सुनने में होती है परेशानी? आयुर्वेदाचार्य से जानें समस्या को दूर करने के लिए 9 घरेलू उपचार

सुनने की क्षमता को बढाने और बेहरापन की समस्या को दूर करने के लिए आप यहां दिए घरेलू उपायों को अपना सकते हैं। जानते हैं आयुर्वेदाचार्य से... 

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Feb 04, 2021Updated at: Feb 04, 2021
सुनने में होती है परेशानी? आयुर्वेदाचार्य से जानें समस्या को दूर करने के लिए 9 घरेलू उपचार

हमारे आसपास के लोगों को बेहतर तरीके से समझने के लिए सुनना बेहद जरूरी है। ऐसे में अगर हम सुनने की क्षमता को खो दें तो जीवन काफी तरीके से प्रभावित हो जाता है। लेकिन सुनने की क्षमता का कम हो जाना अब आम समस्या बनती जा रही है। वही जो लोग पूरी तरह से बहरेपन की समस्या से पीड़ित हैं उन्हें भी जरूरत है बेहतर इलाज की। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपचारों के बारे में बताएंगे, जिनके माध्यम से आप अपने सुनने की समस्या को दूर कर सकते हैं। पढ़ते हैं आगे...

 

1 - दालचीनी और शहद है फायदेमंद

सुनने की क्षमता को बढ़ाने में दालचीनी और शहद आपके बेहद काम आ सकता है। इसके लिए आपको एक गिलास पानी में एक चम्मच शहद और एक चम्मच दालचीनी को मिलाना होगा और रोज सुबह इसका सेवन करना होगा। दालचीनी के तेल का प्रयोग भी कानों के लिए बेहतरीन हैं। ऐसे में आप रात को सोने से पहले कान में दालचीनी के तेल की बूंद डालें। आराम मिलेगा।

2 - टी ट्री ऑयल है जरूरी

अगर आपको कम सुनाई देता है तो टी ट्री ऑयल भी बेहद उपयोगी है। इसकी मालिश से ना केवल रक्त परिसंचरण बेहतर होता है बल्कि अगर आप रोज अपने कानों में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदे डालते हैं तो सुनने की समस्या भी दूर हो जाती है।

3 - सेब का सिरका आएगा काम

बता दें कि सेब के सिरके के अंदर मैग्नीशियम जिंक आदि पोषक तत्व मौजूद होते हैं। ऐसे में यह कानों की मांसपेशियों में सुधार और सुनाई देने की क्षमता को बढ़ाता है। इसके सेवन के लिए आप एक गिलास पानी में शहद और एक बड़ा चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और प्रतिदिन सेवन करें। आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें : इन 4 आसान तरीकों से करें बेडसोर (दबाव अल्सर) का इलाज, जानें क्या है तरीका

4 - सरसों का तेल है फायदेमंद

सरसों के तेल से भी कम सुनने की समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप शहद और सरसों के तेल को मिलाएं और इसकी बूंदों को कान में दिन में दो से तीन बार डालें। ऐसा करने से सुनने की क्षमता में सुधार होगा।

5 - अदरक से बड़े सुनने की क्षमता

रसोई में पाए जाने वाली अदरक को अनेकों समस्याओं के उपचार के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। यह ना केवल खाने का स्वाद बढ़ाती है बल्कि आपको बता दें कि यह सुनने की समस्या और बहरेपन के उपचार में भी बेहद फायदेमंद है। इसके सेवन के लिए आपको एक गिलास पानी में अदरक को 5 मिनट तक उबालना होगा और उससे बनी चाय का सेवन करना होगा। इसके अलावा आप अदरक के रस में शहद को मिलाकर भी कान में डाल सकते हैं।

6 - एक्यूप्रेशर है अच्छा इलाज

बता दें कि एक्यूप्रेशर के माध्यम से भी सुनने की क्षमता को बढ़ाया जा सकता है। कानों के ऊपरी भाग को दो उंगलियों के सहारे धीरे धीरे मोड़ें और ऐसा कम से कम 50 बार करें। ऐसा करने से सुनने की क्षमता बढ़ती है क्योंकि गुर्दे और कान के बीच एक लिंक होता है इससे उस पर प्रभाव पड़ता है।

इसे भी पढ़ें : इमली ही नहीं बल्कि इसके बीज भी हैं शरीर के लिए फायदेमंद, जानें इमली के बीज के 8 फायदे और इस्तेमाल का तरीका

7 - नीम के तेल से अच्छा सुनाई देगा

बता दें कि नीम के तेल से भी कानों की सुनने की क्षमता को सुधारा आ सकता है। ऐसे में आपको नीम के तेल को अपने कान में ड्रॉप के रूप में डालनी है। इसके लिए आप पत्तों का उपयोग भी कर सकते हैं। पत्तों को 10 मिनट तक पानी में उबालें और कान धोने के लिए इस्तेमाल करें।

8 - अश्वगंधा है सही विकल्प

बता दें कि सुनने की समस्या में अश्वगंधा भी एक अच्छा विकल्प है। अश्वगंधा न केवल हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार लाता है बल्कि अगर आप अश्वगंधा का पाउडर गरम पानी और दूध के साथ लेते हैं तो इससे सुनने की क्षमता भी बढ़ती है।

9 - प्याज के प्रयोग से सुनने की क्षमता है अच्छी

प्याज के अंदर एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो सुनने की क्षमता को बढ़ाते हैं। इसके ऊपर कई शोध भी सामने आए हैं जो इस बात का प्रमाण है कि प्याज सुनने की क्षमता के लिए एक अच्छा विकल्प है। ऐसे में आप गर्म प्याज का उपयोग भी कर सकते हैं। आप प्याज को 15 मिनट तक गर्म करें और 5 मिनट के लिए उसे कानों पर रखिए, इससे सुनने की क्षमता बढ़ती है।

ये लेख महर्षि आयुर्वेद के चिकित्सा अधीक्षक, डॉक्टर सौरभ शर्मा द्वारा दिए गए इनपुट्स पर बनाया गया है।

Read more articles on Home Remedies in Hindi

Disclaimer