इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर आपको जवान बनाये रखने तक, जानें विटामिन C के सभी फायदे, कुछ नुकसान और बेहतरीन स्रोत

सर्दियों में विटामिन सी को सही मात्रा में लेना आपको सर्दी-जुकाम से बचाए रखता है। साथ ही विटामिन सी के कई और फायदे और नुकसान भी हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Nov 30, 2020
इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर आपको जवान बनाये रखने तक, जानें विटामिन C के सभी फायदे, कुछ नुकसान और बेहतरीन स्रोत

विटामिन-सी (Vitamin-C) शरीर के लिए जरूरी कुछ खास विटामिन्स में से एक है। विटामिन सी की कमी आपके दांत, आपकी हड्डियां और आपकी त्वचा को खराब कर सकती है। इसके अलावा शरीर में इसकी कमी के कारण कई और नुकसान भी होते हैं। इसलिए जरूरी है कि आप विटामिन सी के बारे में जानें और स्वास्थ्य के लिए इसकी जरूरत को समझें। विटामिन सी के जुड़ी इन्हीं तमाम छोटे-बड़ी बातों (Vitamin C: Health Benefits and Side Effects) को जानने के लिए हमने आहार विशेषज्ञ, डाइटिशियन शीला सहरावत ( हेड डाययटिशन डाइयट क्लिनिक) से बात की। तो, आइए जानते हैं क्या है विटामिन सी और इसके तमाम फायदे और नुकसान।

insidecoldcough

क्या है विटामिन सी (what is vitamin c in hindi)?

विटामिन सी  (Vitamin-C)  एल-एस्कॉर्बिक एसिड  (L-ascorbic acid)के रूप में भी जाना जाता है, जो कि एक पानी में घुलनशील विटामिन है और कई खाद्य पदार्थों में मौजूद होता है। ये शरीर में कोलेजन, एल-कार्निटाइन (carnitine)और कुछ न्यूरोट्रांसमीटर के विकास और काम को बेहतर बनाने में मदद करता है। जैसे

  • -विटामिन सी प्रोटीन चयापचय (Protein Metabolism) में मदद करता है।
  • -ये कोलेजन बनाने में मदद करता है और शरीर की तमाम टिशूज को हेल्दी रखता है।
  • -विटामिन सी एक एंटीऑक्सीडेंट का काम भी करता है, जो कि फाइन रेडिकल्स के हानिकारक प्रभावों से शरीर को बचाता है।
  • -इस ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है और इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है।

इसे भी पढ़ें : विटामिन-बी 3 गैर-मेलेनोमा त्वचा के कैंसर को रोकने में मददगार है, अध्ययन में हुआ खुलासा

 विटामिन सी की कमी (deficiency of vitamin c)

 विटामिन सी मानव शरीर के सामान्य कामकाज के लिए जरूरी है। इसकी कमी से स्कर्वी (scurvy disease in hindi) नामक रोग हो सकता है, जिसमें 

  • -शरीर में थकान
  • - मासंपेशियों की कमजोरी
  • - जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द
  • -मसूढ़ों से खून आना 
  • -नाक से खून आना
  • -टांगों में चकत्ते पड़ने जैसी परेशानियां होती हैं।
insidefunctionofvitaminc

इन सबके अलावा विटामिन सी की कमी से शरीर छोटी छोटी बीमारियों से लड़ने की ताकत भी खो देता है, जिसका नतीजा बीमारियों के रूप में सामने आता है। जैसे कि

  • - विटामिन-सी की कमी से आपको दिल से जुड़ी बीमारियां (Heart Diseases)हो सकती हैं। ऐसा इसलिए कि विटामिन-सी नसों और कोशिकाओं को सपोर्ट करता है और ब्लड को प्यूरीफाई करता है और शरीर को डिटॉक्स करता है। 
  • - विटामिन-सी की कमी से इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है, जिससे आपको सर्दी-जुकाम, बुखार और कोई भी मौसमी इंफेक्शन आसानी से पकड़ सकता है।
  • -विटामिन-सी की कमी आपकी हड्डियों को कमजोर करता है और गठिया जैसी बीमारियों का कारण बन सकता है।

विटामिन सी की कमी में क्या खाना चाहिए (vitamin c rich foods in hindi)

फल और सब्जियां विटामिन सी (Food Sources of Vitamin C)का सबसे अच्छा स्रोत हैं। हालांकि अनाज में विटामिन सी स्वाभाविक रूप से मौजूद नहीं होता है पर नाश्ते के रूप में आप विटामिन सी से भरपूर इन खाद्य पदार्थों को खा सकते हैं।

  • -लाल मिर्च
  • -हरी मिर्च
  • -ब्रोकली
  • -टमाटर 
  • -फूलगोभी
  • -पालक
  • -सरसों का साग
  • -हरी मटर
  • -आंवला
  • -नींबू 
  • -अमरूद
  • -लीची
  • -पपीता
  • -नारंगी
  • -संतरे का जूस
  • - अंगूर और अंगूर का रस
  • -कीवी फ्रूट
  • -स्ट्रॉबेरी
insidehowmuchvitaminc

एक बात ध्यान में रखें कि विटामिन सी सामग्री को लंबे समय तक स्टोर करके खाने से आपको पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी नहीं मिल पाएगा। ऐसा इसलिए कि विटामिन सी में मिलने वाला एस्कॉर्बिक एसिड पानी में घुलनशील होता है और अधिक तापमान से नष्ट हो जाता है। इसके अलावा स्टीम या माइक्रोवेविंग से खाना पकाने से भी विटामिन सी का नुकसान हो जाता है। इसलिए विटामिन सी से भरपूर फल और सब्जियों के सेवन का सही तरीका ये है कि आप इसे कच्चा, हाफ फ्राई करके, सलाद, जूस और स्मूदी के रूप में लें। 

इसे भी पढ़ें : Winter Sleep: इन 5 कारणों से लोगों को सर्दियों में ज्यादा आती है नींद, जानें सर्दी में भी जल्दी उठने का उपाय

विटामिन सी के फायदे (Vitamin C Benefits)

1.दिल से जुड़ी बीमारियों में कमी लाता है

दिल की बीमारी दुनिया भर में मौत का प्रमुख कारण है। इसके कुछ प्रमुख कारकों की बात करें, तो उच्च रक्तचाप, उच्च ट्राइग्लिसराइड या एलडीएल  (खराब कोलेस्ट्रॉल) के स्तर और एचडीएल (अच्छे) कोलेस्ट्रॉल के निम्न स्तर  हृदय रोग के जोखिम को बढ़ाते हैं। विटामिन सी इन सभी जोखिम कारकों को कम करने में मदद कर सकता है, जिससे हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। साथ ही कई शोध बताते हैं कि प्रतिदिन कम से कम 500 मिलीग्राम विटामिन सी लेने या सेवन करने से हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है। हालांकि, अगर आप पहले से ही विटामिन-सी से भरपूर आहार का सेवन करते हैं, तो सप्लीमेंट अतिरिक्त हृदय स्वास्थ्य प्रदान नहीं करते हैं, बल्कि नुकसानदेह हो सकते हैं। 

2.इम्युनिटी बढ़ाता है

विटामिन सी इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए बहुत जरूरी है। दरअसल, विटामिन सी ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में एक भूमिका निभाता है। ये फाइन रेडिकल्स के कारण शरीर को होने वाले नुकसान को रोकता है और टिशूज और ब्लड सेल्स को स्वस्थ रखता है। जैसे कि

  • - विटामिन C लिम्फोसाइट्स और फागोसाइट्स के रूप में जानी जाने वाली सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को प्रोत्साहित करने में मदद करता है, जो संक्रमण के खिलाफ शरीर की रक्षा करने में मदद करते हैं।
  • -विटामिन सी इन सफेद रक्त कोशिकाओं को अधिक प्रभावी रूप से काम करने में मदद करता है और मुक्त कणों (फाइन रेडिकल्स) द्वारा होने वाले नुकसान से बचाता है।
  • -विटामिन सी त्वचा की रक्षा प्रणाली का एक अनिवार्य हिस्सा है। यह सक्रिय रूप से त्वचा तक पहुंचता है, जहां यह एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य कर सकता है और त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करता है।इस तरीके से ये इम्युनिटी बढ़ाकर शरीर को मौसमी इंफेक्शन से बचाते हैं।
insidevitamincfoods

3.यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है और गाउट हेल्थ के लिए फायदेमंद 

यूरिक एसिड शरीर द्वारा उत्पादित एक अपशिष्ट उत्पाद है, जो जोड़ों में जमा हो जाते हैं और हड्डियों से जुड़ी परेशानियां पैदा करते हैं। जिन लोगों को यूरिक एसिड के बढ़ने से परेशानी होती है, उनके लिए विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों को खाना बहुत फायदेमंद है। दरअसल, ये ब्लड में यूरिक एसिड के स्तर को कम कर सकता है और गाउट से जुड़ी परेशानियों को कम करता है। बता दें कि गाउट एक प्रकार का गठिया है जो लगभग 4% वयस्कों को प्रभावित करता है। इसमें व्यक्ति को जोड़ों में सूजन और खासकर बड़े पैर की उंगलियों से सूजन और दर्द का अनुभव होता है। जब रक्त में बहुत अधिक यूरिक एसिड होता है, तो गाउट के लक्षण दिखाई देते हैं। तो विटामिन सी खाएं और यूरिक एसिड के स्तर को कम रखें।

4.एक्टिव रखता है

अपने बायोसिंथेटिक और एंटीऑक्सिडेंट गुणों से विटामिन सी आपको एक्टिव रख सकता है। ये थकान या आलस्य और कमजोरी को दूर करता है। इसके अलावा विटामिन सी के कम स्तर को मेमोरी और सोच विकारों के बढ़ते जोखिम से जोड़ा गया है, जिनमें डिमेंशिया और अल्जाइमर शामिल हैं। तो अपने मानसिक स्वास्थ्य को सही रखने के लिए विटामिन सी का सेवन करें। साथ ही विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों को खाना आपके अच्छे मूड को बूस्ट कर सकता है और अवसाद से बचाए रखता है।

5. अच्छे स्किन के लिए

अगर आप चाहते हैं कि आप हमेशा जवां और खूबसूरत दिखें, तो आपको विटामिन सी का भरपूर सेवन करना चाहिए। ऐसा इसलिए कि विटामिन-सी के सेवन से त्वचा को कोलेजन मिलता है, जो कि एजिंग के लक्षणों को कम कर सकता है। ये  टिशूज को अंदर से स्वस्थ रख कर, चेहरे में चमक लाता है। इसके अलावा ये किसी भी घाव को ठीक करने और उसे निशानों को गायब करने में मदद करता है। तो, अगर आपके चेहरे पर ज्यादा दाग-धब्बे हैं, तो भी आपको विटामिन सी का सेवन करना चाहिए।

विटामिन-सी के नुकसान (Vitamin C Side effects)

विटामिन सी को अगर आप प्रति दिन 1,000mg से ज्यादा लेंगे, तो आपको पेट से जुड़ी परेशानियां हो सकती हैं। जैसे कि पेट दर्द और दस्त। इसके अलावा हाई विटामिन सी इंटेक अतिरिक्त आयरन के अवशोषण का कारण बनता है, जिससे आपके टिशूज को नुकान हो सकता है। हालांकि विटामिन सी सप्लीमेंट लेना बंद करने के बाद ये सारे लक्षण गायब हो जाते हैं।

insidesideeffectsofvitaminc

इन सबके अलावा विटामिन सी को लेकर एक खास बात ये भी कही जाती है कि शरीर को रिकवरी के लिए हमेशा विटामिन सी की जरूरत रहती है। इसलिए विटामिन को खाने में शामिल करें और इनके इन तमाम स्वास्थ्य लाभों का फायदा उठाएं।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer