण बन सकता है। आइए विस्तार से जानते हैं क्या है ये और इससे बचने के घरेलु नूस्खें क्या-क्या हैं?

insidemouthulcers

क्या है स्ट्रेप थ्रोट इंफेक्शन (Strep throat Infection)? 

स्ट्रेप गले एक संक्रमण है, जो गले और टॉन्सिल को प्रभावित करता है। स्ट्रेप्टोकोकस नामक बैक्टीरिया के कारण ये संक्रमण होता है। इसमें छोटे, लाल धब्बे मुंह की तालुओं में हो जाता है, जिसे पेटीचिया कहा जाता है। वहीं स्ट्रेप थ्रोट इंफेक्शन (Strep throat infection) के लक्षणों की बात करें, तो इसमें व्यक्ति को

  • -बुखार
  • -निगलते समय गले में दर्द
  • -खाने में परेशानी
  • -लाल और सूजी हुई टॉन्सिल
  • -गर्दन में सूजन लिम्फ नोड्स
  • -स्वाद की कमी
  • -बोलने में परेशानी

इसे भी पढ़ें : मुंह के छालों को चुटकियों में दूर करता है ये पत्‍ता

स्ट्रेप थ्रोट इंफेक्शन के लिए घरेलु नूस्खे

ठंडा पानी

मुंह की अंदर के छालों को ठीक करने के लिए ठंडे पानी को बेदद कारगार उपाय के रूप में माना जाता है। अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी की सलाह है कि अगर किसी को भी इस तरह की परेशानी हो तो उन्हें सबसे पहले अपने मुंह में 10 मिनट के लिए ठंडा पानी भर के रखना चाहिए। वहीं जब ये पानी ठंडा न रहे, तो इसे बाहर थूक दें और इसे ठंडे पानी से बदल दें। बर्फ के क्यूब्स का भी आप इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं बर्फ के क्यूब को चूसने की बजाय, एक गिलास पानी में कुछ बर्फ डालकर मुंह में कुल्ला करें।

insidehomeremediesfoemouthulcer

दही या दूध

दही खाने या एक गिलास ठंडा दूध पीने से मुंह की जलन को कम करने में मदद मिल सकती है। दही और दूध त्वचा को कोट करते हैं और एक अस्थायी बाधा प्रदान करते हैं। यह जलन को रोक सकता है और घाव को ठीक करता है और खुजली को शांत करता है। एक स्वस्थ आहार भी उपचार में मदद कर सकता है। इसमें डेयरी उत्पाद, प्रोटीन के साथ, साबुत अनाज, और बहुत सारे फल और सब्जियां शामिल हो सकती हैं। वहीं बहुत सारे तरल पदार्थ पीने से शरीर हाइड्रेटेड रहेगा और हीलिंग का समर्थन करेगा।

इसे भी पढ़ें : दांतों के लिए नुकसानदायक है कैविटी, सड़न बनती है बड़ी वजह

एलोवेरा

त्वचा को शांत करने के लिए एलोवेरा जेल का उपयोग अक्सर बाहरी जलन पर किया जाता है। यह सूजन और बेचैनी को कम करने में मदद कर सकता है।जब मुंह में जलन के लिए एलोवेरा जेल लगाते हैं, तो इसे पूरे मुंह में लगा लें।

शहद

शहद मुंह में ऐसे दानों को कम करने में बहुत मदद कर सकता है। शहद से पूरे मुंह में लेप लगा दें नम रहता है, जो उपचार में मदद कर सकता है।कुछ शोध बताते हैं कि शहद में रोगाणुरोधी गुण होते हैं। इसका मतलब है कि यह हानिकारक जीवों को मार सकता है या उनकी वृद्धि को धीमा कर सकता है, जिससे संक्रमण को रोका जा सकता है और उपचार प्रक्रिया को गति दी जा सकती है।

Read more articles on Other-Diseases in Hindi

Disclaimer