पेट के अल्सर (आंत के छाले) से राहत पाने के लिए खाएं 7 सब्जियां, एक्सपर्ट से जानें फायदे

यदि आप पेट के अल्सर से परेशान हैं तो डाइट में कुछ सब्जियों को जोड़कर आप इस परेशानी से राहत पा सकते हैं। जानते हैं इनके बारे में...

Garima Garg
Written by: Garima GargUpdated at: Aug 19, 2021 03:38 IST
पेट के अल्सर (आंत के छाले) से राहत पाने के लिए खाएं 7 सब्जियां, एक्सपर्ट से जानें फायदे

अधिकतर लोग पेट की समस्याओं से परेशान रहते हैं। कुछ लोग पेच के दर्द से ग्रस्त होते हैं तो कुछ कब्ज से। ऐसी ही एक समस्या है पेट का अल्सर। इस समस्या के चलते व्यक्ति को काफी मुश्किलों का सामना उठाना पड़ता है। अब सवाल ये है कि ये समस्या क्यों होती है तो बता दें कि जब पेट में मौजूद भोजन पचाने वाले एसिड छोटी आंत को नकारात्मक रूप से प्रभावित करना शुरू कर देते हैं तब यह समस्या होती है। ऐसे में इस समस्या को अगर समय रहते दूर नहीं किया गया तो यह गंभीर रूप भी ले सकती है। इस समस्या से राहत दिलाने में कुछ सब्जियां आपके बेहद काम आ सकती हैं। आज का हमारा लेख उन्हीं सब्जियों पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि कौन सी सब्जियों के सेवन से पेट के अल्सर से राहत मिलती है। इसके लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल ( Nutritionist and wellness expert varun katyal) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

 

1 - मूली का सेवन

पेट के अल्सर से राहत दिलाने में मूली आपके बेहद काम आ सकती है। बता दें कि मूली के अंदर भी एंटीअल्सर गुण मौजूद होते हैं। जो ना केवल गैस्ट्रिक अल्सर के प्रभाव को कम करते हैं बल्कि अगर व्यक्ति नियमित रूप से मूली का सेवन करता है तो वह अल्सर की समस्या से बचाव भी कर सकता है।

2 - गाजर का सेवन

गाजर को डाइट में जोड़ना एक बेहतर विकल्प है। बता दें कि गाजर के अंदर एंटी अल्सर गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में आप गाजर के जूस का सेवन या गाजर के अर्क को अपनी डाइट में शामिल करें। ऐसा करने से गैस्ट्रिक अल्सर से बचाव किया जा सकता है। गाजर के जूस के लिए आप गाजर को अच्छे से धोएं और फिर उसके बीच का सफेद हिस्सा अलग कर लें। अब गाजर के छोटे-छोटे टुकड़े करके पीस लें। अब बने मिश्रण को छानकर सेवन करें। 

इसे भी पढ़ें- अपने खानपान से दूर करें पेप्टिक अल्सर, पाचन संबंधित मामूली गड़बड़ी भी है इसके लक्षणों में शामिल

3 - शिमला मिर्च का सेवन

बता दें  कि अल्सर का मुख्य होता है हेलिकोबैक्टर पाइलोरी (Helicobacter pylori) नामक बैक्टीरिया। ऐसे में शिमला मिर्च इस बेक्टीरिया को पनपने से रोकने के लिए आपके काम आ सकता है। शिमला मिर्च के अंदर पाए जानें वाले एंटी अल्सर गुण इनस समस्या से छुटकारा दिलाने में मददगार हैं। 

4 - पत्ता गोभी का सेवन

पत्ता गोभी के अंदर एंटी पेप्टिक अल्सर गुण मौजूद होते हैं जो न केवल अल्सर के प्रभाव को कम करते हैं। बल्कि पेप्टिक अल्सर को जल्दी ठीक करने में कारगर हैं। ऐसे में आप पत्ता गोभी के जूस का सेवन करें। ऐसा करने से अल्सर की समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- Stomach Ulcer: पेट में अल्सर से हैं परेशान तो इन चीजों का सेवन कर दें तुरंत बंद और खाएं ये चीजें, मिलेगा आराम

5 - ब्रोकली का सेवन

ब्रोकली के सेवन से भी पेट के अल्सर की समस्या से बचा सकता है। बता दें कि ब्रोकली के अंदर सल्फोराफेन (Sulforaphane Chemical compound) पाया जाता है जो हेलिकोबैक्टर पाइलोरी (Helicobacter pylori) बैक्टीरिया को नष्ट करने में उपयोगी साबित हो सकता है।

6 - फूल गोभी का सेवन

फूल गोभी के अंदर एंटीअल्सर गुण मौजूद होते हैं। वहीं फूलगोभी फाइटोकेमिकल से भी समृद्ध है। ऐसे में अगर आप पेप्टिक अल्सर से छुटकारा पाना चाहते हैं तो अपनी डाइट में फूल गोभी को जोड़ें हालांकि फूलगभी का सेवन करते वक्त थोड़ी सी सावधानी बरतने की जरूरत है। ऐसे में डॉक्टर की सलाह के बाद ही फूलगोभी को अपनी डाइट में जोड़ना सही है।

7 - लहसुन का सेवन

बता दें कि पेट के अल्सर से लड़ने में लहसुन का सेवन बेहद फायदेमंद है। इसके अंदर एंटी माइक्रोबियल गुण और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो हेलिकोबैक्टर पाइलोरी (Helicobacter pylori) को बढ़ने से रोकते हैं बल्कि पेट के अल्सर की समस्या को भी दूर करने में उपयोगी हैं।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि पेट के अल्सर को दूर करने में कुछ सब्जियां आपके बेहद काम आ सकती हैं। लेकिन इन सब्जियों को अपनी डाइट में जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। अगर आपको स्पेशल डाइट फॉलो कर रहे हैं तो अपनी डाइट में ऊपर बताई गई सब्जियों को जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

इस लेख में इस्तेमाल की जानें वाली फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Read More Articles on healthy diet in hindi

Disclaimer