महिलाओं के लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकती है वेटलिफ्टिंग, हॉर्मोन्स को भी संतुलित करने में मिलती है मदद

अगर आप भी अपने आपको फिट रखना चाहती हैं तो वेटलिफ्टिंग जरूर करें, इसको करने से आपको कई तरह के फायदे हो सकते हैं। 

Vishal Singh
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Vishal SinghPublished at: Dec 23, 2019
महिलाओं के लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकती है वेटलिफ्टिंग, हॉर्मोन्स को भी संतुलित करने में मिलती है मदद

क्या आप भी कम समय में ज्यादा स्वस्थ रहना चाहते हैं? अगर आप भी ऐसा चाहते हैं तो ऐसा सोचने वाले आप अकेले इंसान नहीं हैं। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका यही हो सकता है कि आप अपने लिए एक फिटनेस ट्रेनर का साथ लें। आपका ट्रेनर आपको फिट रखने में पूरा ध्यान देगा और आपको कम समय में ज्यादा स्वस्थ रख सकेगा। 

कई महिलाएं सोचती हैं कि वो फिट कैसे रहे या फिर फिट रहने के लिए समय कैसे निकालें। फिट रहने के लिए आपको ज्यादा समय निकालने की जरूरत नहीं है। आप बस अपने आपको फिट रखने के लिए कुछ तरीके जान लें जिससे आपका वजन कम रह सकेगा साथ ही आपको फिट रहने में भी मदद मिलेगी। हम आपको इस लेख के जरिए कुछ ऐसे तरीके बताएंगे जिनसे महिलाएं अपने आपको फिट रखने में कामयाब हो सकती है। 

weight

वेटलिफ्टिंग के फायदे 

बहुत सी महिलाएं सोचती हैं कि वजन को कम करना सिर्फ पुरुषों का ही काम है और पुरुष ही इसे कर सकते हैं। लेकिन ऐसा मानना महिलाओं का गलत है। वजन कम करने के तरीकों को अपनाने के लिए न ही सिर्फ वो वजन कम करर सकेंगी साथ ही इससे उनका स्वास्थ्य भी हमेशा ठीक रहेगा। इसके अलावा वो अपने शरीर से फैट को भी कम करने में मदद मिलगी। 

वजन कम होता है 

कई महिलाएं वजन कम करने के लिए कार्डियो एक्सरसाइज करने में ध्यान लगाती हैं। लेकिन उससे भी ज्यादा बेहतर वेट ट्रेनिंग है जो ज्यादा असरदार और कम समय में शरीर पर असर करती है। जबकि कार्डियो एक्सरसाइज सिर्फ कैलोरी को बर्न करने का काम करती है। वहीं, वेट ट्रेनिंग कैलोरी को भी बर्न करेगी और साथ ही मसल्स टिश्यू को भी बनाती है जो कि मेटाबॉलिक के रेट को बढ़ाने का काम करते है। 

weight

इसे भी पढ़ें: एक्सरसाइज के लिए सोचते हैं पर मोटिवेशन नहीं मिलता, तो आजमाएं 'ग्रुप फिटनेस' का आइडिया

अपने शरीर को लेकर भरोसा बढ़ता है

वेट ट्रेनिंग(Weight Training) के साथ एक्सरसाइज करना महिलाओं के लिए एक अच्छा तरीका है कि उनके शरीर का भरोसा बढ़ता है। जब आपको लगे की आप फिट हो गए हैं, दिखने में अच्छे हो गए हैं और आपको अपने कपड़े फिट आने लगे है तो ये एक सकारात्मक असर होगा जो आपको रोजाना महसूस करते हो। 

हड्डियों को भी करती है मजबूत 

महिलाओं में उम्र के साथ-साथ हड्डियों में बीमारियों का खतरा बढ़ता है। अध्ययन भी इस बात को दिखाते हैं कि वेट ट्रेनिंग हड्डियों में कमजोरी औऱ बीमारियों को कम करने में मददगार है। 

weight

हॉर्मोन्स को बैलेंस करती है वेट ट्रेनिंग 

वेट ट्रेनिंग(Weight Training) महिलाओं के हॉर्मोन्स के लिए बहुत ही बेहतर होती है। पहली चीज वेट लिफ्टिंग शरीर में इंसुलिन लेवल को भी बढ़ाने का काम करती है। इसके साथ ही ये आपके शरीर में कोर्टिसोल लेवल को भी सर्क्युलेट करने का काम करती है और आपके शरीर में टिश्यू को भी स्वस्थ रखती है। 

इसे भी पढ़ें: वजन कम करना है, तो जिम में इन 5 व्यायामों पर न करें समय बर्बाद

जो लोग ब्लड शुगर लेवल के मैनेजमेंट से परेशान है जैसे डायबिटिज से पीड़ित लोग उनके लिए वेट लिफ्टिंग बहुत ही फायदेमंद है। बहुत सी महिलाएं PCOS(पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम) से गुजर रही है और इंसुलिन लेवन भी सही से काम नहीं कर रहे तो इसका कारण है कि आपके शरीर में हॉर्मोन्स संतुलित नहीं है। 

Read More Articles on Women's Health in Hindi

Disclaimer